1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. gumla coronavirus update boy had come to attend the elder brothers wedding in gumla but corona took her life happiness changed into a sorrow srn

Gumla Corona Update : बड़े भाई की शादी में भाग लेने पहुंचा था गुमला लेकिन कोरोना ने ले ली जान, खुशी का महौल गम में बदला

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बड़े भाई की शादी में भाग लेने गुमला पहुंचे युवक की कोरोना से मौत
बड़े भाई की शादी में भाग लेने गुमला पहुंचे युवक की कोरोना से मौत
File Photo

Gumla Coronavirus News, Jharkhand News गुमला : गुमला शहर के एक युवक की कोरोना संक्रमण से मौत हो गयी. युवक लखनऊ में नौकरी करता था. वह अपने बड़े भाई की शादी समारोह में भाग लेने आया था. युवक की मौत से घर में खुशी का माहौल गम में बदल गया है. सदर अस्पताल गुमला के कोविड आइसीयू आइसोलेशन सेंटर में कोरोना संक्रमित 35 वर्षीय युवक की मौत इलाज के दौरान गुरुवार की रात को हो गयी.

चिकित्सक डॉ राजेश कुमार टोप्पो ने बताया कि उक्त युवक गुरुवार की शाम 3:30 बजे आइसोलेशन सेंटर में भर्ती हुआ था. उसे सांस लेने में दिक्कत थी. उसका इलाज किया जा रहा था. लेकिन देर रात उसकी मौत हो गयी. जानकारी के अनुसार उक्त युवक गुमला शहर का निवासी है. उसकी उम्र 35 वर्ष है.

वह लखनऊ में नौकरी करता था. अपने भाई की शादी के लिए वह तीन दिन पहले गुमला आया था. बुधवार को उसकी तबीयत खराब होने पर उसे सदर अस्पताल में भर्ती किया गया था. कोरोना प्रभारी चिकित्सक डॉ नागभूषण प्रसाद ने बताया कि वर्तमान में कोविड आईसीयू आइसोलेशन सेंटर में कोरोना से संक्रमित 25 मरीज है. जिसमें 10 वेंटिलेटर में हैं.

कोविशील्ड वैक्सीन दी जा रही है

केंद्र सरकार द्वारा आम जनता के हित में कोरोना महामारी से निबटने के लिए टीकाकरण शुरू किया गया है. जिसमें पहले चरण में 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन किया गया. डीडीएम राजीव कुमार ने बताया कि वर्तमान में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को सरकार द्वारा कोविशील्ड वैक्सीन की आपूर्ति की गयी है. जो 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को दी जा रही है. उन्होंने बताया कि एक मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण करने का निर्देश सरकार द्वारा जारी किया गया है. जिसके तहत उक्त निर्देश का पालन किया जायेगा.

दूसरा दिन : सड़कें सुनसान, दुकानें बंद

जिंदा रहना है, तो घरों में रहना होगा. इस बात को गुमला के लोग समझने लगे हैं. इसलिए स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन गुमला शहर के सभी सड़कें सुनसान नजर आयी. दुकानें बंद रही. जरूरत की ही कुछ दुकानें खुली थी. बाकी सभी दुकानें बंद थी. सड़कों पर भी कुछ ही लोग नजर आये. वे भी आवागमन करते हुए दिखे. बसों का परिचालन पहले की तरह चालू है.

परंतु यात्री बहुत कम मिल रहे हैं. इससे बस मालिक परेशान हैं. बस पड़ाव का व्यवसाय ठप हो गया है. बस पड़ाव की 80 प्रतिशत दुकानें बंद हो गयी है. एसडीओ रवि आनंद ने कहा है कि गुमला शहर पर लगातार नजर रखी जा रही है. कुछ दुकानों को बंद रखने के लिए कहा गया है. अगर वैसी दुकानें खुलती है तो उन पर कार्रवाई की जायेगी. बेवजह सड़क पर घूमने वाले लोगों पर कार्रवाई की जा रही है.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें