1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dumka
  5. dumkas current deo poonam kumari and former deo dharamdev rai decided to act dc sent a letter of recommendation to the department

दुमका की वर्तमान डीइओ पूनम कुमारी व पूर्व डीइओ धर्मदेव राय पर कार्रवाई तय, डीसी ने विभाग को भेजा अनुशंसा पत्र

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
दुमका का जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय.
दुमका का जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय.
फोटो : प्रभात खबर.

दुमका : दुमका जिले के प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय काठीकुंड में पदस्थापित लिपिक मनोज कुमार साह एवं प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय गोपीकान्दर में पदस्थापित लिपिक संतोष कुमार मंडल की नियुक्ति विद्यालय प्रबंधन समिति द्वारा अपने क्षेत्राधिकार से बाहर जाकर किया गया था. इनकी सेवा की मान्यता एवं 23.03.2002 से वेतन आदि का भुगतान का आदेश देने और भुगतान कराने के मामले में तत्कालीन जिला शिक्षा पदाधिकारी धर्मदेव राय और वर्तमान जिला शिक्षा पदाधिकारी पूनम कुमारी के ऊपर भी गाज गिरना तय माना जा रहा है.

सेवानिवृत्त जिला शिक्षा पदाधिकारी धर्मदेव राय ने विभाग के दिशा- निर्देशों के विपरीत जाकर भुगतान का आदेश किया था, तो वर्तमान जिला शिक्षा पदाधिकारी पूनम कुमारी द्वारा काठीकुंड में पदस्थापित लिपिक मनोज कुमार साह का वेतन रोक के बावजूद भी भुगतान किया गया था. उपायुक्त राजेश्वरी बी ने इस मामले में कहा कि है इस पूरे प्रकरण में वर्तमान जिला शिक्षा पदाधिकारी पूनम कुमारी और पूर्व के जिला शिक्षा पदाधिकारी की भी संलिप्तता पायी गयी है. दोनों के विरुद्ध उचित कार्रवाई के लिए विभाग को अनुशंसा प्रेषित किया गया है. विभाग से आदेश प्राप्त होते ही इनपर भी कार्रवाई की जायेगी.

उपायुक्त ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा निदेशक से प्राप्त निर्देश के आलोक में तीन सदस्यीय टीम से जांच करायी गयी थी, जिस टीम में प्रभारी पदाधिकारी जिला विधि शाखा, कोषागार पदाधिकारी एवं जिला लेखा पदाधिकारी शामिल थे. जांच के क्रम में यह तथ्य सामने आया कि क्षेत्रीय शिक्षा उप निदेशक के फर्जी पत्र एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी के आदेश जिसे उच्च न्यायालय झारखंड द्वारा पूर्व में ही रद्द कर दिया गया था, को आधार बनाकर इन दोनों की सेवा की मान्यता दी गई.

जांच के क्रम में यह भी तथ्य प्रकाश में आया कि बालिका उच्च विद्यालय काठीकुंड में पदस्थापित लिपिक मनोज कुमार साह की नियुक्ति तिथि में बैकडेटिंग कर साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ किया गया है. दोनों के नियुक्ति संबंधी आदेश तत्कालीन जिला शिक्षा पदाधिकारी धर्मदेव राय द्वारा निर्गत किये गये हैं, जो कि विभागीय आदेशों का पूर्णतः उल्लंघन है.

जांच प्रतिवेदन में यह कहा गया है कि प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय काठीकुंड में पदस्थापित लिपिक मनोज कुमार साह अब तक 5,60,485 रुपये एवं प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय गोपीकांदर में पदस्थापित लिपिक संतोष कुमार मंडल को अब तक कुल 43,93,246 रुपये कुल मिलाकर 49,53,731 रुपये का भुगतान किया गया है. संपूर्ण जांच के क्रम में यह भी तथ्य सामने आये हैं कि जिला शिक्षा पदाधिकारी, दुमका कार्यालय में पदस्थापित कार्यवाहक लिपिक मो इफ्तेखार एवं इनके भाइयों के बैंक खाते में प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय गोपीकान्दर के लिपिक संतोष कुमार मंडल के बैंक खाते से कुल 6,95,000 रुपये हस्तांतरित किये गये हैं.

उपायुक्त राजेश्वरी बी ने कहा कि इस पूरे प्रकरण में वर्तमान जिला शिक्षा पदाधिकारी पूनम कुमारी और पूर्व के जिला शिक्षा पदाधिकारी धर्मदेव राय की भी संलिप्तता पायी गयी है. दोनों के खिलाफ उचित कार्रवाई के लिए विभाग को अनुशंसा प्रेषित किया गया है. विभाग से आदेश प्राप्त होते ही इन पर भी कार्रवाई की जायेगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें