1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. jasdih pirpainti railway line will be connected with navagachia ministry of railways sent a letter to the state government to pay 50 persent

नवगछिया से जुड़ जायेगी जसीडीह-पीरपैंती रेल लाइन, रेल मंत्रालय ने राज्य सरकार को 50 फीसदी खर्च देने के लिए भेजा पत्र

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : रेल मंत्री पीयूष गोयल से मिलते गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे.
Jharkhand news : रेल मंत्री पीयूष गोयल से मिलते गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे.
फोटो : प्रभात खबर.

Jharkhand news, Deoghar news : देवघर : दिल्ली में रेल मंत्री पीयूष गोयल के साथ गोड्डा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने बैठक की. इस बैठक में संताल परगना की लंबित रेल लाइन रेल परियोजना समेत रेल ओवर ब्रिज के कार्यों की समीक्षा हुई और कई नयी रेल लाइन पर सहमति भी बनी है. बैठक में लिये गये निर्णयों के बारे में गोड्डा सांसद डॉ दुबे ने बताया कि जसीडीह-पीरपैंती रेल लाइन के विस्तार पर सहमति बन चुकी है. जसीडीह पीरपैंती रेल लाइन अब नवगछिया रेल लाइन के साथ-साथ बिहार और पश्चिम बंगाल को 5 रेल लाइनों से जोड़ने पर सहमति बनी है. वहीं, जसीडीह से पीरपैंती वाया गोड्डा रेल लाइन नवगछिया से जुड़ेगी. इसके लिए कहलगांव में बटेश्वर स्थान पर गंगा पुल का निर्माण होगा.

दिसंबर में बटेश्वर स्थान पर गंगा पुल का टेंडर

लगभग 2200 करोड़ की लागत से बटेश्वर स्थान में गंगा पुल का टेंडर इसी वर्ष दिसंबर माह में कर दिया जायेगा. यह पुल रेल मंत्रालय पीपीपी मोड पर बनाने को तैयार हैं. इस लाइन से जुड़ते ही जसीडीह- पीरपैंती रेल लाइन बिहार के नवगछिया, भागलपुर- साहिबगंज, भागलपुर से दुमका वाया हंसडीहा, पाकुड़- बंगाल और गोड्डा- देवघर रेल लाइन से जुड़ जायेगी.

पोड़ैयाहाट से गोड्डा रेल लाइन का काम सितंबर तक पूरा होगा

सांसद ने बताया कि बैठक में यह भी निर्णय लिया गया है कि गोड्डा से महागामा रेल लाइन का दोबारा टेंडर होगा. महागामा के बाद से नया रेल लाइन एलाइनमेंट पर काम रेल मंत्रालय से वार्ता के बाद शुरू की जायेगी. पोड़ैयाहाट से गोड्डा रेल लाइन का काम सितंबर तक पूरा कर लिया जाना है. इसके लिए रेलवे के अधिकारियों को निर्देश दिया जायेगा. चितरा से देवघर वाया सारठ - सारवां रेल लाइन बनाने को रेल मंत्रालय तैयार है. इस मामले में रेल मंत्रालय ने राज्य सरकार को 50 प्रतिशत खर्च देने के लिए पत्र भी भेज दिया है. अगर राज्य सरकार राशि नहीं देती है, तो रेल मंत्रालय पीपीपी मोड पर चितरा से देवघर नयी रेल लाइन बनाने को तैयार है. साथ ही गोड्डा से पाकुड़ के 250 करोड़ की लागत से नयी रेल लाइन के प्रोजेक्ट पर राज्य सरकार 50 फीसदी राशि नहीं देती है, तो यह लाइन रेल मंत्रालय पीपीपी मोड पर बनाने को राजी है.

6 माह में पूरा करना है सभी फ्लाइओवर

बैठक में सांसद डॉ दुबे ने रेल मंत्री को बताया कि देवघर और मधुपुर में कई रेल फ्लाइओवर का काम धीमा है. एम्स जाने वाले रास्ते में भी नावाडीह में रेल फ्लाइओवर का काम बहुत धीमा है. इस मामले में रेल मंत्री ने रेलवे के अधिकारी को निर्देश दिया है कि 6 माह के अंदर देवघर और मधुपुर में जितने भी फ्लावर का काम चल रहा है उसे पूरा करायें.

संताल परगना का रेल लाइन अब बिहार-बंगाल से जुड़ेगा

गोड्डा के सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने कहा कि संताल परगना में जितने भी लंबित रेल परियोजनाएं हैं उस पर सीधे रेल मंत्री और प्रधानमंत्री का फोकस है. संताल परगना का रेल लाइन अब बिहार और बंगाल से पूरी तरह कनेक्ट हो जायेगा. सभी परियोजना को समय पर पूरा करने के लिए रेल मंत्रालय नियमित रूप से मॉनिटरिंग कर रहे हैं. देवघर -मधुपुर में सभी फ्लाइओवर 6 माह के अंदर पूरा हो जायेगा. नवगछिया रेल लाइन से पीरपैंती -जसीडीह रेल लाइन को जोड़ने के लिए बटेश्वर स्थान गंगा पर 2200 करोड़ की लागत से पुल का निर्माण होगा.

Posted By : Samir ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें