1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. corona virus 53 news cases covid 19 in jharkhand jharkhand hindi news

झारखंड में कोरोना के 56 नये केस, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 731, पढ़ें झारखंड की टॉप 5 खबरें

By Pritish Sahay
Updated Date

रांची : झारखंड में मंगलवार को 56 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. इसके साथ ही राज्य में मिले कोरोना संक्रमितों की संख्या 731 हो गयी है. हालांकि, राहत की बात यह है कि इनमें से 320 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौट चुके हैं. मंगलवार को रामगढ़ से 20, पूर्वी सिंहभूम से आठ, धनबाद से 17, रांची से छह, हजारीबाग से पांच और दुमका से दो कोरोना संक्रमित मरीजों के मिलने की पुष्टि हुई है.

वहीं, सरायकेला, गढ़वा, पलामू और बोकारो से एक-एक संक्रमित मिले हैं. रामगढ़ से मिले 19 संक्रमितों में 13 चितरपुर प्रखंड के और तीन मांडू प्रखंड के हैं. ये मुंबई से लौटे हैं. दो मरीज रामगढ़ के हैं. इनमें से एक सूरत से और एक गया से लौटा है. रामगढ़ का एक अन्य व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव मिला है, जो फिलहाल रांची के रिम्स में एडमिट है.

रिम्स की दो जूनियर डॉक्टर व दो मरीजों के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है. एक जूनियर डॉक्टर गोरखपुर स्थित घर से लौटी है. रिम्स आने के बाद उनकी जांच की गयी, जिसमें संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. वहीं हड्डी विभाग व ट्रॉमा सेंटर में भर्ती मरीज के भी पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है. दोनों वार्ड में भर्ती हैं. ट्रॉमा सेंटर में भर्ती मरीज की दोनों किडनी खराब है. इसके अलावा मेडिका में भर्ती एक महिला भी संक्रमित हुई है. उसकी जांच निजी जांच लैब में की गयी थी.

गुमला के डीसी शशि रंजन ने चेंबर ऑफ कामर्स से बैठक कर अनलॉक-1 में झारखंड सरकार द्वारा दिये गये छूट की जानकारी दी. डीसी ने सामाजिक दूरी का अनुपालन एवं मास्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करने की शर्तों का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि झारखंड सरकार ने अनलॉक-1 में झारखंड में कई छूटों का एलान कर दिया है. सरकार ने कंटेनमेंट जोन के बाहर के इलाकों में गृह मंत्रालय द्वारा निर्देशित कई गतिविधियों को छूट दे दी है.

मानगो चौक पर मंगलवार को अजीब घटना देखने को मिली. ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में जुर्माना वसूलने से नाराज मानगो कुमरुम बस्ती के राजेंद्र कुमार इतने नाराज हो गये कि अपनी बाइक को ही आग के हवाले कर दिया. इसके बाद राजेंद्र सड़क पर लेट गये और ट्रैफिक पुलिस पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया. उनका कहना था कि पुलिस चेकिंग के नाम पर लगातार परेशान करती है. राजेंद्र ने बताया कि वह साकची बस स्टैंड में एजेंट का काम करते हैं.

रांची विश्वविद्यालय के यूजी और पीजी के मिड सेमेस्टर के नंबर के आधार पर विद्यार्थियों को अगले सेमेस्टर में प्रमोट किया जायेगा. यह फैसला मंगलवार को कोविड 19 सेल की बैठक में लिया गया. इसके बाद सीनेट हॉल में हुए एकेडमिक काउंसिल की बैठक में फैसले पर मुहर लगा दी गयी. एकेडमिक काउंसिल की बैठक में परीक्षा से संबंधित कई अन्य फैसले भी लिये गये. बैठक में रांची विवि के कुलपति डॉ रमेश कुमार पांडे, प्रति कुलपति डॉ कामिनी कुमार व अन्य मौजूद थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें