1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. delhi metro latest news unlock 4 guidelines update delhi metro services resume know dmrc sop guidelines before travel covid cases in delhi upl

Delhi Metro: पांच महीने बाद कल से दौड़ेगी दिल्ली मेट्रो, सफर से पहले जान लें ये जरूरी बातें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 देश का सबसे बड़ा मेट्रो नेटवर्क दिल्ली मेट्रो एक बार फिर पटरी पर लौटने को तैयार है.
देश का सबसे बड़ा मेट्रो नेटवर्क दिल्ली मेट्रो एक बार फिर पटरी पर लौटने को तैयार है.
File

Delhi Metro, Delhi metro resume, DMRC guidelines: कोरोना संकट काल में करीब साढ़े पांच महीनों के बाद देश का सबसे बड़ा मेट्रो नेटवर्क दिल्ली मेट्रो एक बार फिर पटरी पर लौटने को तैयार है. दिल्ली मेट्रो 7 सितंबर से फिर से शुरू होने वाला है. सोमवार सुबह सात बजे से यलो लाइन (समयपुर बादली-हुडा सिटी सेंटर) पर नए नियमों के साथ मेट्रो रफ्तार भरने लगेगी.

कोरोना महामारी के कारण मेट्रो का सफर अब पहले जैसा नहीं रहेगा. कई सारे बदलाव किए गए हैं जिसे यात्रा से पहले आपको हर हाल में जान लेना जरूरी है. उदाहरण के लिए अब मेट्रो स्टेशन पर टोकन नहीं मिलेगा इसके साथ ही फेस कवर/मास्‍क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है, वहीं एंट्री के टाइम पर थर्मल स्‍क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन की भी व्यवस्था की गई है. इतना ही नहीं मेट्रो ने हर स्‍टेशन पर एक या दो गेट्स के जरिए ही एंट्री-एग्जिट की व्यवस्था की है.

डीएमआरसी के मैनेजिंग डायरेक्टर मंगू सिंह ने कहा कि हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती सोशल डिस्टेंसिंग को मेंनटेन करना होगा क्योंकि कोरोना की गाइडलाइन्स के चलते हमारी क्षमताएं कम हो जाएंगी. जैसे अभी पीक ऑवर्स में हम एक कोच में लगभग 360 से 400 लोगों को लेकर जाते हैं लेकिन अब हम सिर्फ 50 लोगों को ही लेकर जा पाएंगे.

अगर इससे ज़्यादा लोग सिस्टम में आते हैं तो हमें क्राउड मैनेटमेंट जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ेगा.निदेशक मंगू सिंह ने कहा कि हम लोगों का सपोर्ट चाहते हैं. लोग गाइडलाइन्स का पालन करें और उसी के हिसाब से ही यात्रा करें.

एक कोच में सिर्फ 50 यात्री करेंगे सफर

मेट्रो के एक कोच में 48 यात्रियों के बैठने की व्यवस्था होती है. शारीरिक दूरी के मद्देनजर एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था की गई है. जिन सीटों पर स्टीकर होगा उस यात्री नहीं बैठ सकेंगे इसलिए 24 यात्री प्रत्येक कोच में बैठ पाएंगे. वहीं 25-26 यात्री एक से दो मीटर की दूरी बनाकर खड़े रह पाएंगे.

इस तरह एक कोच में अधिकतम 50 व छह कोच की मेट्रो में 300 यात्री सफर कर पाएंगे. वहीं दिल्ली मेट्रो ने पहली बार पैर से पैडल दबाकर लिफ्ट बुलाने का इंतजाम किया है. अब मेट्रो गेट भी टोकन से नहीं सिर्फ कार्ड से खुलेंगे. जबकि यात्री सामान को भी सैनिटाइज किया जाएगा.

स्टेशन पर कौन सा गेट खुलेगा कौन सा नहीं, कैसे पता चलेगा

दिल्ली मेट्रो ने इसकी जानकारी स्टेशन के हिसाब से अपने वेबसाइट पर डाल दी है. इसके साथ ही उस गेट के आसपास लैंडमार्क भी बताया है, जिससे ढूंढ़ने में आसानी होगी। कौन से गेट खुलेंगे उसकी सूची दिल्ली मेट्रो की ट्विटर हैंडल पर उपलब्ध है.

चरणबद्ध चलेगा मेट्रो

चरण -1 में मेट्रो स्टेशनों का संचालन सुबह 7 बजे से 11 बजे तक और शाम को 4 बजे से शाम 8 बजे तक किया जाएगा। इस चरण में तीन फेज होंगे। यानी फेज -1, फेज-2 और फेज -3. फेज- 1 में मेट्रो परिचालन 7 सितंबर से शुरू होगा और रैपिड मेट्रो गुड़गांव सहित लाइन 2 को इस चरण में चालू किया जाएगा. फेज -2 में 9 सितंबर से लाइन 3, 4 और 7 को भी चालू किया जाएगा. फेज -3 में, जो 10 सितंबर से शुरू होने जा रहा है, लाइन 1, 5 और 6 को चालू किया जाएगा.

11 सितंबर से शुरू होने वाले चरण-दो में मेट्रो सेवाएं सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे और शाम 4 बजे से शाम 10 बजे तक होगी. इसके अलावा लाइन 8 और 9 को भी इसी चरण में चालू किया जाएगा. 12 सितंबर से शुरू होने वाले चरण-तीन में मेट्रो सेवाएं सुबह 6 बजे से रात 11 बजे तक पहले जैसे नियमित हो जाएंगी. कंटेनमेंट जोन (सील) में स्थित सभी स्टेशन बंद रहेंगे. थर्मल स्क्रीनिंग के बाद केवल स्वस्थ व्यक्तियों को ही यात्रा करने की अनुमति होगी. मेट्रो स्टेशनों पर पार्किंग की सुविधा चालू रहेगी, परंतु फीडर बसों का परिचालन फिलहाल बंद रहेगा.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें