1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. uncle of former mla was murdered in jehanabad and nephew was in masaudhi asj

22 मिनटों के अंदर बिहार में पूर्व विधायक के चाचा की जहानाबाद और भतीजे की मसौढ़ी में हत्या

अरवल के पूर्व भाजपा विधायक चितरंजन कुमार के चाचा व शहर के चर्चित होटल व्यवसायी अभिराम शर्मा और चचेरे भाई दिनेश शर्मा की अपराधियों ने गोली मार हत्या कर दी. दोनों हत्याएं मंगलवार को अलग-अलग जगहों पर सिर्फ 22 मिनट के अंतराल हुईं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बिहार क्राइम न्यूज
बिहार क्राइम न्यूज
FIle pic

जहानाबाद/मसौढ़ी. अरवल के पूर्व भाजपा विधायक चितरंजन कुमार के चाचा व शहर के चर्चित होटल व्यवसायी अभिराम शर्मा और चचेरे भाई दिनेश शर्मा की अपराधियों ने गोली मार हत्या कर दी. दोनों हत्याएं मंगलवार को अलग-अलग जगहों पर सिर्फ 22 मिनट के अंतराल हुईं. अभिराम शर्मा को अपराधियों ने जहानाबाद में डीएम-एसपी आवास से 100 गज दूर उनके मैरेज हॉल में गोली मार दी, जबकि दिनेश शर्मा की हत्या मसौढ़ी के गांधी मैदान के पास कर दी गयी. इन घटनाओं से जहानाबाद और मसौढ़ी दोनों जगह पर सनसनी फैल गयी.

धनरूआ के नीमा में है दोनों का पैतृक आवास

दिनेश शर्मा सूचना जनसंपर्क विभाग से रिटायर होने के बाद मसौढ़ी के गांधी मैदान के पास जनरल स्टोर की दुकान चलाते थे, जबकि उनके चाचा अभिराम शर्मा जहानाबाद के जाने माने होटल व्यवसायी थे. दोनों पटना जिले के धनरूआ थाने के नीमा गांव के रहने वाले थे. एक ही परिवार में दो लोगों की हत्या के बाद जहानाबाद से लेकर मसौढ़ी और दोनों के पैतृक गांव नीमा तक कोहराम मच गया.

अपराधी मसौढ़ी की ओर भाग गये

जहानाबाद में हुई घटना के संबंध में बताया जाता है कि अहले सुबह 6:26 बजे दो बाइकों पर सवार तीन अपराधी कनौदी स्थित श्रीराम आश्रम पहुंचे. वहां मौजूद कर्मचारियों से अपराधियों ने शादी का निमंत्रण देने की बात कह कर अभिराम शर्मा से मिलने की इच्छा जतायी. कर्मचारी दोनों अपराधियों को लेकर अभिराम शर्मा के कमरे में गया. उस वक्त अभिराम शर्मा सोये हुए थे, तभी अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर उनकी हत्या कर दी. घटना के बाद अपराधी मसौढ़ी की ओर भाग गये.

पटना-गया मुख्य मार्ग को जाम

घटना के बाद परिजन तत्काल उन्हें सदर अस्पताल ले गये, जहां स्थिति को गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने पीएमसीएच रेफर कर दिया. हालांकि, तब तक उनकी मौत हो चुकी थी. शव को लेकर परिजन वापस श्रीराम आश्रम पहुंचे और पटना-गया मुख्य मार्ग को जाम कर दिया. परिजन घटनास्थल पर डीएम-एसपी को बुलाने की मांग कर रहे थे. करीब चार घंटे तक जाम के बाद डीएम-एसपी मौके पर पहुंचे और अपराधियों की गिरफ्तारी और मृतक के बेटे को सुरक्षा मुहैया कराने का आश्वासन दिया. आश्वासन के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा गया.

पूर्व विधायक चितरंजन कुमार भाई की सुबह हुई हत्या

वहीं पूर्व विधायक चितरंजन कुमार के 64 वर्षीय चचेरे भाई दिनेश की हत्या मंगलवार की सुबह 6:48 बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने गोली मारकर कर दी. दिनेश उस वक्त पास स्थित गांधी मैदान से टहल अपने जेनरल स्टोर की दुकान में बैठे थे. बदमाशों ने इस दौरान तीन गोली उनके शरीर में उतार दी. मौके पर ही उनकी मौत हो गयी. घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश उतर-पश्चिम दिशा की ओर भाग निकले. दिनेश शर्मा कई सालों से मसौढ़ी थाने के उतरी लखीबाग में किराये के एक मकान में सपरिवार रहते थे. एएसपी वैभव शर्मा ने बताया कि दिनेश शर्मा की हत्‍या योजनाबद्ध ढंग से पुरानी दुश्‍मनी अथवा भूमि विवाद में की गयी है.

छह नामजद समेत आठ पर प्राथमिकी

दिनेश शर्मा के पुत्र अभिषेक कुमार उर्फ सोनू ने छह नामजद समेत आठ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी है. उनमें धनरूआ थाने के नीमा गांव के ही संजय कुमार व उनके भाई धनंजय कुमार उर्फ रंजय कुमार, संजय का बहनोई शिवरमन उर्फ छोटू, नीमा के राकेश कुमार उर्फ सुग्‍गा और सुधीर कुमार और बिहटा थाने के सिकंदरपुर निवासी छोटू कुमार उर्फ छोटे सरकार को आरोपित बनाया गया है, जबकि दो अज्ञात हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें