24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

घर से बुला जमीन ब्रोकर को गोलियों से भून डाला

रविवार की सुबह लगभग पांच बजे घर के पास ही अपराधियों ने जमीन ब्रोकर 45 वर्षीय अरुण कुमार की गोलियों ने भून कर हत्या कर दी.

प्रतिनिधि, पटना सिटी रविवार की सुबह लगभग पांच बजे घर के पास ही अपराधियों ने जमीन ब्रोकर 45 वर्षीय अरुण कुमार की गोलियों ने भून कर हत्या कर दी. हत्या की यह घटना आलमगंज थाना क्षेत्र के मीना बाजार जल्ला रोड में मलिया महादेव मार्ग में हुई. अरुण के शरीर में छह गोलियों के निशाना हैं. ऐसे में पुलिस ने आशंका जतायी है कि फायरिंग पिस्टल से की गयी है, जिसका इस्तेमाल पेशेवर शार्प शूटर करते हैं. मौके पर एएसपी शरथ आरएस और आलमगंज थानाध्यक्ष राजीव कुमार के साथ पुलिस दल पहुंचा. पुलिस ने घटना स्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज निकाला है. एएसपी शरथ आरएस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में यह जमीन विवाद या फिर अदावत में घटना हो सकती है. अरुण के पिता मदन मोहन प्रसाद और भाई संजय, अजय ने बताया कि सुबह पांच बजे मोबाइल पर फोन आने के बाद निकला था. घर से पांच छह कदम आगे बढ़ा, तभी घात लगाये बाइक सवार बदमाशों ने पिस्टल निकाल कर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. परिवार के लोग निकले, तो देखा कि अरुण खून से लथपथ पड़ा है. परिजन एनएमसीएच लेकर आये. जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया. महापौर चुनाव में दूसरे पक्ष का प्रचार करने के दौरान हुआ था झगड़ा पिता का कहना है कि घर के पास खाली पड़ी विवादित जमीन को लेकर जमीन मालिक मंतोष महतो के साथ बेटे का विवाद चल रहा था. वहीं लगभग डेढ़ वर्ष पहले महापौर चुनाव के दौरान दूसरे पक्ष के प्रत्याशी का समर्थन व प्रचार करने को लेकर महापौर के बेटे से झगड़ा हुआ था. ऐसे में परिवार के लोग भी समझ नहीं पा रहे हैं कि हत्या किस वजह से हुई है. एएसपी शरथ आरएस का कहना है कि अज्ञात अपराधियों द्वारा जमीन कारोबारी को दो-तीन गोली मारी गयी है. हत्याकांड के खुलासा के लिए पुलिस टीम गठित कर छापेमारी की जा रही है. परिजन व पड़ोसियों ने बताया कि मृतक अरुण चार भाई में सबसे छोटा था. सबसे बड़ा भाई संजय, फिर अजय और राजू के बाद अरुण था. तीन बहन संगीता, बबीता और गीता हैं. घटना स्थल पर विलाप कर रही मां उषा देवी और पत्नी आशा देवी का कहना कि किस अदावत में यह घटना हुई है. परिवार के अनुसार बिहार शरीफ में अरुण की शादी हुई थी. दो बच्चे है. इसमें बड़ी बेटी आराध्या और बेटा आरब है. परिजनों व मुहल्ला के लोगों की मानें तो अरुण मिलनसार और मददगार था. पत्नी ने दर्ज करायी प्राथमिकी, नौ को बनाया आरोपित जमीन ब्रोकर अरुण कुमार की हत्या में मृतक की पत्नी आशा देवी के बयान पर आलमगंज थाना में हत्या का मामला दर्ज हुआ है. दर्ज मामले में महापौर सीता साहू के पुत्र शिशिर कुमार के साथ नौ लोगों को नामजद किया गया है. एएसपी शरथ आरएस ने बताया कि हत्याकांड में नौ लोगों को आरोपित किया गया है. महापौर पुत्र शिशिर कुमार ने बताया कि वो महापौर व परिवार के सदस्यों के साथ बिहार से बाहर हैं. ऐसे में साजिश के तहत हत्याकांड में परिवार के लोग फंसा रहे हैं. पत्नी ने पुलिस को दिये बयान में कहा है कि रविवार की सुबह लगभग पांच बजे पति घर के बाहर दरवाजा पर फूल में पानी दे बाहर निकले थे. तभी गली में बाइक लगा कर दो युवक पहुंचे और घर के दरवाजा के पश्चिम तरफ पति पर ताबड़तोड़ फायरिंग की. जख्मी पति को उपचार के लिए एनएमसीएच ले गये. जहां पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. इसी क्रम में महापौर पुत्र शिशिर कुमार, दिव्यं सुंदरम, विकास गुप्ता, खड़बड़ गोप, छोटन गोप, राकेश, डीएम पप्पू, मंतोष कुमार महतो व मौली सोनार ने आपराधिक षडयंत्र रचकर पुरानी दुश्मनी व जमीन विवाद में हत्या करवाया है. पत्नी ने प्राथमिकी में यह भी बताया है कि वर्ष 2023 के आठ मार्च को होली के दिन शिशिर व खड़बड़ गोप तथा उनके आदमियों ने मारपीट कर पति को जेल भेजवा दिया गया. प्राथमिकी के बाद पुलिस एक नामजद को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें