1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. former mukhiya killed in patna paliganj criminals absconding after being shot asj

Bihar News: पटना के दुल्हिनबाजार में पूर्व मुखिया की हत्या, बाइक सवार पांच अपराधियों ने वारदात को दिया अंजाम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
सांकेतिक
सांकेतिक

रविवार सुबह माॅर्निंगवाॅक पर निकले पटना जिले के ऐनखा भीमनीचक पंचायत के पूर्व मुखिया संजय वर्मा (50 वर्ष) की भीमनीचक गांव के पास बाइक सवार अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी. इससे दुल्हिनबाजार इलाके में दहशत का माहौल बन गया है. गुस्साये ग्रामीणों व पूर्व मुखिया के समर्थकों ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर दो घंटे के लिए दुल्हिनबाजार के सदावह चौक पर आगजनी कर पाली-बिहटा एसएच 2 को जाम रखा.

इधर, घटना की सूचना पाकर पारस अस्पताल पहुंची दुल्हिनबाजार पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आइजीएमएस में पोस्टमार्टम कराया और शव को परिजनों को सौंप दिया. पालीगंज डीएसपी तनवीर अहमद ने बताया कि मृतक के परिजनों ने अज्ञात अपराधियों के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज करायी है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

संजय ने भागना की भी कोशिश की

पुलिस के अनुसार, दुल्हिनबाजार थाना क्षेत्र के भीमनीचक गांव निवासी स्व सत्यनारायण वर्मा के पुत्र ऐनखां भीमनीचक पंचायत के पूर्व मुखिया संजय वर्मा गांव से बाहर सड़क पर मॉर्निंगवॉक कर रहे थे. उसी समय वहां अचानक दो बाइक पर सवार पांच अपराधी आ धमके और संजय वर्मा पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने लगे. इसे देख संजय वर्मा ने वहां से भागना की कोशिश भी की, लेकिन एक गोली उनके सिर व दूसरी गोली पीठ में लगी. घायल होकर संजय वर्मा सड़क किनारे गड्ढे में गिर पड़े. वहीं, बाइक सवार अपराधियों ने मौके से बाइक से फरार हो गये. सूचना पाकर मौके पर पहुंचे परिजन आनन-फानन में घायल पूर्व मुखिया को इलाज के लिए दुल्हिनबाजार पीएचसी में ले गये. यहां से डॉक्टरों ने पीएमसीएच भेज दिया. हालांकि परिजन घायल संजय वर्मा को इलाज के लिए दानापुर स्थित पारस अस्पताल ले गये, जहां उनकी मौत हो गयी.

इधर, पूर्व मुखिया की मौत की सूचना पाकर आक्रोशित ग्रामीणों व समर्थकों ने दुल्हिनबाजार पहुंचकर सभी दुकानों को बंद करा दिया. बाजार स्थित सदावह चौक पर भीषण आगजनी करते हुए पाली-बिहटा एसएच 2 को दोपहर एक बजे जाम कर दिया. वे अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग करते हुए नारेबाजी कर रहे थे. सड़क जाम होते ही दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गयी. सड़क जाम की सूचना पाकर दल बल के साथ मौके पर पहुंचे पालीगंज डीएसपी तनवीर अहमद ने मुखिया समर्थकों व ग्रामीणों को समझाया. पुलिस के आश्वासन के दो घंटे बाद दोपहर तीन बजे सड़क से जाम हटा व यातायात शुरुआत हुआ.

वृद्ध मां और पत्नी का बुरा हाल

मृतक के परिवार में उनकी मां, पत्नी के अलावा एक पुत्री व एक पुत्र है. पुत्री पम्मी कुमारी पटना में पढ़ाई करती है तथा पुत्र कुणाल पटना में रहकर इंजीनियरिंग की पढ़ाई करता है. शव को घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया. एक ओर मृतक की वृद्ध मां अपनी सुध-बुध खोकर खामोश पड़ी थी, तो दूसरी ओर पत्नी बार-बार बेहोश हो जा रही थी. लाख मनाने के बाद बेटी की आंखों से आंसू नहीं थम रहे थे. उनके चार भाई थे. उनके छोटे भाई शिक्षक अजय वर्मा पाठक की मौत एक वर्ष पूर्व बीमारी से हो गयी थी. एक अन्य भाई रामाशीष वर्मा में खेती गृहस्थी का काम करते हैं और रामसूरत वर्मा झांसी में रेलवे में जेइ हैं.

मृतक संजय वर्मा अपनी कैरियर की शुरुआत एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में की थी. उसके बाद वह 2001 में प्रथम बार पंचायती राज्य के चुनाव में दुल्हिनबाजार प्रखंड के ऐनखां भीमनीचक पंचायत में मुखिया पद के लिए जीत हासिल की थी. बाद में हैट्रिक लगाते हुए 2006 व 2011 में भी ऐनखां भीमनीचक पंचायत से मुखिया पद के लिए चुनाव जीते थे. इस प्रकार उन्होंने 2001 से 2016 तक मुखिया पद पर बने रहे. फोटो:- दुल्हिन बाजार में रोते बिलखते मृतक के परिजन, मृतक का फाइल फोटो, आगजनी करते ग्रामीण समर्थक तथा समझाते पालीगंज डीएसपी तनवीर अहमद.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें