1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. consumers with smart prepaid meters get three percent discount on online recharge only rdy

Bihar News: ऑनलाइन रिचार्ज पर ही स्मार्ट प्रीपेड मीटर वाले उपभोक्ताओं को मिलेगी तीन फीसदी की छूट

बिजली कंपनी ने कहा है कि स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने वाले हरेक उपभोक्ता को दो फीसदी की छूट मिलेगी. एक महीने के रिचार्ज के बाद जैसे ही उपभोक्ता दूसरे महीने अपना मीटर रिचार्ज करायेंगे, तो दो फीसदी की अतिरिक्त राशि उनके खाते में जुड़ जायेगी.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
स्मार्ट मीटर
स्मार्ट मीटर
प्रतीकात्मक तस्वीर.

पटना. स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने पर बिजली बिल में मिलने वाली तीन फीसदी की छूट में बिजली कंपनी ने आंशिक बदलाव किया है. स्मार्ट प्रीपेड मीटर के बिल पर सभी उपभोक्ताओं को दो फीसदी छूट मिलेगी, लेकिन उनको एक फीसदी अतिरिक्त छूट तभी मिलेगी, जब वे ऑनलाइन रिचार्ज करायेंगे. रिचार्ज कूपन लेने पर उपभोक्ताओं को मिलने वाली एक फीसदी की अतिरिक्त छूट नहीं मिलेगी. ऑनलाइन भुगतान को बढ़ावा देने के लिए कंपनी ने यह निर्णय लिया है. इस बाबत बिहार विद्युत विनियामक आयोग को एक प्रस्ताव भेजा गया है. आयोग की अनुमति मिलने पर कंपनी का यह प्रस्ताव एक अप्रैल, 2022 से अमल में आ जायेगा.

बिजली कंपनी ने कहा है कि स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाने वाले हरेक उपभोक्ता को दो फीसदी की छूट मिलेगी. एक महीने के रिचार्ज के बाद जैसे ही उपभोक्ता दूसरे महीने अपना मीटर रिचार्ज करायेंगे, तो दो फीसदी की अतिरिक्त राशि उनके खाते में जुड़ जायेगी. वहीं, एक फीसदी की अतिरिक्त छूट उन उपभोक्ताओं को मिलेगी, जो ऑनलाइन या डिजिटल मोड में अपना मीटर रिचार्ज करायेंगे. अगर कोई उपभोक्ता अपने प्रीपेड बिजली मीटर के लिए रिचार्ज कूपन खरीदेंगे, तो उन्हें इस छूट का लाभ नहीं मिलेगा. तीन फीसदी की छूट पाने के लिए यह जरूरी होगा कि उपभोक्ता डिजिटल मोड में ही अपने बिजली मीटर को रिचार्ज करायें.

एडवांस पेमेंट पर चार फीसदी ब्याज

बिजली कंपनी ने एडवांस पेमेंट करने वाले उपभोक्ताओं को ब्याज देने का निर्णय लिया है. विनियामक आयोग को सौंपे गये प्रस्ताव के अनुसार अगर कोई उपभोक्ता अपने भविष्य के बिजली बिल भुगतान के मद में एडवांस पेमेंट करेंगे, तो उन्हें चार फीसदी ब्याज का लाभ मिलेगा, लेकिन एडवांस पेमेंट की राशि कम- से- कम दो हजार का होनी जरूरी है.

लोगों को आकर्षित करने के लिए कंपनी ने चार फीसदी ब्याज देने का निर्णय लिया है , जबकि देश की नामी-गिरामी व्यावसायिक बैंकों में भी बचत खाता पर चार फीसदी ब्याज नहीं मिल रहा है. इस तरह उपभोक्ता चाहें , तो वे दो हजार या इससे अधिक एडवांस पेमेंट देकर बिजली कंपनी से बैंकों की तुलना में अधिक ब्याज प्राप्त कर सकते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें