पटना में हुए भीषण जलजमाव के दोषी बुडको के पूर्व एमडी और नगर निगम के दो अफसर निलंबित

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पटना : पटना में हुए भीषण जलजमाव के लिए दोषी पाये गये तीन अधिकारियों के खिलाफ राज्य सरकार ने कार्रवाई की है. बुडको के तत्कालीन एमडी और वर्तमान में बिहार राज्य पथ परिवहन निगम के प्रशासक अमरेंद्र प्रसाद सिंह को इसके लिए मुख्य रूप से दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया गया है.
वह 2007 बैच के प्रोन्नत आइएएस अधिकारी हैं. इसके अलावा बिहार प्रशासनिक सेवा (बिप्रसे)
के अधिकारी व बांकीपुर के तत्कालीन कार्यपालक पदाधिकारी वीरेंद्र कुमार तरुण और नूतन राजधानी अंचल के तत्कालीन कार्यपालक पदाधिकारी शैलेश कुमार को भी निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया गया.
इन दोनों को निलंबित करने की अनुशंसा नगर विकास ए‌वं आवास विभाग ने की थी.निलंबन अवधि के दौरान अमरेंद्र प्रसाद सिंह का मुख्यालय सामान्य प्रशासन विभाग में निर्धारित किया गया है, जबकि अन्य दोनों कार्यपालक पदाधिकारियों के लिए निलंबन अवधि के दौरान उनका मुख्यालय पटना आयुक्त कार्यालय निर्धारित किया गया है.
इस आदेश में बुडको के तत्कालीन एमडी के बारे में कहा गया है कि जलजमाव के दौरान 39 ड्रेनेज पंपिंग स्टेशनों (संप हॉउस) के लिए उन्होंने डीजल की आपूर्ति निश्चित समय पर नहीं की. साथ ही खराब पंपिंग सेटों या ट्रांसफॉर्मरों की मरम्मत की व्यवस्था नहीं करने और जलजमाव से निबटने के लिए प्रशिक्षित मैनपावर की कमी को दूर नहीं करने के लिए जिम्मेदार माना गया है. जलजमाव की जांच के लिए गठित कमेटी ने तत्कालीन एमडी को कई बिंदुओं पर दोषी पाते हुए अपनी रिपोर्ट में इसका उल्लेख किया है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें