लापता गोलू का शव मिला, भड़के लोग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मुजफ्फरपुर: अहियापुर थाना क्षेत्र के सहबाजपुर गांव से रविवार की सुबह दो दिनों से लापता दिलीप उर्फ गोलू का शव बरामद किया गया. शव मिलने की सूचना पर आसपास के सैकड़ों लोग घटनास्थल पर जुट गये.

गोलू की हत्या कर शव फेंकने की बात सुन कर लोगों ने पुरानी जीरोमाइल के समीप एनएच 77 को लगभग साढ़े तीन घंटे तक जाम कर दिया. आक्रोशित लोग हत्या के लिए स्कूल के ही एक शिक्षिका को दोषी ठहरा रहे थे. दोपहर साढ़े बारह बजे के आसपास काफी मशक्कत के बाद नगर डीएसपी अनिल कुमार सिंह ने लोगों को समझा-बुझा कर जाम समाप्त कराया. देर शाम गोलू के पिता राजू साह ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज करायी है. पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन में जुटी है.

जानकारी के अनुसार चकगाजी टोला निवासी राजू साह का छोटा पुत्र गोलू कुमार 15 अगस्त से गायब था. काफी खोजबीन के बाद भी वह नहीं मिला था. इसकी जानकारी परिजनों ने पुलिस को भी दी थी. गोलू के पिता ने शनिवार को राजकीय मध्य विद्यालय के एक शिक्षिका पर बेटे के गायब होने का आरोप लगाया था. इसके बाद ग्रामीणों ने स्कूल में हंगामा भी किया था. उस वक्त मौके से शिक्षिका गायब हो गयी थी. पिता का कहना था कि 15 अगस्त को गोलू अपनी बहन निशम के साथ स्कूल गया था. झंडोत्ताेलन के बाद गोलू को शिक्षिका ने स्कूल परिसर से प्रसाद देकर बाहर निकाल दी थी. जब निशम प्रसाद लेकर बाहर निकली, तो उसका भाई नहीं था. वह दौड़ती हुई अपने घर पहुंची.

मां को घटना की पूरी जानकारी दी. जानकारी मिलते ही परिजन तीन-चार टोली बना कर उसे खोजने निकले. लेकिन देर शाम तक उसका पता नहीं चल पाया था. इधर, रविवार की सुबह सहबाजपुर गांव के राजकीय मध्य विद्यालय से महज 200 मीटर की दूरी पर लीची गाछी में बने गड्ढ़े में स्थानीय लोगों ने गोलू के शव को देखा. इसके बाद पूरे गांव में सनसनी फैल गयी. राजू साह गोलू के शव को देख अचेत हो गये. मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गयी. सूचना मिलने पर अहियापुर थाना के दारोगा अजय कुमार की मौजूदगी में परिजनों ने शव को गड्ढे से निकाला.

गले की हड्डी टूटने से मौत

पुलिस की निगरानी में बच्चे के शव को पोस्टमार्टम कराया गया. एसकेएमसीएच के तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड के चिकित्सकों ने पोस्टमार्टम किया. चिकित्सक डॉ विजय कुमार प्रसाद ने बताया कि गोलू की मौत गला दबा कर किया प्रतीत हो रहा है. उसके गरदन की हड्डी टूटी है. टीम में डॉ विजय के अलावा डॉ रमण व विपिन कुमार भी मौजूद थे.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें