रसीद कटाने के नाम पर महिला का यौन शोषण: गायघाट में सीओ को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
गायघाट: राजस्व रसीद कटवाने के नाम पर एक महिला का गायघाट सीओ निशिकांत व एक कर्मचारी के अटाेर्नी राजीव कुमार सिंह उर्फ खान ने यौनशोषण किया. उसके बाद भी महिला का काम नहीं हुआ, तो मंगलवार शाम उसका धैर्य जवाब दे गया. सीओ से पूछने पर उसने गाली देकर बोला कि तुमको जहां जाना है जाओ. यह सुनते ही अंचल कार्यालय पर ही उसने सीओ की पिटाई कर दी.उसने सीओ को चप्पल व थप्पड़ से मुख्यालय के मैदान में दौड़ा-दौड़ा कर पीटा .महिला सीओ व राजस्व कर्मचारी के अटाेर्नी पर आरोप लगा रही थी. हंगामे की जानकारी मिलते ही मौके पर भीड़ जुट गयी. देर शाम तक डीएसपी पूर्वी मुतफिक अहमद सहित कई पदाधिकारी मामले को सुलझाने में जुटे थे. पीड़ित महिला थाना क्षेत्र के जाया गांव की रहनेवाली है.

उसका आरोप है कि राजस्व रसीद कटवाने के नाम पर पहले बहला -फुसला कर राजस्व कर्मचारी के अटर्नी राजीव सिंह ने यौनशोषण किया.मंदिर में शादी का झांसा देकर बोचहां में मकान किराये पर लेकर लगातार यौनशोषण करता रहा. इस दौरान राजीव ने कहा कि सीओ द्वारा ही काम होना है. उनको तुम खुश कर दो, तो काम हो जायेगा. वह मुझे लेकर तीन चार बार सीओ के डेरा पर लेकर मुजफ्फरपुर गया. वहां सीओ ने भी नशे की हालत में उसका यौनशोषण किया.
सीआे की शादी में हुई थी शामिल
महिला ने बताया कि सीओ की शादी एक माह पूर्व मुजफ्फरपुर में हुई थी. उस शादी में शरीक हुई थी. जब काम नहीं होने पर पूछा गया, तो सीओ व अटर्नी ने कहा कि तुमको जहां जाना है जाओ. शनिवार को वह सीओ को आवेदन देने गयी, तो भगा दिया गया.
चार साल से दे रहा था चकमा
अटर्नी के लोगों द्वारा जान से मारने की धमकी दी जाने लगी. महिला ने बताया कि वह चार साल पूर्व सीओ कार्यालय में रसीद कटवाने आयी थी. उस समय राजस्व कर्मचारी सुरेन्द्र साह थे. उन्होंने राजीव सिंह उर्फ़ खान को बुला कर कहा कि यह तुम्हारा काम कर देगा. अटर्नी हमारे जमीन का कागज ले लिया और कहा कि रसीद काट कर घर पहुंचा देंगे. उसके बाद वह उसके घर पर आने जाने लगा और मुझे काम के नाम पर बहला फुसला कर यौनशोषण किया.
मंदिर में की शादी, चालीस हजार ठगा
महिला ने बताया कि राजीव के आने-जाने से समाज में मेरा विरोध हो रहा है, तो उसने शादी का झांसा दिया. मंदिर में शादी कर बोचहां में रखने लगा. इस बीच में उसने कहा कि अंचल कार्यालय में दाई का नौकरी दिला देंगे तुम चालीस हजार रुपये दो. मैंने नौकरी के नाम पर चालीस हजार रुपये व्यवस्था करके दिया. तब अटर्नी ने कहा कि तुम सीओ साहेब को खुश कर दो, तो तुम्हारा काम हो जायेगा. काम दिलाने के नाम पर मेरा यौनशोषण सीओ निशिकांत के द्वारा तीन चार किया गया. जब भी हम काम दिलाने का बात करते, तो बहाना बनाता. इधर,सीओ निशिकांत ने महिला की सारी बातों को बेबुनियाद बताया है.
इधर, सिकंदरपुर में दारोगा से मारपीट
सिकंदरपुर कुंडल से बाइक चोरी के आरोप में तीन युवकों की गिरफ्तारी के बाद स्थानीय लोगों ने मंगलवार को जम कर हंगामा किया. सिकंदरपुर स्टेडियम के पास आगजनी के बाद सड़क जाम कर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे. मौके पर पहुंचे नगर थानाध्यक्ष केपी सिंह के साथ धक्का-मुक्की की गयी. सड़क जाम हटाने के दौरान दारोगा से एक युवक उलझ गया. पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया, जिस पर आक्रोशित महिलाएं पुलिसकर्मियों पर टूट पड़ीं. पुलिस ने जब कड़ा रुख अपनाया, तो प्रदर्शनकारी वहां से भाग खड़े हुए.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें