मैं झूठ बोलनेवाला नहीं, काम करनेवाला : नीतीश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मैं झूठ बोलनेवाला नहीं, काम करनेवाला : नीतीशजंगलराज का ढोल पीट कर दुष्प्रचार कर रहे पीएमगांवों में बिजली दे रहे हैं, अब सभी घर भी होंगे रोशनसीएम ने संझौली व राजपुर में चुनावी सभाओं को किया संबोधित फोटो 13 एसएएस 28- राजपुर में सभा को संबोधित करते नीतीश कुमार. बिक्रमगंज/राजपुर (रोहतास). विधानसभा चुनाव के बाद सरकार बनी, तो छात्रों के खाते में चार लाख रुपये का क्रेडिट देंगे. कामगारों को रोजगार, बेरोजगारों को एक हजार रुपये महीना, गांवों में गली-नाली समेत सड़कों का निर्माण करायेंगे़. गांवों में बिजली तो दे ही रहे हैं. अब सभी घरों तक बिजली पहुंचाने की व्यवस्था करेंगे. ये बातें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने काराकाट विधानसभा क्षेत्र के संझौली के केके उच्च विद्यालय स्टेडियम में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहीं. सभा में सीएम ने कहा कि वह झूठ बोलनेवाले नहीं, काम करनेवाले हैं. उन्होंने कहा कि घूसकांड पर संज्ञान लेते हुए तत्काल अपने मंत्री को पद से हटा दिया. उनकी उम्मीदवारी तक रद्द कर दी. लेकिन, इस पर उन्हें बोलने का क्या हक है, जिन्होंने तीन करोड़ रुपये पकड़ाने पर भी दोषियों को पहले सांसद व फिर मंत्री बनवाया. उन्होंने किस नैतिकता पर हमारे जमीर को ललकारा. हम बिहारी स्वाभिमानी हैं. यहां का शासन बिहारी चलायेगा, न कि बाहरी. देश चलाने का आपने अधिकार दिया, अब बिहार भी चलाने की बात करते हैं. अब मोदी जी पीएम से सीएम बनेंगे? आरक्षण पर बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि जब आरएसएस से मोहन भागवत ने आरक्षण की समीक्षा की बात कहीं, तो मोदी जी की क्या हैसियत है कि वह भागवत के मत को नकार दें. माेदी जी चुनाव में जुमला फेकेंगे और फिर वहीं करेंगे, जो आरएसएस वाले कहेंगे. फैसला आपको करना है कि आरक्षण चाहिए या नहीं. राजपुर के कन्या हाइस्कूल मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनमें दोष निकालनेवाले पहले अपने गिरेबां में झांकें. बिहार अपनी बदौलत नयी ऊंचाई प्राप्त करेगा. उसे किसी की मेहरबानी की जररूत नहीं है. प्रधानमंत्री अपनी हर सभा में जंगलराज-जंगलराज का ढोल पीट कर महागंठबंधन के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं. बिहार में जंगलराज नहीं, कानूनराज है.नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा में नेतृत्व का अकाल पड़ गया है, जो प्रधानमंत्री के नेतृत्व में चुनाव लड़ा जा रहा है. पीएम कहते कुछ, और करते कुछ और हैं. वह कहते हैं कि भाजपा शासित राज्यों में कानून का राज है, तो फिर गुजरात का पंचायत चुनाव क्यों नहीं हुआ. राजपुर व संझौली की सभाअों में सीएम ने कहा कि बिहार मॉडल को दुनिया जानती है. यहां गुजरात मॉडल को बताने की जरूरत नहीं है. गुजरात तो देश में कुपोषण के मामले में नंबर वन राज्य है. यह भारत सरकार के आंकड़े बताते हैं. गुजरात के 39 प्रतिशत घरों में आज भी शौचालय नहीं हैं. वहां की महिलाएं कुपोषण की शिकार है. केंद्र सरकार के अापराधिक आंकड़े के अनुसार, बिहार का 22वां स्थान है, जबकी दिल्ली, जहां पीएम अपने हाथों में कानून लेकर बैठे हैं, वह पहले स्थान पर है.चुनावी सभाओं में नीतीश कुमार ने लोगों से कहा कि विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में भाजपा का सुपड़ा साफ हो गया है. दूसरे चरण में यहां भी भाजपा का सुपड़ा साफ कर दीजिए. उन्होंने सभाओं में काराकाट विधानसभा क्षेत्र से महागंठबंधन के प्रत्याशी संजय यादव व नोखा विधानसभा क्षेत्र के महागठबंधन प्रत्याशी को जिताने की अपील की. राजपुर की सभा में बलिगांव पंचायत के मुखिया संदीप चौधरी ने शेरसाह सूरी का प्रतीक चिह्न मुख्यमंत्री को भेट किया़
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें