अब शहर होगा अतिक्रमणमुक्त

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कार्रवाई . नप प्रशासन ने अतिक्रमणकारियों को 24 घंटे का दिया अल्टीमेटम

प्रचार करा अवैध कब्जे को हटाने की दी चेतावनी
एनएच ,मेन रोड व बाजार के सभी पथों पर काबिज हैं अतिक्रमणकारी
जहानाबाद : शहर के लगभग सभी प्रमुख स्थानों पर किये गये हर तरह के अतिक्रमण से मुक्ति मिलने के आसार हैं. इसके लिए नगर पर्षद प्रशासन सजग हुआ है. शहर के सभी इलाके में बड़े पैमाने पर अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाने की प्रशासनिक तैयारियां पूरी कर ली गयी है. जिन लोगों ने सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा जमा रखा है वैसे लोगों को 24 घंटे के भीतर हर तरह के अतिक्रमण हटाने का आदेश दिये गये हैं. शहर के सभी इलाके में लाउडस्पीकर से प्रचार कराया गया है. साफ कहा गया है
कि जिन-जिन लोगों ने सड़कों पर ठेला, गुमटी ,छोटी-बड़ी दुकानें बना रखी है ,वे हटा लें. जिन-जिन लोगों ने बालू, पत्थर ,लकड़ी दुकान या गैरेज खोलकर अवैध ढंग से व्यवसाय फैला रखा है वे स्वत: हटा लें. निर्धारित अवधि के भीतर ऐसा नहीं करने पर सड़कों पर से उनके सामान और गुमटियां तो जब्त की ही जायेंगी ,अतिक्रमणकारियों से जुर्माने की वसूली के साथ-साथ उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई भी की जायेगी.
चप्पे -चप्पे में है अतिक्रमण ,पैदल चलना भी है मुश्किल :शहर का कोई भी इलाका ऐसा नहीं है
जहां लोग अतिक्रमण से त्रस्त नहीं है. एनएच 110 और 83 के काको मोड़ ,स्टेशन रोड, ऊंटा मोड़, फिदा हुसैन मोड़, अस्पातल मोड़, बतीसभंरिया मोड़,आंबेडकर चौक, राजाबाजार के अलावा शहर के मेन रोड महलचक मोड़ ,पंच महल्ला मोड़ ,सट्टी मोड़ ,शिवाजी पथ, मटकोरी कुआं ,पुराने थाना रोड में अतिक्रमणकारियों ने ऐसा जाल बिछा रखा है कि छोटे वाहन की बात तो दूर राहगीरों को भी पैदल चलना मुश्किल है. रोज अक्सर जाम लगते हैं. अतिक्रमणकारियों से झगड़े होते है. बाजार में जिन लोगों की स्थायी दुकानें है
उनके आगे सैकड़ों की संख्या में अवैध ढंग से दुकानें सजायी जाती है. इस कारण सदैव विवाद की स्थिति बनी रहती है. उक्त सारा इलाका पूरी तरह व्यवसायिक क्षेत्र है.
फुटपाथ और नाले भी सुरक्षित नहीं :शहर के बीच से गुजरे एनएच 83 के दोनों किनारों पर बनाये गये बड़े नाले की पूरी तरह ढलाई कर उसे फुटपाथ का रूप दिया गया है. ताकि सड़क पर तेज रफ्तार में दौड़ती वाहनों से बचने के लिए लोग फुटपाथ का सहारा लें. लेकिन काको मोड़ ,स्टेशन रोड से कोर्ट एरिया के बतीसभंवरिया मोड़ तक फुटपाथ पर दुकानें सजा दी गयी है. स्टेशन के पास तो खुले में फुटपाथ पर ही मटन,मुर्गे, मछलियां बिक्री की जा रही है.
अरवल मोड़ से अस्पताल मोड़ तक बजाप्ता कुरसी -टेबल बिछा कई तरह की छोटी-छोटी होटलें संचालित हो रही है. ऐसी हालत में राहगीर सड़क पर खतरे को झेलते हुए आवागमन करने पर विवश हैं. अब प्रशासन के द्वारा शुरू की जाने वाली अतिक्रमण हटाने की मुहिम कहां तक सफल होगी, इस पर शहरवासियों की निगाहें टिकी है.
चलाया जायेगा अभियान
हर तरह के अतिक्रमण के विरुद्ध शहर में सघन अभियान चलेगा. अवैध कब्जे को हटाया जायेगा. अतिक्रमणकारियों पर कार्रवाई होगी. सूचना के बाद भी जो लोग अतिक्रमण नहीं हटायेंगे उस स्थान से अतिक्रमण हटा सामान जब्त किया जायेगा. हरजाना लिया जायेगा और संबंधित लोगों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई होगी.
संजीव कुमार ,कार्यपालक पदाधिकारी नगर पर्षद
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें