1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. champaran west
  5. bihar flood 2021 news badh in villages of champaran mausam updates as rain in monsoon 2021 caused flood situation in river news skt

Bihar Flood 2021: बाढ़ के पानी में डूबने लगे चंपारण के कई गांव, निचले इलाकों को किया जा रहा खाली, जलमग्न हुआ बगहा

प्रखंड बगहा एक के सलहा बरिअरवा पंचायत के झारमहूई गांव में मसान नदी के बाढ़ का भीषण पानी पूरे गांव में घुस गया है. एक दूसरे गांव से संपर्क मार्ग टूट गया है. सड़कें ध्वस्त हो गयी हैं. रोड पर दो फुट पानी बह रहा है. कई लोग दूसरे के घर शरण लिए हुए हैं. किसानों को काफी परिशानियों का सामना करना पड़ रहा है. धान की बीज पानी में डूब गया है. जिससे किसान चिंतित हो गये हैं कि इस वर्ष भी धान और गन्ना की फसल तबाह होने की प्रबल संभावना जताई है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
गांवों में घुसा बाढ़ का पानी
गांवों में घुसा बाढ़ का पानी
प्रभात खबर

प्रखंड बगहा एक के सलहा बरिअरवा पंचायत के झारमहूई गांव में मसान नदी के बाढ़ का भीषण पानी पूरे गांव में घुस गया है. एक दूसरे गांव से संपर्क मार्ग टूट गया है. सड़कें ध्वस्त हो गयी हैं. रोड पर दो फुट पानी बह रहा है. कई लोग दूसरे के घर शरण लिए हुए हैं. किसानों को काफी परिशानियों का सामना करना पड़ रहा है. धान की बीज पानी में डूब गया है. जिससे किसान चिंतित हो गये हैं कि इस वर्ष भी धान और गन्ना की फसल तबाह होने की प्रबल संभावना जताई है.

कई घर इस बाढ़ के पानी में बह गया है. लोग दूसरे के घर शरण लिए हुए हैं. झारमहुई दक्षिण मुहल्ला का संपर्क गांव से कट गया है. साथ ही सबके घरों में पानी घुस गया है. पश्चिम रोड पर दो फुट पानी बह रहा है. तमकुही को सलहा से जोड़ने वाला पीसीसी सड़क पानी में बह गया है. साथ ही मुडिला से बहुआरी मसान नदी पुल को जोड़ने वाला रोड टूट गया है. स्थानीय लोगों ने बताया कि दो वर्ष से मसान नदी पर गाइड बांध के लिए संघर्ष हो रहा है. बरसात के प्रारंभ में मसान नदी के भीषण बाढ़ से ग्रामीणों में दहशत और उदासीनता का माहौल व्याप्त है.

गंडक बराज के जलस्तर के बढ़ने के साथ ही गंडक नदी से सटे झंडू टोला, चकदहवा, बीन टोला आदि गांव में बाढ़ का पानी फिर प्रवेश कर जायेगा. जिससे लगभग एक हजार ग्रामीणों के घरों में पानी प्रवेश कर जाने की संभावना है और वे विस्थापितों का जीवन बांध पर गुजारने पर मजबूर हो जायेंगे. अधिकारियों की माने तो हो रही लगातार बारिश से गंडक बराज का जलस्तर काफी तेजी से बढ़ सकता है. जिससे गंडक नदी के तटवर्ती इलाकों में पानी प्रवेश करने की संभावना बढ़ जायेगी.

गंडक बराज में नेपाल से छूटे पानी के डिस्चार्ज के बढ़ने के साथ हीं गंडक नदी से समीपवर्ती वन क्षेत्र में गंडक के पानी की प्रवेश की संभावना प्रबल हो गई है. वन क्षेत्र में पानी के प्रवेश के साथ ही वन्यजीवों पर खतरे की तलवार लटकने की संभावना भी बढ़ गयी है. अनुमान लगाया जा रहा है कि जिस तरह से गंडक नदी का जलस्तर बढ़ रहा है. उस तरह वीटीआर क्षेत्र में कभी भी पानी प्रवेश कर सकता है. गंडक बराज के जलस्तर में हो रही वृद्धि लगातार जारी है.

वाल्मीकिनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत चंपापुर गोनौली पंचायत के गोनौली बाजार, भठईया टोला, गोनौली बनहवा टोला और पोखरहवा टोला में दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के कारण मनोर पहाड़ी नदी उफान पर है. उसका पानी तटवर्ती गांवों में घुसना शुरू हो गया है. जिससे ग्रामीणों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. गांव जलमग्न होने लगे हैं.

बताते चलें कि मनोर पहाड़ी नदी है. जिसमें बरसात के दिनों में पानी का प्रवाह काफी बढ़ जाता है और मनोर नदी के तटवर्ती गांवों में पानी तबाही भी मचाता है. ग्रामीणों ने जिला पार्षद के माध्यम से इस समस्या से निजात दिलाने की मांग की है. जिला पार्षद ने वरीय अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए बताया कि नदी का पानी लोगों के घरों में प्रवेश कर गया है. जिससे जान माल की परेशानियों में वृद्धि हो गयी है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें