1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. criminals on bike opened fire on college personnel

बाइक पर आये अपराधियों ने कॉलेज कर्मी पर चलायी गोली

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

भागलपुर: बरारी थाना क्षेत्र के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी मोहल्ला में एक बार फिर गोली चली. जानकारी के अनुसार रविवार देर शाम हाउसिंग कॉलोनी में किराये के मकान में रहने वाले आइटीआइ कॉलेज कर्मी आनंदी प्रसाद पर बाइक सवार अपराधियों ने गोली चला दी. गोली उनके ठीक ऊपर से गुजर कर उनके दरवाजे पर जा लगी, जिससे वह बाल बाल बच गये. घटना के तुरंत बाद बरारी पुलिस मौके पर पहुंची, वहीं थानाध्यक्ष ने इस बात की जानकारी वरीय अधिकारियों को भी दी. जिसके बाद एसएसपी के निर्देश पर सिटी डीएसपी भी मौके पर पहुंचे और अपनी जांच शुरू कर दी. इस दौरान उन्होंने पीड़ित कॉलेज कर्मी से पूरी घटना की जानकारी ली. हालांकि पीड़ित आनंदी प्रसाद ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध उनपर गोली चलाने का बयान दिया है.

इधर, पीड़ित का बयान दर्ज कर पुलिस मामले की तहकीकात में जुट गयी है. देर रात तक मामले में पुलिस अपराधियों की पहचान नहीं कर सकी थी. जानकारी के अनुसार घटना रविवार शाम पांच बजे के बाद की बतायी जा रही है. उन्होंने सिटी डीएसपी को बताया है कि वह रिटायर्ड इंजीनियर बीपी सिंह के घर में किराये पर रहते हैं. उन्होंने बताया कि लॉकडाउन को लेकर वह घर में ही रहते हैं.

रविवार शाम करीब पांच बजे के बाद वह अपने घर के दरवाजे पर खड़े थे, इसी दौरान एक बाइक पर सवार दो अपराधी उनके गेट के पास पहुंचे और उनसे किराये पर घर लेने की बात कहते हुए कमरा खाली है कि नहीं यह पूछा. जवाब में उन्होंने कहा कि घर में कोई कमरा खाली नहीं है. किराये का कमरा ढूंढना है, तो मोहल्ले के केयरटेकर रमन सिंह से जानकारी लें. जोकि बगल के मकान में रहते हैं. इतने में ही अपराधियों ने अचानक कमर से पिस्तौल निकाली और आनंदी प्रसाद पर गोली चला दी. पर गोली उनके सिर के ऊपर से गुजरते हुए गेट के उपरी हिस्से में लगी. आनंदी प्रसाद ने बताया कि उनकी किसी से भी दुश्मनी नहीं है और उनपर गोली चलाने वाले अपराधियों को वह पहचानते भी नहीं हैं.

एक वर्ष पूर्व रंगदारी को लेकर महिला को मार दी थी गोली: 24 मार्च 2019 को रात करीब साढ़े आठ बजे किराये पर घर लेने के नाम पर घुसे अपराधियों ने 77 वर्षीय महिला पर गोली चला दी थी. हालांकि महिला बाल-बाल बच गयी थी. मामले की जांच में बाद में यह खुलासा हुआ था कि अपराधी इंदू देवी सहित हाउसिंग कॉलोनी के रहने वाले अन्य लोगों रंगबाजी टैक्स के तौर पर 50-50 हजार रुपये की मांग कर रहे थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें