1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bhagalpur no 20 barrier in vaccination children of 12 14 age returning without taking vaccine ksl

Bhagalpur: वैक्‍सीनेशन में 'नंबर 20' का रोड़ा, बिना वैक्सीन लिये लौट रहे 12-14 उम्र के बच्चे

वैक्‍सीनेशन में 'नंबर 20' एक रोड़ा बन रहा है. 12 से 14 उम्र के बच्चों की संख्या एक साथ 20 नहीं पहुंचने पर बिना वैक्सीन लिये बच्चे लौट रहे हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bhagalpur: अब तक 61 हजार बच्चों को दी जा चुकी है वैक्सीन
Bhagalpur: अब तक 61 हजार बच्चों को दी जा चुकी है वैक्सीन
file

Bhagalpur: भागलपुर में अब तक 12 से 14 वर्ष की आयु के करीब 61 हजार बच्चों को वैक्सीन दी जा चुकी है. परीक्षा और नये सत्र में नामांकन को लेकर वैक्सीनेशन के लिए 12 से 14 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चे अभी वैक्सीनेशन सेंटर पर कम पहुंच रहे हैं. इससे 'नंबर 20' यानी 20 लोगों की संख्या पूरी नहीं होने से वैक्सीन देने में परेशानी आ रही है.

वैक्सीनेशन सेंटर पर नहीं पहुंच पा रहे एक साथ 20 बच्चे

भागलपुर में बच्चों को वैक्सीन दिलाने के लिए पहले काफी भीड़ लगी रहती थी. लेकिन, अब वैक्सीनेशन सेंटर पर 12 से 14 वर्ष की आयु वर्ग के 20 बच्चे भी नहीं पहुंच पा रहे हैं. इससे वैक्सीन देने में परेशानी होरी है. मालूम हो कि एक वाइल मे 20 बच्चों को वैक्सीन दी जानी है.

तीन मार्च से दी जा रही 12 से 14 वर्ष के बच्चों को वैक्सीन

गौरतलब हो कि भागलपुर में 12 से 14 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चों को तीन मार्च से कार्बीवेक्स वैक्सीन दी जा रही है. मार्च में परीक्षा के कारण वैक्सीनेशन सेंटर पर आनेवाले बच्चों की संख्या काफी कम रही है. कई केंद्रों पर एक-दो बार ही बच्चों का वैक्सीनेशन हो सका है.

अब तक करीब 61 हजार बच्चों को दी जा चुकी है वैक्सीन

वैक्सीनेशन सेंटर पर आनेवाले बच्चों की संख्या 20 नहीं होने पर केंद्र पर पहुंचनेवाले बच्चों का मोबाइल नंबर ले लिया जाता है. जब बच्चों की संख्या 20 पहुंचती है, तो उन्हें फोन कर बुला लिया जाता है. मालूम हो कि अब तक 12 से 14 वर्ष की आयु वर्ग के करीब 61 हजार बच्चों को वैक्सीन दी जा चुकी है.

मार्च महीने में परीक्षा के कारण बच्चों की संख्या घटी

बताया जाता है कि मार्च महीने में परीक्षा के कारण तबीयत खराब होने के डर से बच्चे वैक्सीन लेने से परहेज करते रहे हैं. हालांकि, अब उम्मीद जतायी जा रही है कि परीक्षा परिणाम आने के बाद बच्चों के वैक्सीनेशन सेंटर आने की संख्या में बढ़ोतरी होगी.

बच्चों को वैक्सीन दिलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग लोगों को करेगा जागरूक

सिविल सर्जन डॉ उमेश शर्मा के मुताबिक, मार्च महीने में परीक्षा होने के कारण काफी बच्चे वैक्सीन लगवाने से परहेज करते रहे हैं. अब परीक्षा परिणाम आने के बाद बच्चों को वैक्सीन देने की संख्या में बढ़ोतरी होने की उम्मीद है. साथ ही उन्होंने कहा है कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से भी बच्चों को वैक्सीन दिलाने के लिए लोगों को जागरूक किया जायेगा.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें