पीएम को पत्र लिख प्रकट करेंगे कृतज्ञता : डॉ कुमार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

भागलपुर: एकेआइइ में सोमवार को सेमिनार का आयोजन किया गया. इसमें वर्तमान सरकार के चिंतन विषय पर वक्ताओं ने विचार व्यक्त किया. संस्थान के निदेशक डॉ अमित कुमार ने कहा कि हाल में देश के प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में दूरस्थ व ऑनलाइन शिक्षा के महत्व पर कहा था कि सुदूर ग्रामीण इलाकों तक ऑनलाइन व दूरस्थ शिक्षा के जरिये ही विकास लाया जा सकता है.

शहरों जैसी सुविधाएं और शिक्षा अगर हम ग्रामीण परिवेश तक ला सकें, तो इस देश में सबका विकास संभव है. डॉ कुमार ने सरकार द्वारा शिक्षा के उक्त क्षेत्र में व्यक्त किये गये संभावनाओं के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया. उन्होंने कहा कि दूरस्थ व ऑनलाइन शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता को लेकर बनायी जानेवाली राष्ट्रीय शिक्षा नीति का स्वागत किया जाना चाहिए. प्रधानमंत्री द्वारा उठाये जानेवाले कदम के प्रति हम जैसे शिक्षण संस्थानों से जुड़े लोगों को पत्र व अन्य माध्यम से कृतज्ञता प्रकट करनी चाहिए.

भारत जैसे युवाओं के देश को अंतिम पंक्ति के युवाओं तक उच्च शिक्षा की अलग जगानी होगी. इ-लाइब्रेरी की शुरुआत भी संस्थान द्वारा अमेरिका की एक प्रसिद्ध कंपनी के सहयोग से हाल के दिनों में की गयी है. इससे हर हाथ को हुनर जैसी सोच को धरातल पर लाने में मदद मिलेगी. उपनिदेशक डॉ राजेश कुमार ने कहा कि संस्थान की ओर से शीघ्र ही प्रधानमंत्री द्वारा दिये गये संबोधन पर एक पत्र लिखा जायेगा. इसमें उनकी सोच के साथ कई सुझावों व अनुभवों को साझा किया जायेगा. इस मौके पर मीडिया प्रभारी परमानंद झा, कई शिक्षाविद व छात्र-छात्रएं मौजूद थे.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें