20 घंटे तक नहीं मिला बीएचटी, इलाज के अभाव में मरीज की मौत, हंगामा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

भागलपुर : गुरुवार की रात से ही गंभीर रूप से बीमार मरीज का बीएचटी गायब था. शुक्रवार को दिन भर न तो मरीज का बीएचटी ढूंढ़ा गया और न ही मरीज का इलाज हुआ. शुक्रवार को हरकत में आया अस्पताल प्रशासन जब तक सक्रिय होता और मरीज का डुप्लीकेट बीएचटी बना कर उसका इलाज शुरू कराया जाता, तब तक उसकी मौत हो गयी. इससे आक्रोशित परिजनों ने इमरजेंसी में हंगामा करते हुए डॉक्टर व नर्सों पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया. इससे खफा अस्पताल अधीक्षक ने डॉ भारत भूषण व उनकी यूनिट में शामिल सभी चिकित्सकों व इमरजेंसी के मेडिसिन वार्ड में शुक्रवार की सुबह व इवनिंग शिफ्ट में तैनात करीब एक दर्जन नर्सों के खिलाफ शोकॉज जारी करने का आदेश जारी कर दिया.

गोड्डा निवासी भगवान दास (75) को सांस में तकलीफ, सीने में दर्द आदि की शिकायत के साथ मायागंज अस्पताल के इमरजेंसी में 13 जनवरी को दोपहर बाद दो बजे भर्ती कराया गया था. जिस समय उसे लाया गया उस वक्त वह बेहोश था. बाद में उसकी हालत बिगड़ी तो उसे इमरजेंसी के रिससिटेशन रूम में भर्ती कर उसका इलाज कराया जा रहा था. भगवान दास के परिजनों के आरोपों की माने तो भगवान दास के इलाज से संबंधित बीएचटी गुरुवार की रात से ही गायब था. इससे उसका न तो डॉक्टराें ने
20 घंटे तक...
इलाज किया और न ही नर्सों ने उसे आवश्यक दवा व इंजेक्शन दी. शुक्रवार को वे लोग दिन भर नर्सों से इलाज न होने की बात कहते रहे लेकिन उनकी नहीं सुनी गयी. शाम करीब पांच बजे परिजनों ने इसकी शिकायत कंट्रोल रूम से की. कंट्रोल रूम के मैनेजर पवन पांडेय ने इसकी सूचना तत्काल ही अस्पताल अधीक्षक को दी. अधीक्षक ने तत्काल ही भगवान दास का डुप्लीकेट बीएचटी बनाकर उसका इलाज करने का आदेश दिया. भगवान दास का बीएचटी बनाया ही जा रहा था
कि शुक्रवार की शाम करीब 5:15 बजे उसकी मौत हो गयी. मौत के बाद परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. मृतक के घर की एक लड़की तो रो-रोकर आरोप लगा रही थी कि मायागंज अस्पताल के डॉक्टर व नर्सों की लापरवाही ने उसके पिता की जान ले ली. बाद में अस्पताल प्रबंधन ने पूरी कार्यवाही करते हुए लाश को एंबुलेंस से भिजवाने का आश्वासन दिया, तब जाकर परिजन माने.
परिजनों ने लगाया इलाज में लापरवाही का आरोप
सांस लेने में तकलीफ के कारण गोड्डा के वृद्ध भगवान दास को 13 जनवरी को कराया गया था भर्ती
डॉ भारत भूषण एवं उनकी पूरी टीम तथा इमरजेंसी के मेडिसिन वार्ड में शुक्रवार की सुबह व शाम की शिफ्ट में तैनात नर्सों के खिलाफ शोकॉज जारी करने का आदेश जारी कर दिया गया है.
डॉ आरसी मंडल, अधीक्षक जेएलएनएमसीएच
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें