IND vs SA : दक्षिण अफ्रीका से बदला लेने उतरेगी टीम इंडिया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

-मैच का समय : दोपहर डेढ़ बजे से-

इंदौर : अपने कैरियर के सबसे कठिन दौर से गुजर रहे कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और लगातार हार का सामना कर रही भारतीय क्रिकेट टीम कल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे एक दिवसीय क्रिकेट मैच में जीत की राह पर लौटने के इरादे से उतरेंगे.

दक्षिण अफ्रीकी टीम के मौजूदा दौरे पर भारत ने अभी तक जीत का स्वाद नहीं चखा है. उसे दो टी20 मैचों में पराजय झेलनी पड़ी और कानपुर में पहला वनडे पांच रन से हार गयी.

आलोचकों के कोपभाजन बने धोनी के लिए स्थिति काफी चुनौतीपूर्ण है. विश्व कप सेमीफाइनल में हार के बाद से यह साल उनके लिए अच्छा नहीं रहा है. आईपीएल फाइनल में हार के बाद बांग्लादेश के हाथों वनडे श्रृंखला और दक्षिण अफ्रीका से टी20 श्रृंखला में मिली हार ने उनके सुनहरे कैरियर में काले अध्याय जोड़ दिये हैं. बतौर बल्लेबाज भी वह अब ‘मैच फिनिशर' नजर नहीं आ रहे.
पहले वनडे में उनके पास वापसी का शानदार मौका था लेकिन वह निर्णायक मौके पर वह कमाल नहीं कर सके जो हमेशा करते आये हैं.

भारत को आखिरी ओवर में 11 रन चाहिए थे लेकिन ‘कैप्टन कूल ' जीत तक नहीं ले जा सके. अपनी 30 गेंद पर 31 रन की पारी में उन्होंने बस एक चौका जड़ा.टी20 विश्व कप निकट है और ऐसे में धोनी के पास अब अधिक समय नहीं है. कल सभी की नजरें उन पर और उनकी कप्तानी पर होगी.
भारतीय बल्लेबाजी क्रम बेहद मजबूत है जिसमें सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा फार्म में हैं. रोहित ने धर्मशाला में शतक जमाने के बाद कानपुर में 150 रन बनाये. रोहित के सलामी जोड़ीदार शिखर धवन का फार्म चिंता का सबब है जो बड़ी पारी खेलने की फिराक में होंगे. टीम में वापसी करने वाले अजिंक्य रहाणे ने कानपुर में 60 रन बनाये और वह इस फार्म को बरकरार रखना चाहेंगे. विराट कोहली पर भी अच्छी पारी खेलने का दबाव होगा.

सुरेश रैना और स्टुअर्ट बिन्नी भी अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर सके हैं. धोनी के लिए चिंता का कारण गेंदबाजों का खराब फार्म भी होगा. फार्म में चल रहे एकमात्र गेंदबाज आर अश्विन टीम में नहीं हैं जिनकी बाजू में खिंचाव आ गया है. भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव का तेज आक्रमण दक्षिण अफ्रीका के सामने चल नहीं सका. एबी डिविलियर्स कानपुर में टीम को 300 रन के पार ले गये जिन्होंने 73 गेंद में 104 रन बनाये. भारतीय गेंदबाजों ने आखिरी दस ओवरों में 100 से अधिक रन दिये. अश्विन और लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने हालांकि बेहतर प्रदर्शन किया था. अश्विन की जगह टीम में अनुभवी हरभजन सिंह ने ली है. दूसरी ओर दक्षिण अफ्रीका की नजरें भारतीय सरजमीं पर पहली वनडे श्रृंखला जीतने पर है. मोर्नी मोर्कल और डेल स्टेन की वापसी से उनका गेंदबाजी आक्रमण और मजबूत हुआ है.

युवा कागिसो रबाड़ा ने टी20 में प्रभावित किया और कानपुर में आखिरी ओवर में भी ‘कूल' रहकर गेंदबाजी की. लेग स्पिनर इमरान ताहिर अपनी प्रतिभा साबित कर ही चुके हैं. बल्लेबाजी की अगुवाई खुद डिविलियर्स कर रहे हैं जबकि फाफ डु प्लेसिस भी फार्म में है. जेपी डुमिनी ने टी20 में बेहतरीन प्रदर्शन किया. उनके अलावा हाशिम अमला, डेविड मिलर, क्विंटन डिकाक, फरहान बेहार्डियेन टीम में हैं. भारत ने इस मैदान पर तीन वनडे खेलकर तीनों जीते हैं.

टीमें : भारत : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान ), हरभजन सिंह, स्टुअर्ट बिन्नी, शिखर धवन, विराट कोहली, भुवनेश्वर कुमार, अक्षर पटेल, अजिंक्य रहाणे, सुरेश रैना, अंबाती रायुडू, मोहित शर्मा, रोहित शर्मा, उमेश यादव, गुरकीरत सिंह और अमित मिश्रा.

दक्षिण अफ्रीका
: एबी डिविलियर्स ( कप्तान ), हाशिम अमला, क्विंटन डिकाक, फाफ डु प्लेसिस, जेपी डुमिनी, डेविड मिलर, फरहान बेहार्डियेन, क्रिस मौरिस, खाया जोंडो, आरोन फागिंसो, इमरान ताहिर, डेल स्टेन, मोर्नी मोर्कल, काइल एबोट, कागिसो रबाडा.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें