Advertisement

ranchi

  • Jul 13 2019 2:35AM
Advertisement

लातेहार कांड बलि नहीं : बच्ची से गलत हरकत करते निर्मल ने देखा, तो सुनील ने दोनों को मार डाला

लातेहार कांड बलि नहीं : बच्ची से गलत हरकत करते निर्मल ने देखा, तो सुनील ने दोनों को मार डाला

लातेहार  : मनिका थाना क्षेत्र के सेमहरट टोला में दो बच्चों की सिर कटी लाश की गुत्थी सुलझ गयी है. पुलिस ने एक बच्चे (निर्मल) का कटा सिर बरामद कर लिया है, बच्ची के कटे सिर की तलाश जारी है.  शुक्रवार को पलामू प्रक्षेत्र के डीआइजी विपुल शुक्ला ने कहा कि दोनों बच्चों की हत्या की गयी है, यह बलि नहीं है. घटना के आरोपी सुनील उरांव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उससे पूछताछ में पता चला कि सुनील उरांव के घर बच्ची गयी थी. उसे पकड़ कर सुनील गलत हरकत करने लगा.

 
 तभी दूसरा बच्चा निर्मल पहुंच गया. उसने सुनील को गलत हरकत करते देख लिया. इसके बाद सुनील ने दोनों बच्चों को पकड़ कर घर में बंद कर दिया और बुधवार रात में ही तेज धार हथियार से दोनों की गला रेत कर हत्या कर दी. हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिया गया है. 
 
डीआइजी ने कहा कि आरोपी को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर स्पीडी ट्रायल के लिए अनुरोध किया जायेगा. पुलिस कार्यालय में हुए प्रेस कांफ्रेंस में एसपी प्रशांत आनंद, बरवाडीह  एसडीपीओ अमरनाथ मिश्रा, सदर थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता व अन्य भी उपस्थित  थे. इससे पूर्व डीआइजी मनिका के सेमहरट टोला भी गये और घटनास्थल का मुआयना  किया.
 
डीआइजी बोले : पूर्व में बहनोई और चाचा की हत्या कर चुका है सुनील उरांव
हत्या में प्रयुक्त हथियार पुलिस ने बरामद िकया
गुरुवार देर रात 1:30 बजे निर्मल का कटा सिर बरामद, बच्ची के कटे सिर की तलाश जारी
सेमरहट टोला के एक किलोमीटर की परिधि में चल रहा सर्च अभियान
आरोपी ने घर के पीछे जमीन में गाड़ दिया था निर्मल का कटा सिर
डीआइजी ने बताया कि आरोपी सुनील उरांव ने पूछताछ में बताया कि निर्मल का कटा सिर उसने अपने घर के पीछे जमीन में गाड़ दिया था. उसकी  निशानदेही पर गुरुवार देर रात करीब 1:30 बजे निर्मल के कटे सिर को  बरामद कर लिया गया. बच्ची के कटे सिर की तलाश जारी है. 
 
 सुनील उरांव पुलिस को कुछ भी बता पाने में सहज नहीं है. वह कभी  कुआं, तो कभी नदी में बच्ची के कटे सिर को फेंकने की बात कह रहा है. गुरुवार रात मनिका थाना  प्रभारी प्रभाकर मुंडा ने डॉग स्क्वॉयड की मदद से सेमरहट टोला के पीछे नदी और बगल  के कुआं में भी तलाशी की. बच्ची के कटे सिर की तलाश में पुलिस के जवान कैंप लगा कर सेमरहट टोला के आसपास एक किलोमीटर की परिधि में सघन सर्च  अभियान चला रहे हैं. 
 
सुनील के मानसिक रोगी होने के संकेत, अस्पताल में चल रहा इलाज
डीआइजी विपुल शुक्ला ने कहा कि आरोपी सुनील उरांव के मानसिक रोगी होने के संकेत मिले हैं. वह फिलहाल सामान्य अवस्था में नहीं है और कुछ भी नहीं बोल पा रहा है. कड़ी सुरक्षा में सदर अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. डॉक्टर उसकी मानसिक स्थिति को देखते हुए उसका  इलाज कर रहे हैं. डीआइजी के अनुसार, सुनील की आपराधिक पृष्ठभूमि भी रही है.
 
 इससे पहले वह  अपने बहनोई डुडुआ भगत और गांव के एक चाचा की हत्या कर चुका है. सुनील के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए  उसकी बहन से भी पूछताछ की जा रही है. उधर, ग्रामीणों ने बताया कि सुनील झगड़ालू किस्म का है. गांव के कई लोगों से उसकी लड़ाई हो चुकी है. ग्रामीणों के अनुसार, एक सप्ताह पूर्व ही सुनील अपने ससुराल (पोलपोल पीढ़िया, पलामू) गया था और पत्नी के साथ मारपीट कर कपड़ा भी जला दिया था.
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement