Advertisement

patna

  • Jun 27 2017 8:43AM

ट्रेन दानापुर में, इंक्वायरी दिखा रहा जंकशन पहुंची

पटना : डिजिटल इंडिया के तहत रेलवे अपने यात्रियों को सही सूचना देने  को लेकर सेंटर फाॅर रेलवे इन्फाॅर्मेशन सिस्टम(क्रिस) के सहयोग से  नेशनल  ट्रेन इंक्वायरी सिस्टम (एनटीइएस) को डेवलप किया. स्टेशनों पर  वाइ-फाइ की सुविधा भी मुहैया करायी, ताकि रेलवे यात्रियों को सूचना  लेने के लिए पूछताछ काउंटरों पर जाना नहीं पड़े. लेकिन, एनटीइएस पर रनिंग ट्रेन स्टेटस की सही सूचना नहीं मिलती है. मुंबई-राजेंद्र नगर टर्मिनल एक्सप्रेस सोमवार की सुबह 9:38 बजे दानापुर स्टेशन पर खड़ी थी, लेकिन एनटीइएस पर सुबह 9:21 बजे ही ट्रेन जंकशन पहुंच चुकी थी. एनटीइएस पर ट्रेनों की गलत सूचना की वजह से रोजाना हजारों की संख्या में रेल यात्री परेशान होते हैं, लेकिन रेलवे अधिकारी इस समस्या को दूर करने में नाकाम हैं.
 
स्टेटस अपडेट में है गड़बड़ी : अप्रैल के अंतिम सप्ताह में रेलमंत्री ने सभी जोन को निर्देश दिया था कि प्रीमियम ट्रेनों का परिचालन ससमय सुनिश्चित कराएं, अन्यथा कार्रवाई की जायेगी. ट्रेनें विलंब होने के बावजूद एनटीइएस पर रनिंग ट्रेनों का स्टेटस अपडेट ससमय फीड कर दिया जाता है, ताकि ससमय परिचालन का रिकॉर्ड खराब नहीं हो. यही वजह है कि हावड़ा-राजेंद्र नगर, दुर्ग से राजेंद्र नगर आनेवाली साउथ विहार, दिल्ली से पटना आनेवाली सुविधा एक्सप्रेस, सहरसा-दानापुर इंटरसिटी सहित अमूमन ट्रेनों के स्टेटस अपडेट की सही जानकारी नहीं मिलती है और यात्री परेशान होते रहते हैं. 
 
शिकायत नहीं होती दूर 
 
एनटीइएस पर रेल यात्रियों को स्पॉट योर ट्रेन, लाइव स्टेशन, ट्रेन शेड्यूल, कैंसिल ट्रेन आदि की जानकारी मिलती है. इसमें अधिक गड़बड़ी स्पॉट योर ट्रेन में है. इसको लेकर रेलवे यात्री लगातार डीआरएम से शिकायत भी कर रहे हैं. डीआरएम शिकायत करनेवाले यात्रियों को आश्वासन भी देते हैं , लेकिन समस्या का निदान  नहीं किया जा रहा है. 
 
किया जाता है दुरुस्त
 
हां यह सही है कि टर्मिनेटिंग ट्रेनों की स्टेटस अपडेट में कभी-कभी तकनीकी खराबी की वजह से गलत टाइम दिखता है. हालांकि, शिकायत मिलने पर इसे दुरुस्त किया जाता है. 
अरविंद कुमार रजक, सीपीआरओ, पूमरे
 

Advertisement

Comments

Advertisement