Advertisement

Pathak Ka Patra

  • Sep 23 2019 1:47AM
Advertisement

बच्चा चोरी की अफवाह

देश के विभिन्न इलाकों में भीड़ द्वारा बच्चा चोर बताकर बेगुनाहों पर हमले की घटना तेजी से बढ़ रही है. भीड़ बच्चा चोरी के शक में कई लोगों की हत्या कर रही है. 
 
आश्चर्य यह कि कोई नहीं जानता कि बच्चा कहां और किसका चोरी हुआ. लोग इसका पता लगाने की कोशिश भी नहीं कर रहे. बस चोरी का हल्ला उठता है और लोग आक्रामक हो उठते हैं. डर से कई जगह लोगों ने अपने छोटे बच्चों को स्कूल भेजना बंद कर दिया है. प्राथमिक स्कूलों की कक्षाएं सूनी हो रही हैं. एक नहीं, कई राज्यों में बच्चा चोरी के नाम पर फैली अफवाह के बाद भीड़ सक्रिय हो जा रही है. 
 
वे नहीं जानते मार खाने वाला व्यक्ति निर्दोष है. उन्हें तो बस पकड़े गये व्यक्ति को खुद से सजा देकर ही संतुष्टि मिलती है. सबसे दुःखद तो यह है कि शक के आधार पर मानसिक रूप से कमजोर व्यक्ति को भी बच्चा चोर बताकर उस पर हमला किया जा रहा है. हिंसक भीड़ समाज के लिए सही नहीं. सरकार को इस दिशा में तुरंत कदम उठाना चाहिए.
दिवाकर दास, मधुपुर
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement