सेंसेक्स 35, 500 के पार, निफ्टी 10900 के पार पद्मावत : MP व राजस्थान सरकार की सुप्रीम कोर्ट में अपील, बदलें अपना आदेश
Advertisement

pakur

  • Dec 11 2017 7:44AM

साईमन मरांडी ने झारखंड को बना दिया थाईलैंड, पाकुड़ में करवायी चुंबन प्रतियोगिता, देर तक एक-दूसरे को चूमते रहे 18 जोड़े

साईमन मरांडी ने झारखंड को बना दिया थाईलैंड, पाकुड़ में करवायी चुंबन प्रतियोगिता, देर तक एक-दूसरे को चूमते रहे 18 जोड़े

लिट‍्टीपाड़ा : झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के वरिष्ठ विधायक साईमन मरांडी झारखंड को थाईलैंड बना रहे हैं. पाकुड़ जिले में उन्होंने एक ऐसी प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसकी उम्मीद कम से कम भारत में नहीं की जाती. लिट्टीपाड़ा में हर साल आयोजित होने वाले एक मेले में उन्होंने चुंबन प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसमें विवाहित जोड़ों ने खुलेआम एक-दूसरे को चूमा.

इसे भी पढ़ें : आईआरबी परीक्षा : हाईटेक बनियान की मदद से हो रही थी नकल, बिहार से झारखंड आया था नकल कराने वाला गिरोह

विधायक साइमन मरांडी एवं प्रो स्टीफन मरांडी की मौजूदगी में हुई यह प्रतियोगिता सिदो-कान्हू मेले में आकर्षण का केंद्र रही. इस क्षेत्र में पहली बार हुई चुंबन प्रतियोगिता को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी. झारखंड में पहली बार आयोजित ऐसी प्रतियोगिता में 18 जोड़ों ने हिस्सा लिया. इन्होंने हजारों लोगों के सामने निः संकोच होकर अपनी-अपनी पत्नी को चूमा. इसमें सबसे लंबे समय तक चुंबन करने वाले तीन जोड़ों को पुरस्कृत किया गया.

चुंबन प्रतियोगिता का आयोजन लिट्‌टीपाड़ा के विधायक साइमन मरांडी ने अपने पैतृक गांव तालपहाड़ी में लगने वाले डुमरिया मेले में कराया था. मरांडी का कहना है कि आदिवासी प्यार का इजहार करने में संकोची होते हैं, इसीलिए प्रेम और आधुनिकता को बढ़ावा देने के लिए यह प्रतियोगिता करवायी गयी.

इसे भी पढ़ें : झारखंड में असर दिखाने लगी ठंड, गिरेगा पारा, पटना में अब भी गर्मी, 13 के बाद आ सकती है ठंड

उन्होंने बताया कि अपने दिल की बात न बता पाने के कारण आदिवासियों में पिछले कुछ वर्षों से पति-पत्नी के बीच झगड़े और तलाक के मामले बढ़े हैं. पढ़े-लिखे न होने के कारण आदिवासी अपने परिवार को सामाजिक ढांचे में ढाल नहीं पाते हैं. इससे उनके व्यवहार और पारिवारिक रिश्ते कमजोर हो जाते हैं. इस तरह की प्रतियोगिता उनके मन के संकोच को दूर करेगी.

मेले में चुंबन प्रतियोगिता के अलावा आदिवासी व पहाड़िया नृत्य, गीत, लांगड़े नाच का भी आयोजन हुआ. इस मेले में जिले के सभी आदिवासी पहाड़िया समाज के लोग हिस्सा लेते हैं. कार्यक्रम में झामुमो जिलाध्यक्ष श्याम यादव सहित कई नेता मौजूद थे. भाजपा विधायक साहेब हांसदा ने चुंबन प्रतियोगिता का आयोजन करने के लिए झामुमो विधायक की निंदा की है.

Advertisement

Comments

Other Story