health

  • Jan 18 2020 9:52PM
Advertisement

बीमारियों से निजात, दीर्घायु होने के लिए जीवनशैली में बदलाव की खातिर चलेगा देशव्यापी अभियान

बीमारियों से निजात, दीर्घायु होने के लिए जीवनशैली में बदलाव की खातिर चलेगा देशव्यापी अभियान

नयी दिल्ली : लगातार बढ़ती बीमारियों के प्रकोप से निजात दिलाने और दीर्घायु जीवन के लिए जीवनशैली में सुधार की खातिर पूरे देश में स्वास्थ्य एवं आयुष मंत्रालय के सहयोग से जागरुकता अभियान चलाया जाएगा.

 

चिकित्सा क्षेत्र के अग्रणी भागीदारों के समूह ‘स्मार्ट भारत' की अध्यक्ष प्रीती मल्होत्रा ने जीवनशैली में बदलाव के लिए देश में आयोजित पहले अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में कहा कि मधुमेह से लेकर कैंसर तक, तमाम गंभीर बीमारियों के लिए गलत जीवनशैली जिम्मेदार है.

उन्होंने कहा कि भारत में इस समस्या के तेजी से प्रसार को देखते हुए जीवनशैली में सुधार के लिए सरकार और निजी क्षेत्र की भागीदारी से देशव्यापी जागरुकता अभियान चलाया जायेगा.

मल्होत्रा ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय और आयुष मंत्रालय के साथ चिकित्सा क्षेत्र के निजी पक्षकार दिल्ली के बाद देश के सभी छोटे बड़े शहरों में ‘वैलनेस कांफ्रेंस' का आयोजन कर लोगों को बतायेंगे कि खान-पान और रहन-सहन के तौर तरीकों में मामूली बदलाव से स्वास्थ्य पर कितना गंभीर प्रभाव पड़ता है, जिसका नतीजा मधुमेह से लेकर कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां हैं.

सम्मेलन में भारत सहित विभिन्न देशों के चिकित्सकों ने गलत जीवन शैली से जुड़े रोगों के प्रभावों पर चर्चा की. इस दौरान शिकागो विश्वविद्यालय के डाॅ ब्रियेन डिलेनी ने कहा कि जीवनशैली में बदलाव जनित रोगों का अल्पविकसित चिकित्सा सुविधाओं वाले भारत जैसे विकासशील देशों में व्यापक दुष्प्रभाव हुआ है. इसे रोकने में सरकार और निजी क्षेत्र द्वारा शुरू किये जाने वाले सघन जागरुकता अभियान की प्रभावी भूमिका रहेगी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement