Advertisement

gaya

  • May 19 2019 2:00AM
Advertisement

बुद्ध के आदर्शों का पालन कर विश्व को किया जा सकता संघर्षमुक्त

बोधगया : विश्व धरोहर महाबोधि मंदिर स्थित पवित्र बोधिवृक्ष की छांव तले महात्मा बुद्ध की 2563वीं जयंती समारोह आयोजित हुआ. इसमें मुख्य अतिथि मगध प्रमंडल की आयुक्त टीएन बिंद्येश्वरी ने कहा कि हम अत्यंत सौभाग्यशाली हैं कि इस पवित्र भूमि का पुण्य और आशीर्वाद मिल रहा है. हमें भगवान बुद्ध के बताये आदर्शों पर चलना चाहिए. यदि हम ऐसा करते हैं, तो विश्व को कलह, विवाद व संघर्ष से मुक्त किया जा सकता है.

 
आयुक्त ने कहा कि विश्व में शांति, करुणा व भाईचारे का माहौल कायम हो, इसके लिए हम सभी को प्रयास करना चाहिए और इसके लिए भगवान बुद्ध के उपदेश व आदर्श मददगार साबित होंगे. जयंती समारोह में डीएम सह बोधगया टेंपल मैनेजमेंट कमेटी के पदेन अध्यक्ष अभिषेक सिंह ने स्वागत भाषण करते हुए कहा कि बुद्ध जयंती के अवसर पर हम भगवान बुद्ध को श्रद्धा समर्पित करते हैं. यह दिवस बुद्ध के जन्म, ज्ञान प्राप्ति व महापरिनिर्वाण की घटना से जुड़ा है. हम उस महामानव के उपदेशों पर चल कर संसार को शांतिमय, करुणापूर्ण व भ्रतृत्वमय बनाने का संकल्प कर सकते हैं. डीएम ने कहा कि विश्व में शांति की स्थित बनाये रखने के लिए महात्मा बुद्ध के उपदेश प्रासंगिक है. डीएम ने आगत श्रद्धालुओं को यह भी आश्वासन दिया कि अगले वर्ष बुद्ध जयंती को और भी भव्य तरीके से व विशेष सुविधा के साथ आयोजित करने का प्रयास किया जायेगा.
 
इस अवसर पर बीटीएमसी द्वारा प्रकाशित वार्षिक पत्रिका 'प्रज्ञा' का विमोचन किया गया. जयंती समारोह की शुरुआत सुबह साढ़े सात बजे 80 फुट बुद्ध मूर्ति से महाबोधि मंदिर तक भिक्षुओं व श्रद्धालुओं के शांति मार्च से की गयी. इसमें थाइलैंड व वियतनाम के श्रद्धालुओं ने परंपरागत तरीके से झांकी निकाल कर लोगों को आकर्षित किया. बोधिवृक्ष के नीचे आयुक्त व वरीय बौद्ध भिक्षुओं ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया.
 
इसके बाद थेरवाद, पालि, महायान के तिब्बती, वियतनामी, जापानी व ताइवानी भाषा में संबंधित देशों के भिक्षुओं द्वारा  सुत्तपाठ किया गया. कार्यक्रम का समापन बीटीएमसी के सचिव एन दोरजे के धन्यवाद ज्ञापन से हुआ. इसके बाद बौद्ध भिक्षुओं को संघदान(भोजन) कराया गया व महाराष्ट्र से आये बौद्ध श्रद्धालुओं को कालचक्र मैदान में भोजन की व्यवस्था की गयी. बुद्ध जयंती समारोह को लेकर बोधगया में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी थी व एसएसपी राजीव मिश्रा खुद इस दौरान मौजूद रहे. समारोह में बीटीएमसी के सदस्य व स्थानीय लोग भी शामिल हुए. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement