Advertisement

garhwa

  • Sep 12 2019 4:50PM
Advertisement

झारखंड : गढ़वा जिला के मझिआंव में कहर बनकर गिरा वज्र, 8 लोगों की मौत, दो घायल

झारखंड : गढ़वा जिला के मझिआंव में कहर बनकर गिरा वज्र, 8 लोगों की मौत, दो घायल

गढ़वा : झारखंड के सुदूरवर्ती जिला गढ़वा में वज्रपात से सात लोगों की मौत हो गयी. गुरुवार को जिला के मझिआंव के लाहरपुरवा में यह हादसा हुआ. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इस घटना पर शोक व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन को निर्देश दिया है कि पीड़ित परिवारों को उचित मुआवजा दिया जाये. सीएम के निर्देश के बाद मृतकों के आश्रितों को 4-4 लाख रुपये का मुआवजा दिया जा रहा है.

गढ़वा जिले के मझिआंव नगर पंचायत के वार्ड नं 6 में दोपहर डेढ़ बजे अचानक आयी आंधी-पानी के दौरान हुए वज्रपात से आठ लोगों की मौत हो गयी. दो घायलों का गढ़वा के सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है.

मृतकों में श्रवण चौधरी का पुत्र कृष्णा चौधरी (15), मुरारी पटवा का पुत्र अंतु पटवा (16), राजेश चौधरी का पुत्र शुभम कुमार (20), बाबूलाल चौधरी का पुत्र पवन चौधरी (18), रमेश चौधरी का पुत्र संजय चौधरी (16), श्रवण चौधरी का पुत्र सोनू चौधरी (18), उपेंद्र चौधरी का पुत्र राजू चौधरी (15) एवं गोपाल चौधरी का पुत्र सुनील कुमार चौधरी (24) शामिल हैं.

राजन पटवा का पुत्र राजू पटवा (14) और रोशन पटवा (12) का गढ़वा सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है. बताया गया है कि वार्ड नं 6 में सभी लोग लोहरपुरवा टोला पर खेल रहे थे. इसी दौरान वर्षा शुरू हो गयी. वर्षा से बचने के लिए 10 लड़के एक पेड़ के नीचे छिप गये. इसी बीच वज्रपात हुआ और छह लोगों की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गयी. कई घायल हो गये.

सभी घायलों को गढ़वा के दर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां दो लड़कों ने दम तोड़ दिया. घटना से पूरे नगर पंचायत में शोक की लहर दौड़ गयी. लोग अस्पताल की ओर दौड़ पड़े. इस दौरान अस्पताल में घायल लोगों को देखने वालों का तांता लग गया.अस्पताल में चारों तरफ मृतकों के परिजनों की भीड़ जुट गयी. महिलाएं दहाड़ें मार-मारकर रो रही थीं.

सर डॉ पीयूष प्रमोद के जगह पर डॉ प्रशांत प्रमोद कर दीजिएगा

इधर, एसडीओ डॉ प्रशांत प्रमोद ने कहा कि घायलों के इलाज की अस्पताल में पूरी व्यवस्था की गयी है. डॉ की टीम घायलों का इलाज करने में लगी है. आठ लोगों की मौत हुई है और दो लोग घायल हैं. उन्होंने बताया कि सभी लोग महुआ पेड़ के नीचे बैठे हुए थे, जबकि वहीं बंधी हुई गाय को कुछ नहीं हुआ. एसडीओ ने कहा कि सरकारी प्रावधान के अनुरूप सभी पीड़ित परिवारों को मुआवजा दिया जायेगा.

उल्लेखनीय है कि गुरुवार सुबह 12:30 बजे मौसम विभाग के बुलेटिन में जिला में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश के साथ वज्रपात की भी चेतावनी जारी की गयी थी. शाम को 3:20 बजे जारी एक और तात्कालिक मौसम चेतावनी जारी की गयी, जिसमें कहा गया कि गढ़वा, पलामू के अलावा पाकुर, दुमका, साहेबगंज और गोड्डा में मेघ गर्जन के साथ वर्षा और वज्रपात की संभावना है.

उधर, श्री बंशीधर नगर थाना क्षेत्र के सिंहपुर ग्राम में वज्रपात से राधेश्याम राम की एक बछिया की मौत हो गयी. घटना बुधवार की रात लगभग 8 बजे की है. बुधवार की रात में वर्षा के क्रम में अचानक वज्रपात हुआ, जिससे बछिया की मौत हो गयी. बछिया घर के बाहर पेड़ से बंधी थी.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement