Advertisement

calcutta

  • May 19 2019 4:57PM
Advertisement

कांग्रेस और तृणमूल ने मोदी की केदारनाथ यात्रा के मीडिया कवरेज के खिलाफ आयोग को लिखा पत्र

कांग्रेस और तृणमूल ने मोदी की केदारनाथ यात्रा के मीडिया कवरेज के खिलाफ आयोग को लिखा पत्र

नयी दिल्ली/कोलकाता : कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने रविवार को चुनाव आयोग को पत्र लिख कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केदारनाथ यात्रा का मीडिया कवरेज आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन था.

कांग्रेस सांसद प्रदीप भट्टाचार्य ने कहा कि उन्होंने चुनाव आयोग से मोदी की यात्रा का मीडिया कवरेज बंद करने और कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया. भट्टाचार्य ने कहा, जिस तरह से उन्होंने (मोदी) अपनी केदारनाथ यात्रा का मीडिया कवरेज कराया वह और कुछ नहीं बल्कि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है. पूरी मीडिया में उनकी यात्रा छाई हुई है. क्या यह प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से मतदाताओं को चुनाव से पहले प्रभावित करने का तरीका नहीं है. उन्होंने बताया, यह बिल्कुल अनैतिक है. यात्रा के दौरान उनकी गतिविधियों का हर मिनट का ब्योरा मतदाताओं को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से प्रभावित करने के लिए गुप्त उद्देश्य के साथ व्यापक रूप से प्रचारित किया जा रहा है. ये गलत है.

तृणमूल कांग्रेस ने भी चुनाव आयोग को पत्र लिखकर शिकायत की है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा केदारनाथ मंदिर में मीडिया को संबोधित करना अनैतिक था और उनकी यात्रा का कवरेज मानदंडों का उल्लंघन है. साथ ही पार्टी ने मोदी की इस पवित्र तीर्थ स्थान की यात्रा को मिल रहे कवरेज को आदर्श आचार संहिता का गंभीर उल्लंघन भी करार दिया है. तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने चुनाव आयोग को लिखे पत्र में कहा है कि प्रधानमंत्री ने ऐलान किया कि केदारनाथ मंदिर के लिए मास्टर प्लान तैयार है. साथ ही उन्होंने मंदिर नगरी में जनता और मीडिया को संबोधित भी किया. उन्होंने कहा, आखिरी चरण के लिए चुनाव प्रचार 17 मई को शाम छह बजे भले ही थम गया, लेकिन अचरज की बात है कि नरेंद्र मोदी की केदारनाथ यात्रा को पिछले दो दिनों के दौरान लगातार कवर किया जाता रहा और इसका बड़े पैमाने पर राष्ट्रीय और स्थानीय मीडिया में प्रसारण किया जा रहा है. यह आदर्श आचार संहिता का गंभीर उल्लंघन है.

प्रधानमंत्री ने रविवार को सुबह हिमालयी क्षेत्र में स्थित केदारनाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की. मंदिर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मोदी ने ऐसे समय पर मंदिर की यात्रा करने की इजाजत देने के लिए निर्वाचन आयोग को धन्यवाद कहा जब लोकसभा चुनाव होने की वजह से आदर्श आचार संहिता लागू है. तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा, मतदाताओं को सीधे तौर पर या परोक्ष रूप से प्रभावित करने के मकसद से, उनकी यात्रा के दौरान हर मिनट की गतिविधि के ब्यौरे को व्यापक रूप से प्रचारित किया जा रहा है. पृष्ठभूमि से मोदी मोदी के नारे भी सुनायी दे रहे हैं. ओ ब्रायन ने कहा कि ये सारे कदम सोच समझकर उठाये गये हैं ताकि मतदान के दिन मतदाताओं को प्रभावित किया जा सके. पत्र में कहा गया है कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि चुनाव निकाय ने प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की.

तृणमूल नेता ने कहा, चुनाव आयोग लोकतांत्रिक प्रक्रिया की आंखें और कान हैं, लेकिन यह सर्वोच्च संस्था आदर्श आचार संहिता के गंभीर उल्लंघन पर अंधी-बहरी बनी हुई है. मैं आपसे तत्काल कार्रवाई करने और ऐसे गुप्त और अनुचित प्रचार के प्रसारण को बंद कराने का अनुरोध करता हूं जो नैतिक रूप से गलत भी है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement