1. home Hindi News
  2. national
  3. there will be a delay in the arrival of monsoon imd said will knock in kerala by june 3 aml

मॉनसून के आने में होगी थोड़ी देरी, आईएमडी ने कहा- 3 जून तक केरल में देगा दस्तक, इन राज्यों में होगी बारिश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
3 जून को केरल पहुंचेगा मॉनसून.
3 जून को केरल पहुंचेगा मॉनसून.
PTI Photo

नयी दिल्ली : इस साल मॉनसून (Monsoon) के आने में थोड़ी देरी होने की संभावना है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने कहा है कि 3 जून के आसपास मॉनसून केरल (Kerala) में दस्तक दे सकता है. कुछ दिनों पर आईएमडी ने 31 मई तक मॉनसून के केरल पहुंचने की संभावना जतायी थी. हालांकि प्राइवेट एजेंसी स्काइनेट वेदर का कहना है कि मॉनसून केरल में दस्तक दे चुकी है. आईएमडी ने इस साल बारिश सामान्य रहने का अनुमान लगाया है.

आईएमडी के महानिदेशक एम महापात्रा ने कहा कि एक जून से दक्षिण-पश्चिम हवाओं में धीरे-धीरे गति आयेगी और इसकी सहायता से तीन जून के आसपास केरल में मॉनसून पहुंच सकता है. इसके अगले पांच दिनों के दौरान देश के उत्तर-पूर्वी राज्यों के कुछ भागों में भारी बारिश होने की संभावना है. आम तौर पर एक जून को मॉनसून केरल में दस्तक दे देता है, लेकिन इस बाद इसमें दो दिन की देरी का अनुमान जताया गया है.

3 जून को केरल में मॉनसून के प्रवेश के साथ ही देश में बरसात का मौसम शुरू हो जायेगा. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, एक चक्रवाती परिसंचरण कर्नाटक तट से पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर बना हुआ है, जिसके अगले पांच दिनों के दौरान इस क्षेत्र में घूमने की संभावना है, जिससे केरल सहित प्रायद्वीपीय भारत में काफी बारिश हो सकती है.

आईएमडी के अनुसार, अगले 5 दिनों के दौरान केरल और माहे में अलग-अलग जगहों पर भारी वर्षा की संभावना है. वहीं तटीय कर्नाटक के क्षेत्र में 1 से 3 जून तक और दक्षिण कर्नाटक में 2 और 3 जून को भारी बारिश का अनुमान है. अगले 4-5 दिनों के दौरान दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत के शेष हिस्सों में छिटपुट वर्षा या गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है.

आईएमडी ने कहा कि एक पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र को प्रभावित कर रहा है और अगले 3-4 दिनों के दौरान उत्तरी अरब सागर से उत्तर पश्चिम के मैदानी इलाकों में निचले स्तर की नमी का प्रवेश जारी रहने की संभावना है. इसके प्रभाव से अगले 5 दिनों के दौरान अधिकतम तापमान में कोई खास बदलाव की संभावना नहीं है. अगले 4-5 दिनों के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र और उत्तर पश्चिम भारत के आसपास के मैदानी इलाकों में छिटपुट वर्षा या गरज के साथ छिटपुट बारिश की संभावना है.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें