1. home Hindi News
  2. national
  3. pm modi visit gujrat statue of unity iron man sardar patel latest updates arogya van sardar patel ko shradhanjali prt

National Unity Day 2020: स्टैयू ऑफ यूनिटी में 'लौहपुरुष' को पीएम मोदी देंगे श्रद्धांजलि, जानिये क्यों विख्यात है सरदार पटेल की यह प्रतिमा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी  में 'लौहपुरुष' को पीएम मोदी देंगे श्रद्धांजलि
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में 'लौहपुरुष' को पीएम मोदी देंगे श्रद्धांजलि
Prabhat khabar

National Unity Day 2020: पीएम मोदी अपने दो दिवसीय गुजरात के दौरान आज भारत के सबसे पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि देंगे. पीएम मोदी गोदावरी तट पर स्थित स्टैचू ऑफ यूनिटी में सरदार पटेल को श्रद्धांजलि देंगे. बता दें, आज सरदार वल्लभभाई पटेल की 137वीं जयंती है. स्टैचू ऑफ यूनिटी उन्हीं की याद में बनाया गया है.

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी : स्टैच्यू ऑफ यूनिटी भारत के पहले गृहमंत्री वल्लभभाई पटेल को समर्पित एक स्मारक है. गुजरात के तत्कालीन मुख्यमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने 31 अक्टूबर 2013 को सरदार पटेल के जन्मदिवस के मौके पर इस विशालकाय मूर्ति के निर्माण का शिलान्यास किया था. यह स्मारक सरदार सरोवर बांध से 3.2 किमी की दूरी साधू बेट नाम के स्थान पर है, जो नर्मदा नदी पर बना एक टापू है. यह विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति है. इसकी लम्बाई 182 मीटर यानी 597 फीट है. 31 अक्टूबर 2018 को इसका उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया था.

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की खास बातें

  • यह विश्व की सबसे ऊँची मूर्ति है.

  • इसकी लम्बाई 182 मीटर यानी 597 फीट है.

  • चीन की स्प्रिंग टैम्पल ऑफ बुद्ध विश्व की दूसरी सबसे ऊंची मूर्ति है.

  • बनने समय इसकी लागत करीब 3 हजार करोड़ रखी गयी थी.

  • इस मूर्ति का निर्माण अक्टूबर 2018 में पूरा हुआ.

  • इसका उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया

सरदार पटेल की स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की विशेषताएं

  • यह विश्व की सबसे ऊँची मूर्ति है.

  • इसकी लम्बाई 182 मीटर यानी 597 फीट है.

  • मूर्ति पर कांस्य लेपन इसे और खास बनाता है

  • स्मारक तक पहुंचने के लिये लिफ्ट लिफ्ट लगी है.

  • मूर्ति का त्रि-स्तरीय आधार इसे देखने में और आकर्षक बनाता है.

  • छत पर स्मारक उपवन, विशाल संग्रहालय और प्रदर्शनी हॉल है जिसमें सरदार पटेल की जीवन और उनके योगदानों को दर्शाया गया है.

  • प्रत्येक सोमवार को रखरखाव के लिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी स्मारक बंद रहता है.

भारत और दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा

  • स्टैचू ऑफ यूनिटी (केवडिया कॉलोनी, गुजरात), ऊंचाई: 182 मीटर

  • स्प्रिंग टेंपल बुद्धा (लुसान काउंटी, हेनान, चीन), ऊंचाई: 128 मीटर

  • लेकुअन सेक्या (खातकन ताउंग, म्यांमार), ऊंचाई: 116 मीटर

  • स्टैचू ऑफ लिबर्टी (न्यू यॉर्क, यूएसए), ऊंचाई: 93 मीटर

  • क्राइस्ट द रिडीमर (रियो डी जनेरो, ब्राजील), ऊंचाई: 38 मीटर

लौहपुरुष वल्लभभाई पटेल : लौहपुरुष के नाम से विख्यात सरदार पटेल का पूरा नाम वल्लभभाई झावेरभाई पटेल है, उनका जन्म 31 अक्टूबर 1875 को नडियाद में हुआ था. सरदार वल्लभभाई पटेल भारत के पहले गृहमंत्री थे. स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद देशी रियासतों का एकीकरण कर अखंड भारत के निर्माण में उनके योगदान को देश कभी नहीं भूल सकता. उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन को वैचारिक एवं क्रियात्मक रूप में एक नई दिशा दी. उनके जनम दिवस को पूरा देश यूनिटि डे के रुप में मनाता है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें