1. home Hindi News
  2. national
  3. 24 patients died due to lack of oxygen at chamarajanagar district hospital in karnataka yediyurappa government ordered an inquiry vwt

कर्नाटक : ऑक्सीजन की कमी के चलते चामराजनगर जिला अस्पताल में 24 मरीजों की मौत, येदियुरप्पा सरकार ने दिए जांच के आदेश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
चामराजनगर का जिला अस्पताल.
चामराजनगर का जिला अस्पताल.
फोटो साभार : एएनआई.

बेंगलुरु : कर्नाटक के चामराजनगर के जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी की वजह से बीते 24 घंटों के दौरान करीब दो दर्जन मरीजों की मौत हो जाने की खबर है. मामले से संबंधित अधिकारियों के हवाले से मीडिया में आ रही खबर के अनुसार, ऑक्सीजन की कमी से मरने वाले मरीजों में से करीब 23 मरीज अस्पताल में कोरोना संक्रमण का इलाज करा रहे थे. इस हादसे के बाद चामराजनगर के जिला अस्पताल में पूरी तरह से सन्नाटा पसरा हुआ है. उधर, मरीजों की मौत से गुस्साए परिजनों ने अस्पताल परिसर में प्रदर्शन भी किया.

चामराजनगर जिले के प्रभारी मंत्री एस सुरेश कुमार मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार, उन्होंने इस हादसे के बाद जिला प्रशासन को मरीजों की मौत के मामले की जांच कर ऑडिट रिपोर्ट सौंपने के आदेश जारी कर दिए हैं. हालांकि, जिला प्रभारी मंत्री सुरेश कुमार ने यह दावा भी किया है कि अस्पताल में सभी मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी के चलते नहीं हुई है.

उन्होंने कहा कि यह कहना गलत है कि अस्पताल में सभी 24 मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई है. अस्पताल में मरीजों की मौत रविवार की सुबह से सोमवार सुबह तक हुई है. ऑक्सीजन की कमी रविवार देर रात 12:30 बजे से 2:30 के बीच हुई थी. ऐसे में, यह कहना सही नहीं होगा. उधर, सूबे के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने भी चामराजनगर के डीसी से इस हादसे के बारे में जानकारी मांगी है.

जिला के प्रभारी मंत्री सुरेश कुमार ने आगे कहा कि मरीजों मौत की ऑडिट रिपोर्ट से ही पता चल सकेगा कि वे किस बीमारी से ग्रस्त थे और उन्हें कोई दूसरी गंभीर बीमारियां भी थीं या नहीं. उन्हें किसी परिस्थिति में अस्पताल लाया गया था. उन्होंने कहा कि जितने भी मरीजों की मौत हुई है, जरूरी नहीं कि सभी की मौत ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई हो. उन्होंने कहा कि अस्पताल में 6,000 लीटर लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन थी, लेकिन ऑक्सीजन सिलेंडरों की जरूरत थी.

कुमार ने कहा कि ऑक्सीजन सिलेंडर मैसूर से आने वाले थे, लेकिन उन्हें आने में कुछ समस्या हो गई. उन्होंने कहा कि उन्होंने यह स्थिति राज्य के मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री के निजी सचिव और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रताप रेड्डी राज्य में ऑक्सीजन आपूर्ति के स्थायी समाधान खोजने के आदेश दिए हैं. कुमार ने कहा कि मैसूर में ऑक्सीजन की समस्या जरूर है, लेकिन मैसुरु से चामराजनगर और मांड्या में ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए. चामराजनगर जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते 24 मरीजों की मौत तथा Breaking News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें।

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें