मणिशंकर के बयान पर कांग्रेस नेता नाराज, कहा : राहुल उन्‍हें पार्टी से निष्‍कासित करें, नहीं तो होगा नुकसान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : कांग्रेस से निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर एक बार फिर विवादों में हैं. पाकिस्‍तान के लाहौर में अपना प्रेम प्रकट करते हुए कहा था कि मैं पाकिस्‍तान से भी उतना ही प्रेम करता हूं, जितना भारत से. अय्यर के इस बयान के बाद पार्टी में उनको लेकर विवाद शुरू हो गया है. कांग्रेस नेता ऐसे बयान की वजह से मणिशंकर अय्यर को पार्टी से निष्‍कासित करने की मांग कर रहे हैं.

कांग्रेस सचिव और पूर्व सांसद हनुमंत राव कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को खत लिखकर पार्टी से बाहर करने की मांग करेंगे. हनुमंत राव ने अय्यर पर हमला बोलते हुए कहा कि उनके बयान की वजह से पार्टी को गुजरात चुनाव में नुकसान का सामना करना पड़ा था. इतना ही नहीं उन्हें पार्टी से निलंबित भी कर दिया गया, लेकिन फिर भी वो नहीं सुधरे हैं और फिर उल्‍टा-पुल्‍टा बयान दे रहे हैं.

हनुमंत राव ने कहा कि पार्टी के अंदर के लोग पार्टी को नुकसान पहुंचा रहे हैं. उनके विवादित बयानों का खामियाजा कांग्रेस को कर्नाटक चुनाव में भुगतना पड़ सकता है. इसलिए मणिशंकर अय्यर को तुरंत पार्टी से निष्कासित कर देना चाहिए.

आपको बता दें कि गुजरात चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'चायवाला' कहने पर राहुल गांधी ने मणिशंकर अय्यर को कांग्रेस से निलंबित कर दिया था. अय्यर ने इस बार पाकिस्तान के कराची शहर में कहा है कि पाकिस्तान तो रिश्ते संभालने के लिए भारत से बातचीत करना चाहता है, लेकिन भारत ही बातचीत से बचना चाहता है.

अय्यर ने कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध सामान्य करने की बात तो की जाती है, लेकिन दृष्टिकोण में बदलाव ना आने के कारण यह संभव नहीं हो पाता है. अय्यर ने बातचीत के लिए पाकिस्तान के पहल की सराहना की, लेकिन उन्होंने कहा कि ऐसी पहल भारत की ओर से नहीं हो रही है. उन्होंने कहा कि मुझे पाकिस्तान से प्रेम है और मैं चाहता हूं कि भारत भी अपने पड़ोसी से प्रेम करे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें