मुंबई में लगातार दूसरे दिन भारी बारिश, घर में ही दुबके हैं लोग, दो लाख कामकाजी लोगों को आज नहीं मिलेगा टिफिन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मुंबई : मुंबई शहर और उपनगरीय इलाकों में बुधवार को दूसरे दिन भारी बारिश हो रही है जिसके कारण मुंबई हवाईअड्डे पर विमान सेवाएं बाधित हैं और शहर में उपनगरीय रेल सेवा प्रभावित हुई. बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी के अनुसार, मूसलाधार बारिश के बाद किसी प्रकार की अप्रिय घटना होने की सूचना नहीं मिली है. भारी बारिश के मद्देनजर मुंबई मेट्रोपोलिटन क्षेत्र में स्कूल एवं कॉलेज बुधवार को बंद करने के निर्देश दिये गये हैं.

#MumbaiRains: मुंबई में भारी बारिश, बॉलीवुड सेलीब्रिटीज ने लोगों से सेफ रहने को कहा...

उन्होंने कहा, दक्षिण मुंबई, बोरीवली, कांदिवली, अंधेरी और भांडुप समेत मेट्रोपोलिस के कई इलाकों में भारी बारिश हुई. शहर के किसी भी हिस्से में किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली है. मुंबई पुलिस ने आज तीव्र ज्वारभाटे की चेतावनी दी है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के एक अधिकारी ने बताया कि कोलाबा वेधशाला ने मंगलवार सुबह साढे आठ बजे से आज सुबह साढे पांच बजे तक 210 मिमी बारिश दर्ज की जबकि सांता क्रूज वेधाशाला ने इसी दौरान 303.7 मिमी बारिश दर्ज की. आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि मछुआरों को गहरे समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी गयी है.

भारी बारिश और कम दृश्यता के कारण मुंबई हवाईअड्डे पर विमान परिचान बाधित हुआ है. मुख्य रनवे (0927) पर बीती रात स्पाइसजेट का एक विमान फिसल जाने से समस्या और बढ गयी. इसके कारण निजी हवाईअड्डा परिचालक को परिचालन द्वितीयक रनवे पर स्थानांतरित करना पडा है. अधिकारियों ने बताया कि 183 यात्रियों को ला रहा स्पाइसजेट बोइंग 737 विमान बारिश प्रभावित मुंबई में हवाईअड्डे पर उतरते समय गीले रनवे के कारण फिसल गया और कीचड में फंस गया. सभी यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. एक हवाईअड्डा अधिकारी ने बताया कि मुख्य रनवे पर स्पाइसजेट विमान के फंसे होने के कारण आज सुबह तक कम से कम 56 विमानों के मार्ग को विभिन्न हवाईअड्डों पर परिवर्तित किया गया.

मुंबई हवाईअड्डे के मुख्य रनवे पर बुधवार शाम से पहले परिचालन शुरु होना संभव नहीं है क्योंकि स्पाइसजेट का विमान वहां फंसा हुआ है. भारतीय हवाईअड्डा प्राधिकरण के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज बताया कि मुंबई हवाईअड्डा परिचालक को मुख्य रनवे के लिए अपराह्न दो बजे तक नोटाम (वायुकर्मियों को नोटिस) दिया गया है जिसका अर्थ यह है कि उस समय तक वहां विमान परिचालन नहीं किया जा सकता. अधिकारी ने बताया कि मुख्य रनवे को साफ करने में अनुमान से अधिक समय लग सकता है और परिचालन शाम से पहले शुरू होने की उम्मीद नहीं है. बारिश के बाद कई विमानन कंपनियों ने यात्रियों के लिए यात्रा परामर्श जारी किए है.

देश के दूसरे सबसे व्यस्त मुंबई हवाईअड्डे में प्रति घंटे 48 आवागमन के औसत से प्रति दिन करीब 930 विमानों का परिचालन होता है. अधिकारी ने बताया कि उपनगरीय ट्रेन सेवाएं 10 से 15 मिनट देरी से चल रही हैं. ट्रेनों में बुधवार को कम भीड़ देखी गयी क्योंकि भारी बारिश के पूर्वानुमान के कारण कई लोगों ने घरों में ही रहना उचित समझा. मुंबई पुलिस के अनुसार आज तडके हार्बर लाइन ट्रेन सेवाएं कुछ देर के लिए बाधित हो गईं लेकिन बाद में वे बहाल हो गयी. मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि रेल सेवा को सुचारु बनाने के लिए कल रात कम दूरी की कुछ लोकल ट्रेनें रद्द करनी पडी.

उदासी ने कहा, हमारी सेवाएं कल रात 10 बजे से मुख्य एवं हार्बर लाइनों पर नियमित अंतराल के बाद चल रही हैं लेकिन ट्रेनों के फेरे कम हैं और जलभराव वाले क्षेत्रों में सीमित गति से ट्रेन चल रही है. जलस्तर पर नजर रखने के लिए फील्ड स्टाफ और पर्यवेक्षकों को तैनात किया गया है. उन्होंने बताया कि वरिष्ठ रेलवे अधिकारी स्थिति पर नजर रख रहे हैं और स्टेशनों पर भीड के प्रबंधन के लिए रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) कर्मियों को तैनात किया गया है.

पश्चिम रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी लाइन पर भी ट्रेनें 10 से 15 मिनट की देरी से चल रही हैं. एक बयान में पश्चिम रेलवे ने बताया कि विरार के नालासोपारा में जलभराव के कारण विभिन्न स्थानों पर फंसी लंबी दूरी की ट्रेनों का मार्ग साफ कर दिया गया है. मध्य रेलवे एवं पश्चिम रेलवे के अधिकारियों के अनुसार मनमाड-मुंबई एक्सप्रेस, गुजरात एक्सप्रेस, सौराष्ट्र एक्सप्रेस, बांद्रा टर्मिनस सूरत इंटरसिटी एक्सप्रेस और मुंबई सेंट्रल-अहमदाबाद शताब्दी एक्सप्रेस जैसी कुछ इंटरसिटी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है.

बीएमसी के अधिकारी ने बताया कि शहर के दो बडे मार्गों पूर्वी एक्सप्रेस हाईवे और पश्चिमी एक्सप्रेस हाईवे पर यातायात धीमी गति से चल रहा है. बृहन्मुंबई विद्युत आपूर्ति एवं परिवहन (बेस्ट) के प्रवक्ता हनुमंत गोफाने ने बताया कि बसें सामान्य गति से चल रही हैं और मार्गों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. मुंबई के डब्बे वालों ने भारी बारिश के बाद उपनगरीय रेल सेवाओं के बाधित होने के कारण शहर में दो लाख से ज्यादा कामकाजी लोगों को आज टिफिन पहुंचाने में अपनी असमर्थता जाहिर की. टिफिन पहुंचाने वाले लोग अपने-अपने गंतव्य पर समय से खाने का डब्बा पहुंचाने के लिए उपनगरीय ट्रेनों से यात्रा करते हैं.

एक आईएमडी अधिकारी ने बताया कि सांता क्रूज वेधशाला ने सुबह साढे आठ बजे से कल रात साढे 11 बजे तक 225.3 मिमी बारिश दर्ज की गयी. उन्होंने बताया कि बारिश का यह आंकडा (204.5 मिमी या इससे अधिक) अत्यंत भारी बारिश की मौसम श्रेणी में आता है. अधिकारी ने बताया कि वेधशाला ने मात्र तीन घंटे में शाम साढे पांच से रात साढे आठ बजे तक 100 मिमी बारिश दर्ज की. बीएमसी के अधिकारियों ने बताया कि मुंबई में 12 घंटे में सितंबर में सर्वाधिक बारिश होने के मामले में कल का दिन दूसरे नंबर पर रहा. बीएमसी के स्वचालित मौसम केंद्रों में सुबह आठ बजे से रात 10 बजे तक जहां बारिश दर्ज की गयी उनमें नरीमन प्वाइंट (88 मिमी), वर्ली (110 मिमी), चेम्बूर (112 मिमी), मुलुंड (94 मिमी), अंधेरी (208 मिमी), बांद्रा (128 मिमी) और बोरीवली (204 मिमी) शामिल हैं.

मौसम विज्ञान विभाग ने गुरुवार तक भारी से अत्यंत भारी बारिश होने का पूर्वानुमान जताया है. किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटने के लिए सभी एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें