1. home Hindi News
  2. life and style
  3. avoid adulterated things on happy holi 2021 date 29 march know safety tips precautions for toxin free holi benefits of herbal colors and home made sweets recipes smt

Holi Safety Tips: इस बार ऐसे मनाएं मिलावट मुक्त होली, स्वाद से लेकर रंग तक में No Compromise

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ऐसे मनाएं मिलावट मुक्त होली
ऐसे मनाएं मिलावट मुक्त होली
Prabhat Khabar

Holi Safety Tips, Happy Holi 2021, Precautions: होली खेलना किसे पसंद नहीं, जब बात रंगों और गुलालों की हो तो बड़े भी बच्चे बन जाते है. तरह-तरह के पकवान , मेहमानों का घर आना, रंग और अबीर लगाना होली की बेहतरीन यादों में से एक है. पर जिस तरह से बाज़ारों में मिलावटी मिठाइयां और मरकरी व लेड युक्त रंगों का प्रचलन बढ़ रहा है, यह कई तरह की बिमारियों को भी न्योता दे रही है. इसलिए इस बार हम कुछ ऐसे उपाय आपको बताने जा रहे है जिससे आप मिलावट मुक्त होली खेल सकते है.

ऑर्गेनिक तथा हर्बल रंग है बेहतर विकल्प

बाज़ारों में मिलने वाले रंगों में मरकरी सल्फाइड, लेड, कॉपर सल्फेट, पारा,क्रोमियम आयोडाइड, पिसा हुआ शीशा व कांच, बालू, मिट्टी, चीनी डस्ट, स्टोन डस्ट, डीजल व ग्रीस जैसी खतरनाक चीजों की मिलावट होती है.इसलिए इस बार होली खेलते हुए ऑर्गेनिक तथा हर्बल रंगों का इस्तमाल करें. ये रंग बाज़ारों में मिलने के साथ-साथ आप अपने घरों में भी आसानी से बना सकते है.

गुलाब, गुड़हल, लाल स्याही के बीज व टेसू के फूलों, चुकंदर व अनार के रस से आप लाल रंग बना सकते हैं. वहीं गेंदे, सूरजमुखी, हल्दी, बेसन व केसर से पीला रंग बन सकता है.

घर पर बनाये मिठाइयां

होली आते ही दूध और खोये की डिमांड बढ़ जाती है. जिसकी कमी को पूरा करने के लिए दुकानदार मिलावट वाली मिठाइयों का इस्तेमाल शुरू कर देते है. इसलिए इस बार बाज़ारो से मिलावट वाली मिठाईयां लेन के बजाए घर पर ही आसानी से बनने वाले स्वादिस्ट मिठाइएं बनाये. जो न सिर्फ टेस्टी बल्कि हेल्थी भी है. माल-पुआ, दही-बड़े, गाजर के हलवे कुछ आसानी से बनने वाले पकवान है.

पैकेज्ड फ़ूड की एक्सपायरी डेट ज़रूर जांच लें

इस सीज़न में अगर आप पैकेज्ड फ़ूड लेने का प्लान बना रहे है तो एक बार इनकी एक्सपाइरी डेट ज़रूर जांच ले. इस समय खाद्य पदार्थो की मांग बढ़ जाने के कारण बाज़ार में एक्सपाइरी और नकली फ़ूड की बाढ़ सी आ जाती है. इसमें कौन असली है और कौन नकली ये पहचानना बहुत मुश्किल हो जाता है. इसलिए पैकेज्ड फ़ूड लेने से पहले एक बार इसकी जांच ज़रूर कर लें.

खोया लेने से पहले कर ले सत्यता की जांच

अगर होली की बात की जाये और मिठाइयों में खोया न हो तो इसकी मिठास फीकी सी लगती है. ऐसे में बाज़ारो में सिंथेटिक खोये की इतनी वेराइटी आ जाती है कि इनमें असली खोये को पहचानना बहुत मुश्किल हो जाता है. इसलिए खोया लेने से पहले इसकी जांच ज़रूर कर लें. सिंथेटिक खोये को अगर पानी में मिलाकर फेंटा जाये तो वह टुकड़ों में बंट जाता है, जबकि असली खोया पानी में घुल जाता. इसके अलावा मिठाई की जांच के लिए मिठाई में टिंचर आयोडीन की 5-7 बूंदें और 5-7 दानें चीनी के डाल दें और उसे गर्म करें. अगर मिठाई नकली होगी तो उसका रंग नीला हो जाएगा.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें