1. home Hindi News
  2. election
  3. up assembly elections
  4. up chunav 2022 seventh phase voting facilities for voters on poling booths acy

UP Chunav 7th Phase Voting: 2017 से अलग है 2022 का चुनाव, पोलिंग बूथ पर किये गये ये खास इंतजाम

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में चुनाव आयोग ने मतदान केंद्रों पर मतदाताओं के लिए खास व्यवस्था की है. इस बार डोरस्टेप वोटिंग की भी सुविधा शुरू की गई है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Varanasi
Updated Date
UP Election 7th Phase Voting
UP Election 7th Phase Voting
सोशल मीडिया (फाइल फोटो)

Uttar Pradesh Vidhan Sabha Chunav 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के 6 चरण पूरे हो चुके हैं. सातवें चरण में तीन मार्च को 9 जिलों की 54 विधानसभा सीटों पर मतदान होना है. ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस बार मतदाताओं को पोलिंग बूथ पर कौन-कौन सी सुविधाएं दी गई हैं...

डोरस्टेप वोटिंग की रहेगी सुविधा

चुनाव आयोग ने इस बार 80 साल से अधिक वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों और कोरोना संक्रमण से पीड़ित लोगों के लिए डोरस्टेप वोटिंग की शुरुआत की है. इसके तहत मतदाताओं को घर बैठे ही पोस्टल बैलेट के विकल्प की सुविधा मिलेगी. इस दौरान वोटर की गोपनीयता का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा.

वोटिंग के समय में एक घंटे का इजाफा

चुनाव आयोग ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए मतदान का समय एक घंटे बढ़ा दिया गया है. चुनाव ड्यूटी में लगे सभी कर्मचारियों को बूस्टर डोज दिया गया है. मतदान केंद्र पर मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है. इसके अलावा, पोलिंग स्टेशन में 16 फीसदी का इजाफा किया गया है.

मतदान केंद्र पर व्यवस्थाएं

  • कोविड-19 को देखते हुए मतदेय स्थलों पर थर्मल स्कैनर, हैण्ड सैनिटाइजर, ग्लव्स, फेस मास्क, फेस शील्ड, पीपीई किट, साबुन, पानी आदि की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की गई है.

  • मतदाताओं की सुविधा हेतु वोटर गाइड का भी वितरण किया गया है.

  • वोटर गाइड में कोविड-19 से सम्बन्धित डूज एण्ड डोण्ट्स का भी उल्लेख किया गया है.

पहली बार दी जाएगी चुनाव नियमों की पर्ची

पहली बार मतदाताओं को चुनाव नियमों की पर्ची दी जाएगी. इस बार के विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों के लिए 'सुविधा ऐप' पर ऑनलाइन नामांकन की सुविधा दी गई है. साथ ही चुनाव के दौरान किसी भी गलत गतिविधि के लिए सी-विजिल (C-Vigil) एप पर शिकायत दर्ज की जाएगी. इस ऐप के जरिए चुनाव में धांधली के अलावा आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी भी दे सकते हैं.

Posted By: Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें