1. home Hindi News
  2. career
  3. cbse board 12th exam 2021 update live class 12 examination may conducted for major subjects decision today under chairmanship of rajnath singh see date sheet time table smt

CBSE Board 12th Exam 2021 Update LIVE: 12वीं की परीक्षा को लेकर अभी भी स्थिति नहीं हुई स्पष्ट, शिक्षा मंत्री को सभी राज्य सरकार आज देंगे सुझाव, स्टूडेंट्‌स को बताया जाएगा अंतिम निर्णय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CBSE Board 12th Exam Update
CBSE Board 12th Exam Update
Twitter

CBSE Board 12th Exam Update, Date Sheet, Time Table: सीबीएसई 12वीं की परीक्षा कब होगी इसका फैसला जल्द ही हो जायेगा. आज हुई उच्चस्तरीय बैठक के बाद शिक्षा मंत्री डाॅ रमेश पोखरियाल ने कहा कि परीक्षा को लेकर जो अस्पष्ट स्थिति बनी हुई है उसे जल्दी ही साफ कर दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि सुरक्षा और भविष्य हमारा लक्ष्य है. सूत्रों के हवाले से एेसी जानकारी मिल रही है कि संभवत: एक जून को शिक्षा मंत्री 12वीं की परीक्षा की तिथि घोषित करें.

email
TwitterFacebookemailemail

25 मई तक मांगे सुझाव

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बैठक के दौरान राज्य सरकारों से 25 मई तक सुझाव मांगे है. उन्होंने कहा है सुझाव मिलते ही जल्द छात्रों-अभिभावकों को सूचित कर दिया जाएगा.

email
TwitterFacebookemailemail

बचाव,सुरक्षा और भविष्य हमारा लक्ष्य, 12वीं की परीक्षा को लेकर जल्द होगी स्थिति स्पष्ट

12वीं बोर्ड की परीक्षा को लेकर शिक्षा मंत्री डाॅ रमेश पोखरियाल ने कहा कि बचाव,सुरक्षा और भविष्य हमारा लक्ष्य है. इस परीक्षा को लेकर स्टूडेंट्‌स और अभिभावकों के मन में जो दुविधा है उसका निराकरण जल्दी ही कर दिया जायेगा. निशंक ने कहा कि हम जल्दी ही अपने अंतिम निर्णय से सबको अवगत करा देंगे. उन्होंने कहा कि मीटिंग में हमें कई सुझाव मिले हमारा राज्य सरकारों से यह अुनरोध है कि वे 25 मई तक हमें अपना डिटेल सुझाव भेज दें.

email
TwitterFacebookemailemail

रद्द नहीं होगी 12वीं की परीक्षा, 1 जून को हो सकती है तारीख की घोषणा

उच्चस्तरीय बैठक के बाद सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली है कि 12वीं कीपरीक्षा रद्द नहीं होगी, इसे जुलाई में आयोजित किया जा सकता है. एक जून को शिक्षा मंत्री निशंक इससे संबंधित घोषणा कर सकते हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

छात्रों के लिए सुरक्षित माहौल बनाना हमारी प्राथमिकता : महाराष्ट्र की शिक्षा मंत्री

महाराष्ट्र की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि छात्रों के लिए सुरक्षित माहौल बनाना हमारी पहली प्राथमिकता है. सीबीएसई के साथ बैठक में हमने यह चर्चा की है. उन्होंने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट को बतायेंगे कि पिछला साल छात्रों के लिए दुर्भाग्यपूर्ण रहा है. कोरोना की दूसरी लहर चल रही है और तीसरी लहर आनी अभी बाकी है.

email
TwitterFacebookemailemail

स्टूडेंट्स का बिना टीकाकरण किये परीक्षा लेना खतरनाक

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार से कहा है कि छात्रों को बिना वैक्सीन लगाये, परीक्षा लेना खतरनाक साबित हो सकता है. यह एक बड़ी गलती साबित हो सकती है.

email
TwitterFacebookemailemail

इन प्रस्तावों पर चर्चा

रक्षा मंत्री की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में 12वीं कक्षा की परीक्षा और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करने के प्रस्तावों पर चर्चा करने का काम किया गया. बैठक में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, अनिता अग्रवाल शामिल हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

कब हुई थी परीक्षाएं रद्द

14 अप्रैल को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया था. वहीं, 10वीं बोर्ड की परीक्षा को रद्द भी करना पड़ा था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हाई लेवल बैठक बुलाकर यह फैसला लिया गया था. आपको बता दें कि सभी परीक्षाएं 4 मई से 14 जून के बीच होनी थीं.

email
TwitterFacebookemailemail

बैठक में शामिल होने की अपील

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने सभी राज्य के मुख्यमंत्री व सचिवों को इस बैठक में शामिल होने की अपील भी की है. यह बैठक आज सुबह 11.30 मिनट पर शुरू होने वाली है.

email
TwitterFacebookemailemail

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने मांगा सुझाव

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने सभी लोगों से ट्वीट कर 12वीं बोर्ड की परीक्षा को आयोजन हेतु सुझाव मांगा है. जिसपर वे आज की बैठक में चर्चा करेंगे.

email
TwitterFacebookemailemail

इस बैठक को लेकर पीएम ने क्या कहा

केंद्रीय शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने जानकारी दी कि इस बैठक को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि ये देश के छात्रों के हितों का सवाल है. सभी राज्‍य सरकारों व हितकरों को आपस में मिलकर छात्रों के हित में बेहतर फैसला लेना है.

email
TwitterFacebookemailemail

कब शुरू होगी बैठक

बैठक वर्चुअल माध्यम से होना है. जिसका शुरू होने का समय आज सुबह 11 बजकर 30 मिनट दिया गया है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी.

email
TwitterFacebookemailemail

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अभिभावक, अध्यापक व छात्रों से मांगा सुझाव

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी सुबह ट्वीट कर राज्य की जनता से बारहवीं (इंटरमीडिएट) परीक्षा के लिए सुझाव मांगा है. उन्होंने कहा कि सभी बच्चों के अभिभावक, अध्यापक व खुद छात्र भी इस मुद्दे पर अपनी राय जरूर दें. जिसे भारत सरकार के साथ होने वाली बैठक में आपके सुझाव पहुंचा सकूं.

email
TwitterFacebookemailemail

CBSE के अलावा ICSE, NEET, JEE Mains पर भी आ सकता है फैसला

आज केवल CBSE ही नहीं ICSE 12वीं बोर्ड की परीक्षा के साथ नीट (NEET) और जेईई मेन (JEE Mains) की परीक्षाओं पर भी फैसला आ सकता है. जैसा कि ज्ञात हो परीक्षा का रद्द करने की लगातार सोशल मीडिया पर डिमांड उठ रही थी. ऐसे में आज के बैठक में अहम फैसला हो सकता है.

email
TwitterFacebookemailemail

कब से कब तक होने वाली थी CBSE 12वीं की परीक्षाएं

गौरतलब है कि कक्षा 12वीं की परीक्षाएं 4 मई से 14 जून, 2021 तक होने वाली थीं. लेकिन, बढ़ते कोरोना मामले के कारण अप्रैल में इसे स्थगित करना पड़ा.

email
TwitterFacebookemailemail

पेरेंट्स एसोसिएशन की मांग

कोरोना के दौरान केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड आज 12वीं की बोर्ड परीक्षा आयोजित करने का फैसला लेगा. आपको बता दें कि पेरेंट्स एसोसिएशन सहित समाज के अन्य लोग भी 12वीं की परीक्षा रद्द करने की मांग लगातार कर रहे हैं. ऐसे में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' आज इसपर फैसला ले सकते हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

क्या हो सकता है परीक्षा आयोजित करने का तीसरा विकल्प

इसके अलावा तीसरे विकल्प के तौर पर देखा जाए तो कोरोना के कारण परीक्षाएं दो या उससे अधिक चरण में भी आयोजित की जा सकती हैं. जिन राज्यों में कोरोना का कहर कम हुआ है वहां पहले चरण में परीक्षाएं आयोजित करवायी जा सकती है. वहीं, बाकी क्षेत्रों में अन्य चरणों में परीक्षा आयोजित हो सकती है. वहीं, जो छात्र कोरोना के कारण परीक्षा में बैठने में असमर्थ है उनके लिए दूसरा ऑपशन दिया जा सकता है.

email
TwitterFacebookemailemail

क्या हो सकता है दूसरा विकल्प

दूसरे विकल्प के तौर पर 12वीं के प्रमुख विषयों का एग्जाम अन्य परीक्षा केंद्रों के बजाय छात्रों के स्कूलों में दिया जा सकता है. जिससे रिजल्ट जारी करने में महज 45 दिनों का ही समय लगेगा.

इस दौरान परीक्षा भी तीन घंटे के बजाय डेढ़ घंटे ही हो सकती है. वहीं, केवल ऑब्जेक्टिव और लघु उत्तरीय प्रश्न पुछे जा सकते है. साथ ही साथ 12वीं के लिए कुल चार प्रमुख विषयों की ही परीक्षाएं आयोजित की जा सकती है. बाकी दो के अंक इन्हीं विषयों में प्राप्तांक के आधार पर तय किए जा सकते है.

email
TwitterFacebookemailemail

कब रद्द हुई थी परीक्षाएं

14 अप्रैल को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं और 10वीं बोर्ड की परीक्षाएं रद्द करने का फैसला लिया गया था. यह फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुई बैठक लिया गया था. आपको बता दें कि 4 मई से 14 जून के बीच ये परीक्षाएं होनी थीं.

email
TwitterFacebookemailemail

क्या हो सकता है पहला फैसला

पहले विकल्प के तौर पर देखा जाए तो यीबीएसी बोर्ड प्रमुख विषयों की परीक्षाएं ले सकता है. वहीं, बाकी विषयों अंक प्रमुख परीक्षाओं की गणना और छात्रों के प्रदर्शन के आधार पर हो सकता है. वहीं, रिजल्ट जारी करने में करीब महीने से ज्यादा का समय लग सकता है.

email
TwitterFacebookemailemail

कई जिलों में डिजिटल गैप हुआ ज्यादा

पोखरियाल ने हाल में ही कहा था कि कोरोना ने शिक्षण को काफी प्रभावित किया है. ऐसे में हमें विशेषकर उन जिलों पर ध्यान देना होगा जहां डिजिटल गैप ज्यादा ज्यादा हो रहा है. ऐसे में इसे बरकरार रखने के लिए भी लिया जा सकता है फैसला.

email
TwitterFacebookemailemail

मेरे फैमिली में पांच लोग, सब कोरोना संक्रमित....

सीबीएसई के लिए 12वीं बोर्ड का फैसला लेना काफी कठिन होने वाला है. कई यूजर्स ने ट्वीट कर अपनी समस्याएं भी बतायी है. एक यूजर ने कहा सर, मैं 12वीं का स्टूडेंट हूं, मेरे घर में पांच लोग है, सभी संक्रमित है. एग्जाम कैसे दे पाऊंगा.

email
TwitterFacebookemailemail

कब शुरू होगी मीटिंग

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल राज्य सरकार के सभी शिक्षा मंत्रियों और सचिवों से भी इस बैठक में शामिल होने की अपील करते हुए कहा है कि आप भी अपने बहुमूल्य विचार साझा कर सकते हैं. उन्होंने ट्वीट करके बताया कि यह वर्चुअल मीटिंग 23 मई, 2021 की सुबह 11.30 बजे शुरू होगी.

email
TwitterFacebookemailemail

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने ट्विटर हैंडल पर भी मांगा सुझाव

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करके लोगों से 12वीं बोर्ड के एग्जाम को लेकर सुझाव मांगा था. उन्होंनें कहा, मित्रों मुझे आपके बहुमूल्य सुझावों की जरूरत है. आप मुझे ट्वीट करके बता सकते हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

कौन-कौन होगा बैठक में शामिल

खबरों की मानें तो आज के इस अहम बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के अलावा सभी राज्य के शिक्षा मंत्री, राज्य के शिक्षा सचिव, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल व महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी भी हो सकती हैं शामिल.

email
TwitterFacebookemailemail

फैसले पर रहेगी नजर

सीबीएसई ने पहले ही कहा था कि 12वीं की बोर्ड परीक्षा पर फैसला 1 जून के बाद लिया जा सकता है. ऐसे में आज लिए जाने वाले फैसले पर देशभर के बच्चों और अभिभावकों की नजर बनी रहेगी.

email
TwitterFacebookemailemail

अभिभावकों की क्या है मांग

हालांकि, हाल में आपने सुना होगा कि कोरोना के कहर को देखते हुए अभिभावकों का एक बड़ा वर्ग परीक्षा को रद्दद करने की मांग भी उठा रहा है. ऐसे में 12वीं एग्जाम का फैसला लेते समय इन सभी मुद्दों पर भी गौर किया जायेगा.

email
TwitterFacebookemailemail

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल लेंगे 12वीं के परीक्षा का फैसला

आज केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल सभी सुझावों पर फैसला लेने वाले हैं कि कौन से विषयों का परीक्षा आयोजित करना है.

email
TwitterFacebookemailemail

कौन-कौन से है मुख्य विषय

शिक्षा मंत्रालय को मिले सुझावों के अनुसार केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा 12वीं बोर्ड के मुख्य विषयों के लिए ही परीक्षा आयोजित की जा सकती है. 12वीं कक्षा में छात्रों के लिए कुल 174 सब्जेक्ट का ऑप्शन है. इनमें केवल 20 विषयों को सीबीएसई द्वारा मुख्य सब्जेक्ट माना जाता है. जिसमें जीव विज्ञान, इतिहास, राजनीति विज्ञान से लेकर भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित, व्यवसाय अध्ययन, भूगोल, अर्थशास्त्र, अंग्रेजी, हिंदी आदि शामिल है. हालांकि, सीबीएसई बोर्ड के मुताबिक छात्र न्यूनतम पांच और अधिक से अधिक छह विषय की ही परीक्षा दे सकते है. इनमें से भी चार सबसे प्रमुख विषय होते हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

शिक्षा मंत्रालय को मिले कई सुझाव

दरअसल, 12वीं के बोर्ड परीक्षाओं संबंधित शिक्षा मंत्रालय को कई सुझाव मिले हैं. इनमें प्रमुख विषयों की परीक्षा का आयोजित करने से लेकर इंटरनल मूल्यांकन के आधार पर अंक देने तक है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें