1. home Hindi News
  2. video
  3. increasing danger in jharkhand no omicron test machine and expired medicine in corona kit pkj

झारखंड में बढ़ता खतरा : ओमिक्रोन जांच की मशीन नहीं और कोरोना किट में एक्सपायर दवा

झारखंड में एक तरफ कोरोना संक्रमण का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. राज्य के पास अबतक कोरोना के नये वैरिएंट की जांच के लिए कोई मशीन नहीं है. अब भी राज्य भुवनेश्वर से आने वाली रिपोर्ट पर निर्भर है जिसमें काफी वक्त लगता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date

झारखंड में एक तरफ कोरोना संक्रमण का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. राज्य के पास अबतक कोरोना के नये वैरिएंट की जांच के लिए कोई मशीन नहीं है. अब भी राज्य भुवनेश्वर से आने वाली रिपोर्ट पर निर्भर है जिसमें काफी वक्त लगता है. झारखंड इस वजह से कोरोना के नये वैरिएंट को लेकर उससे निपटने की कोई रणनीति नहीं बना पा रहा. इन सब के बावजूद राज्य में होम आइसोलेशन के मरीजों को राहत के नाम पर एक्सपायर दवा भेजी जा रही है.

सबसे पहले समझिये कि राज्य में शुक्रवार को संक्रमण के कितने मामले आये शुक्रवार को झारखंड में 3825 नये कोरोना संक्रमित मिले हैं. इसमें सबसे अधिक रांची में 1543 संक्रमित मिले हैं. वहीं, पूर्वी सिंहभूम में 593 संक्रमित मिले हैं. इस दौरान 8 लोगों की मौत हुई है. राज्य में एक्टिव केस की संख्या 17,206 पहुंच गयी है. वहीं, कोरोना से अब तक 5161 लोगों की मौत हो चुकी है.

शुक्रवार को रांची सदर हाॅस्पिटल के 5 डॉक्टर संक्रमित पाये गये हैं. इसके साथ ही अब कुल 17 सीनियर डॉक्टर्स के संक्रमित होने से हॉस्पिटल प्रशासन ने एहतियातन ओपीडी सेवा बंद कर दी है.कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. ऐसे में रांची जिले में 04 जनवरी से अब तक प्रतिदिन हज़ार से भी ज्यादा कोरोना संक्रमित जांच के दौरान पाए गए हैं. जिले में 06 जनवरी तक लगभग 5800 कोरोना के एक्टिव केस हैं.

रांची के हटिया स्टेशन पर गुरुवार को 3823 यात्रियों की कोरोना जांच की गयी. इसमें आरटीपीसीआर पद्धति से 2044 व एंटीजेन किट से 1779 लोगों की जांच की गयी. इसमें 57 लोग संक्रमित मिले. रांची रेलवे स्टेशन पर 3724 यात्रियों की जांच की गयी.

झारखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या में हर दिन इजाफा हो रहा है. शुक्रवार को हजारीबाग में 153, पलामू में 67 और कोडरमा में मिले 48 नये कोरोना संक्रमित मिले हैं. क्रवार को सदर अस्पताल में हुई जांच में 48 नए मरीजों की पहचान हुई.

राजधानी रांची के सरकारी और निजी अस्पतालों में करीब 250 संक्रमित भर्ती हैं. निजी अस्पतालों में मेडिका, पल्स और राज में ज्यादा संक्रमित भर्ती हैं. संक्रमित मरीजों को ट्रैक कर उन तक मुख्यमंत्री कोरोना राहत किट पहुंचाई जा रही है. इस किट में दवाईयों के एक्सपायर होने का मामला भी तेज होने लगा है. मुख्यमंत्री कोरोना राहत किट में एक्सपायरी दवा के मामले में रांची जिला प्रशासन द्वारा आवश्यक कार्रवाई किये जाने का भरोसा दिया गया है. इस मामले को संज्ञान में लेते हुए रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने त्वरित कार्रवाई करने का आदेश दे दिया है. उपायुक्त ने कहा कि जो भी इसके लिए दोषी हैं, उस पर नियम संगत कार्रवाई की जायेगी. रांची सदर अस्पताल प्रबंधन भी अपने स्तर पर कार्रवाई करेगा. कुल मिलाकर झारखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले और नये वैरिएंट से लड़ने की रणनीति अबतक ठीक ढंग से तैयार नहीं हुई है. वजह है अबतक ओमिक्रॉन की पुष्टि नहीं हो पाना

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें