1. home Home
  2. tech and auto
  3. cds bipin rawat helicopter crash mi 17v5 why is the iaf chopper considered very safe and used for vvip including pm narendra modi rjv

CDS Bipin Rawat का जो Mi 17V 5 हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ, उसके एडवांस फीचर्स पर PM मोदी भी करते हैं भरोसा, जानिए

CDS Bipin Rawat को ले जा रहा जो Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ, वह दुनिया का सबसे एडवांस ट्रांसपोर्ट हेलिकॉप्टर है. Mi-17V-5 को कार्गो ट्रांसपोर्ट के लिए डिजाइन किया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
CDS Bipin Rawat Mi 17V 5 Helicopter
CDS Bipin Rawat Mi 17V 5 Helicopter
iaf

CDS Bipin Rawat Helicopter Crash: तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को सेना का एक हेलिकॉप्टर Mi-17V5 दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस विमान में सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और सेना के कुछ अन्य अधिकारी समेत कुल 14 लोग सवार थे. विमान में सवार जनरल बिपिन रावत की पत्नी मधुलिका रावत समेत 13 लोगों की मौत हो गई है. इस क्रैश में विमान के परखच्चे उड़ गए हैं.

जनरल रावत का यह हेलिकॉप्टर सुलूर स्थित आर्मी बेस से उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही नीलगिरी जिले में कुन्नूर में क्रैश हो गया था. खास बात यह है कि इससे पहले नवंबर में ही अरुणाचल प्रदेश में Mi-17 हेलीकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया था. हालांकि, इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ था. सेना के इस हेलीकॉप्टर को सबसे सुरक्षित उड़ानों में गिना जाता है.

CDS Bipin Rawat को ले जा रहा जो Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ, वह दुनिया का सबसे एडवांस ट्रांसपोर्ट हेलिकॉप्टर है. Mi-17V-5 को कार्गो ट्रांसपोर्ट के लिए डिजाइन किया गया है. इसे सेना और हथियारों के ट्रांसपोर्ट, फायर सपोर्ट, रक्षक दल की गश्ती और सर्च-एंड-रेस्क्यू मिशन में भी तैनात किया जा सकता है. PM नरेंद्र मोदी से लेकर दूसरे VVIP के मूवमेंट तक में इसका इस्तेमाल होता है. दुनिया के 50 से ज्यादा देशों में 12 हजार से ज्यादा Mi-17 हेलिकॉप्टर्स का इस्तेमाल होता है.

Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर की खास बातें जानें

Mi-17V-5 रूस में बना एक ट्विन इंजन मल्टीपर्पज हेलिकॉप्टर है. Mi-17V-5 (डोमेस्टिक डेजिगनेशन Mi-8MTV5) हेलिकॉप्टरों के Mi-8/17 फैमिली का एक मिलिट्री ट्रांसपोर्ट वेरिएंट है. यह रूसी कंपनी मिल मॉस्को हेलिकॉप्टर प्लांट, कजान हेलिकॉप्टर प्लांट और उलान-उडे एविएशन प्लांट में तैयार होता है. Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर MI-8 हेलिकॉप्टर का अपग्रेडेड वर्जन है. Mi-17V-5 को विशेष रूप से ज्यादा ऊंचाई पर और गर्म मौसम की स्थिति में बेहतर तरीके से ऑपरेट करने के लिए डिजाइन किया गया है. Mi-17V-5 ज्यादा ऊंचाई और एक्स्ट्रीम वेदर कंडीशंस में भी बेहतर ढंग से काम कर सकता है. यह Mi-8 का अपग्रेडेड वर्जन है.

Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर की खासियत क्या है?

यह एक मीडियम टि्वन टर्बाइन हेलिकॉप्टर है. इसका इस्तेमाल हेवी लिफ्ट, ट्रांसपोर्टेशन, VVIP मूवमेंट और रेस्क्यू मिशन में किया जाता है. मिलिट्री के लिए तीन क्रू मेंबर्स के साथ ही 36 सैनिकों को यह ले जा सकता है. यह 36 हजार किलो तक का भार उठा सकता है. VVIP के लिए तैयार किये गए विशेष हेलिकॉप्टर में अधिकतम 20 लोग ही सवार हो सकते हैं. वीवीआइपी के लिए मॉडिफाइड हेलिकॉप्टर में टायलेट भी होता है.

Mi-17V-5 कितने हथियारों से लैस होता है?

Mi-17V-5 Shturm-V मिसाइल, S-8 रॉकेट, एक 23mm मशीन गन, PKT मशीन गन और AKM सब-मशीन गन से लैस है. इसमें हथियारों को निशाना बनाने के लिए आठ फायरिंग पोस्ट हैं. इस हेलिकॉप्टर पर हथियार क्रू को दुश्मनों, बख्तरबंद वाहनों, लैंड-बेस्ड टारगेट और अन्य फिक्स्ड और मूविंग टारगेट पर निशाना लगाने में सक्षम हैं. Mi-17V-5 हेलिकॉप्टर्स 2013 से रक्षा मंत्रालय को सेवा दे रहे हैं. भारत को इसकी आखिरी खेप जुलाई 2018 में मिली थी.

Mi-17 की टॉप स्पीड 1000 किमी/घंटा

Mi-17 की अधिकतम स्पीड 1000 किमी/घंटा तक है. Mi-17 8 मीटर/सेकेंड की रफ्तार से ऊंचाई पर जा सकता है. Mi-17V-5 की अधिकतम गति 250 किमी/घंटे और स्टैंडर्ड रेंज 580 किमी है. दो सहायक फ्यूल टैंकों के साथ फिट किये जाने पर स्पीड 1,065 किमी तक बढ़ायी जा सकती है. हेलिकॉप्टर का वजन लगभग 7,489 किलो है, जबकि इसका अधिकतम वजन 13,000 किलोग्राम है. यह अधिकतम 6,000 मीटर की ऊंचाई पर उड़ सकता है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें