1. home Home
  2. state
  3. west bengal
  4. tmc former rajya sabha mp arpita ghosh has been appointed as general secretary of the party abk

पहले सदन में हंगामे पर सस्पेंड, फिर इस्तीफा, अब TMC ने अर्पिता घोष को बनाया महासचिव

इस फैसले के पहले अर्पिता घोष ने सांसद के रूप में राज्यसभा से इस्तीफा दिया था. उनका इस्तीफा सदन के सभापति ने स्वीकार भी कर लिया था. इस घटना के बाद कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे. अब, टीएमसी ने अर्पिता घोष को नई जिम्मेदारी दी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पहले सदन में हंगामे पर सस्पेंड, फिर इस्तीफा, अब TMC ने अर्पिता घोष को बनाया महासचिव
पहले सदन में हंगामे पर सस्पेंड, फिर इस्तीफा, अब TMC ने अर्पिता घोष को बनाया महासचिव
सोशल मीडिया

तृणमूल कांग्रेस की अर्पिता घोष (TMC Arpita Ghosh) को पार्टी ने महासचिव (General Secretary) बनाने का ऐलान किया है. शुक्रवार को टीएमसी ने कहा कि अर्पिता घोष को तत्काल प्रभाव से महासचिव नियुक्त किया जाता है. इस फैसले के पहले अर्पिता घोष ने सांसद के रूप में राज्यसभा से इस्तीफा दिया था. उनका इस्तीफा सदन के सभापति ने स्वीकार भी कर लिया था. इस घटना के बाद कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे. अब, टीएमसी ने अर्पिता घोष को नई जिम्मेदारी दी है.

अर्पिता घोष पर राज्यसभा के मॉनसून सत्र में हंगामा करने और मार्शलों से उलझने के आरोप भी लगे थे. इसको लेकर अर्पिता घोष को सस्पेंड भी कर दिया गया था. इसी बीच अर्पिता घोष ने इस्तीफा देकर सभी को चौंका दिया था. उनके अचानक इस्तीफे ने टीएमसी के कई सदस्यों को हैरान कर दिया था. उनके इस्तीफे के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि अर्पिता घोष को पार्टी में नई जिम्मेदारी दी जाएगी. अब, टीएमसी ने सारे कयासों को ब्रेक लगाते हुए अर्पिता घोष को तृणमूल कांग्रेस का महासचिव नियुक्त किया है.

अगर अर्पिता घोष के राजनीतिक करियर की बात करें तो वो थियेटर डायरेक्शन और अभिनय के क्षेत्र से जुड़ी रही हैं. साल 2010 में अर्पिता घोष ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत की. इसके बाद अर्पिता घोष को टीएमसी ने राज्यसभा भी भेजा. अर्पिता घोष का इस्तीफा उस समय आया था, जब अक्टूबर में पश्चिम बंगाल की राज्यसभा सीट पर चुनाव होंगे. टीएमसी ने कांग्रेस छोड़कर टीएमसी ज्वाइन करने वाली सुष्मिता देव को राज्यसभा चुनाव के लिए अपना कैंडिडेट घोषित किया है. वहीं, भवानीपुर समेत तीन विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव हैं. भवानीपुर से ममता बनर्जी मैदान हैं. ममता बनर्जी को सीएम बने रहने के लिए भवानीपुर उपचुनाव जीतना होगा. इसी बीच अर्पिता घोष को पार्टी ने बड़ी जिम्मेदारी दी है. माना जा रहा है अर्पिता उपचुनाव में ममता बनर्जी के लिए प्रचार भी करेंगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें