1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. richest candidates in fray in seventh phase voting in bengal know the average asset of people contesting bengal chunav 2021 mtj

अब तक के सबसे अमीर उम्मीदवार लड़ रहे हैं सातवें चरण में चुनाव, जानें कितनी है औसत संपत्ति

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
7वें चरण में चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों की औसत संपत्ति एक करोड़ के पार
7वें चरण में चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों की औसत संपत्ति एक करोड़ के पार
Prabhat Khabar

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के सातवें चरण में अब तक के सबसे अमीर उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. इस बार चुनाव लड़ रहे 284 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 1.22 करोड़ रुपये बतायी गयी है. वेस्ट बंगाल इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गयी है.

रिपोर्ट में बताया गया है कि इस बार कुल 284 उम्मीदवारों में 60 यानी 21 फीसदी उम्मीदवारों ने अपनी संपत्ति एक करोड़ रुपये से अधिक घोषित की है. पांचवें चरण में जो उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, उनमें 5 फीसदी की संपत्ति 5 करोड़ रुपये या उससे अधिक है. 7 फीसदी ने अपनी संपत्ति 2 करोड़ से 5 करोड़ रुपये के बीच बतायी है.

इस चरण में 25 फीसदी उम्मीदवार ऐसे हैं, जिन्होंने अपने हलफनामे में कहा है कि उनकी संपत्ति का मूल्य 50 लाख रुपये से अधिक, लेकिन 2 करोड़ रुपये से कम है. 10 लाख से 50 लाख रुपये तक की संपत्ति वाले 28 फीसदी लोग सातवें चरण का चुनाव लड़ रहे हैं. 35 फीसदी की संपत्ति 10 लाख रुपये से कम है.

अपनी संपत्ति 5 करोड़ रुपये से अधिक बताने वाले 15 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि 20 ऐसे प्रत्याशी हैं, जिनकी संपत्ति 2 करोड़ रुपये से 5 करोड़ रुपये के बीच है. 70 लोगों ने 50 लाख से 2 करोड़ रुपये के बीच अपनी संपत्ति घोषित की है. 80 प्रत्याशियों ने अपनी संपत्ति 10 से 50 लाख रुपये के बीच बतायी है, तो 99 ने कहा है कि उनके पास 10 लाख से कम की संपत्ति है.

तृणमूल के 72 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति

बंगाल की सत्ता पर 10 साल से काबिज ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने सातवें चरण में 26 (72 फीसदी) उम्मीदवार ऐसे उतारे हैं, जो करोड़पति हैं. कांग्रेस के 58 फीसदी यानी 11 प्रत्याशी करोड़ों के मालिक हैं, जबकि भाजपा के 13 (36 फीसदी), माकपा के 1 (8 फीसदी) और 6 (9 फीसदी) निर्दलीय उम्मीदवार करोड़पति हैं.

तृणमूल के 36 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 5.05 करोड़ रुपये बनती है, जबकि भाजपा के इतने ही प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 1.90 करोड़ रुपये है. कांग्रेस के 19 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 1.72 करोड़ रुपये है. माकपा के 13 उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 68.09 लाख रुपये ही है.

सातवें चरण में 36 नहीं, 34 सीट पर होगी वोटिंग

उल्लेखनीय है कि सातवें चरण का चुनाव 26 अप्रैल को होना है. इस चरण में कुल 34 सीट पर मतदान होना है. दक्षिण दिनाजपुर के जंगीपुर और शमशेरगंज विधानसभा क्षेत्र के एक-एक उम्मीदवार की कोरोना की वजह से निधन के कारण चुनाव को रद्द कर दिया गया है. इन दोनों विधानसभा सीटों पर 16 मई को एक साथ मतदान कराया जायेगा.

चुनाव आयोग ने पहले 13 मई को इन दोनों मतदान केंद्रों पर वोटिंग की तारीख तय की थी, लेकिन राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने आयोग से भेंट कर कहा कि उस दिन ईद की वजह से वोटिंग प्रभावित हो सकती है. इसके बाद आयोग ने 22 अप्रैल को इन दोनों सीटों पर चुनाव की नयी तारीख का एलान कर दिया. 2 मई को राज्य की 292 विधानसभा सीटों पर मतगणना करायी जायेगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें