1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. personal attack on mamata banerjee and pm modi during bengal election 2021 and sixth phase voting read all details here mtj

छठे चरण के मतदान से पहले मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से पीएम मोदी तक पर हुए ऐसे-ऐसे हमले

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पीएम मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी.
पीएम मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी.
फाइल फोटो.

कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव में नेताओं पर निजी हमले तेज हो गये हैं. इससे सियासी पारा तेजी से ऊपर जा रहा है. तकरार न केवल प्रदेश स्तर के नेताओं के बीच है, बल्कि यह सर्वोच्च स्तर के नेताओं में भी देखी जा रही है. राज्य विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सभी पार्टियों का धुआंधार प्रचार भी जारी है. पांच चरणों के लिए वोटिंग हो चुकी है.

बाकी के तीन चरणों के लिए पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के अन्य आला नेताओं का प्रचार जारी है. चुनावी सभा में पीएम मोदी ने ‘दीदी.. ओ दीदी’ को लेकर तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी के विरोध पर पहली बार चुप्पी तोड़ते हुए कई सवाल पूछ डाले. पीएम नरेंद्र मोदी ने दीदी (ममता बनर्जी) से सवाल पूछा कि अगर ‘दीदी.. ओ दीदी’ गाली है, तो आप मुझे जिस भाषा में संबोधित करती हैं, वह क्या है?

बता दें कि बंगाल में चुनाव प्रचार के दौरान तृणमूल का आरोप है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर प्रधानमंत्री की ओर से निजी हमले किये जा रहे हैं. उनके ‘दीदी..ओ दीदी’ लाइन पर तृणमूल को खासा एतराज है. इस संबंध में तृणमूल ने अपनी आपत्ति भी दर्ज करायी है.

इधर, तृणमूल नेताओं द्वारा लगातार पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला जा रहा है. प्रधानमंत्री की सभा में देखा गया है कि ममता बनर्जी पर बयान देते वक्त पीएम नरेंद्र मोदी कई बार ‘दीदी.. ओ दीदी’ कहते हैं. कई बार ‘आदरणीय दीदी’ कहकर संबोधित करते हैं.

प्रधानमंत्री की जनसभा में मुख्यमंत्री को संबोधित करने का तरीका भाजपा समर्थकों में खासा लोकप्रिय हुआ है. लेकिन, तृणमूल कांग्रेस की ओर से इस पर आपत्ति दर्ज करायी जा रही है. ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस की तरफ से आरोप लगाया गया है कि, पीएम मोदी का ‘दीदी..ओ दीदी’ कहना, एक महिला का अपमान है.

वहीं, दक्षिण दिनाजपुर के गंगारामपुर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ममता दीदी को दीदी ओ दीदी गाली लगती है, मगर वह मोदी को जिस भाषा से संबोधित करती हैं, वह क्या है? उनके दिन की शुरुआत मोदी को गाली देने से होती है.

पीएम मोदी ने कहा कि ममता दीदी जिस भाषा का इस्तेमाल करती हैं, उस भाषा को कहते हुए भी मुझे अच्छा नहीं लगता है. लेकिन, यहां उस भाषा के बारे में लोगों को बताना जरूरी है. पीएम मोदी ने कहा कि ममता बनर्जी मुझे साला कहकर संबोधित करती हैं. वहीं, 26 मार्च को ममता दीदी ने मेरे बारे में कहा कि मोदी की दाढ़ी बढ़ती जा रही है. मोदी का दिमाग खराब हो गया है. मोदी के दिमाग का स्क्रू ढीला हो गया है.

तारीख दर तारीख दीदी को याद दिलायी गालियां

पीएम मोदी यहीं नहीं रुके. उन्होंने तारीख-दर-तारीख बताया कि दीदी ने उनके बारे में क्या-क्या कहा था. पीएम मोदी ने कहा कि ममता दीदी ने चार अप्रैल को कहा था, बंगाल में भाजपा की सरकार बनेगी, पीएम मोदी क्या भगवान हैं, जो भविष्यवाणी कर रहे हैं. 12 अप्रैल को कहा कि मोदी दंगा करवाता है. 13 अप्रैल को कहा कि मोदी झूठा है. मोदी मंदबुद्धि है.

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे दीदी (ममता बनर्जी) की गालियों से कोई दिक्कत नहीं है. वह मुझे लाख गालियां दे सकती हैं, पर बंगाल के लोगों को गाली दें, उसे मैं बर्दाश्त नहीं कर सकता.

PM Modi पर इस तरह हमले करते ही तृणमूल कांग्रेस

गौरतलब है कि तृणमूल की ओर से न केवल भाजपा, बल्कि प्रधानमंत्री तक को दंगा करानेवाले, देश बेचने वाले, आदि कहा जाता रहा है. ऐसे में राज्य की दोनों प्रमुख पार्टियां चुनावी समर में एक-दूसरे पर निशाना साध रही हैं. इसका क्या नतीजा निकलता है, यह दो मई को पता चल जायेगा.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें