1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. no direct contest in congress den hansan this election birbhum bengal chunav 2021 mtj

हांसन: कांग्रेस के गढ़ में इस बार नहीं होगी सीधी टक्कर, जानें किनके बीच है मुकाबला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बीरभूम के हांसन सीट पर इस बार नहीं है सीधा मुकाबला
बीरभूम के हांसन सीट पर इस बार नहीं है सीधा मुकाबला
Social Media

हांसन (मुकेश तिवारी) : बीरभूम जिला का हांसन विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस का गढ़ रहा है. साल 1977 से इस विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस ने छह बार जीत दर्ज की है. सिर्फ एक बार आरसीपीआइ के खाते में यह सीट गयी थी. इस सीट से बतौर कांग्रेस उम्मीदवार असित कुमार माल पांच बार विजयी हुए हैं, लेकिन वर्ष 2016 में वह तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गये.

तृणमूल कांग्रेस ने उन्हें प्रत्याशी बनाकर चुनावी मैदान में भी उतारा, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा. कांग्रेस के प्रत्याशी मिल्टन रशीद ने असित कुमार माल को 16,154 वोट से परास्त कर जीत दर्ज की. 1977 से 2016 तक इस सीट पर कांग्रेस का कब्जा रहा है.

आंकड़ों पर गौर करें, तो प्रत्येक चुनाव में 75 प्रतिशत वोट कांग्रेस के खाते में गये हैं. बीरभूम जिले की इस सीट को कांग्रेस का दुर्ग माना जाता है. इस बार संयुक्त मोर्चा ने कांग्रेस के मिल्टन रशीद को पुनः प्रत्याशी बनाया है. वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने अशोक कुमार चट्टोपाध्याय और भाजपा ने निखिल बनर्जी को, बहुजन समाज पार्टी ने सुसेन दास व एसयूसीआइ ने जूथिका धीवर को उम्मीदवार बनाया है.

बदलते राजनीतिक हालात को देखते हुए इस बार यहां त्रिकोणीय लड़ाई होने की संभावना जतायी जा रही है. कांग्रेस प्रत्याशी मिल्टन रशीद का कहना है कि वह अपनी जीत के प्रति आश्वस्त हैं. उन्होंने कहा कि चुनावी हालात बदलने के बावजूद इस सीट पर यहां के मतदाता फूल नहीं खिलने देंगे. यह सीट शुरू से कांग्रेस के खाते में रही है और इस बार भी रहेगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें