1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. election commission got huge success in bengal first time seized crores of cash precious things including hilsa fish and drugs mtj

बंगाल में चुनाव आयोग को पहली बार मिली इतनी बड़ी सफलता, करोड़ों की नकदी व कीमती सामान जब्त

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
वोटरों को लुभाने में इस्तेमाल होता है हिल्सा मछली का
वोटरों को लुभाने में इस्तेमाल होता है हिल्सा मछली का
प्रभात खबर

कोलकाता : चुनावों में बढ़ते धनबल के प्रभाव को रोकने में चुनाव आयोग को इस बार बड़ी सफलता हाथ लगी है. बंगाल सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में आयोग ने 15 अप्रैल तक एक हजार करोड़ से ज्यादा की सामग्री जब्त की है, जिसे मतदाताओं के बीच बांटने के लिए लाया गया था. इनमें लगभग 344 करोड़ की नकदी भी शामिल है.

पश्चिम बंगाल से 310.50 करोड़ रुपये नकद व अन्य कीमती सामान जब्त किये गये हैं. चुनाव के दौरान पकड़ी जाने वाली यह अब तक की सबसे बड़ी राशि है. हालांकि इसके अभी और बढ़ने की संभावना है, क्योंकि अभी भी बंगाल में दो चरणों के चुनाव होने बाकी हैं.

चुनाव आयोग के मुताबिक, यह सफलता विधानसभा चुनाव में धनबल के इस्तेमाल को रोकने के लिए चुनावी खर्च पर नजर रखने के लिए तैनात विशेष पर्यवेक्षकों व सामान्य पर्यवेक्षकों की सख्त निगरानी के चलते मिली है. इस दौरान नकद सहित सबसे ज्यादा कीमत सामानों की जब्ती तमिलनाडु से हुई है, जो करीब 446 करोड़ की है. इनमें करीब 236 करोड़ की नकदी और 176 करोड़ के आभूषण भी शामिल हैं.

दूसरे स्थान पर बंगाल

इस कड़ी में दूसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल है. राज्य में 17 अप्रैल तक 310.50 करोड़ के कीमती सामान और नकदी जब्त की गयी. 17 अप्रैल को एक साथ 1.08 करोड़ नकद जब्त हुआ था. चुनाव की घोषणा के बाद 17 अप्रैल तक 51.95 करोड़ कैश, 118.88 करोड़ के ड्रग्स और करीब 12.53 करोड़ के सोने चांदी और 95.91 करोड़ रुपये के उपहार भी जब्त किये गये हैं.

चुनाव आयोग ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में जब्त सामग्री और उसकी कीमतों का ब्योरा भी जारी किया है. इनमें असम से कुल करीब 122 करोड़, पश्चिम बंगाल में करीब 310.50 करोड़, तमिलनाडु से कुल करीब 446 करोड़, केरल से कुल करीब 85 करोड़ और पुडुचेरी से करीब 36 करोड़ रुपये के कीमत सामान जब्त किये गये हैं.

इनमें नकद भी शामिल है. चुनाव आयोग के मुताबिक वर्ष 2016 में पश्चिम बंगाल सहित इन सभी पांचों राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में नकदी सहित करीब 225 करोड़ रुपये के सामान जब्त हुए थे.

बंगाल में इन जगहों से सबसे अधिक जब्ती

राज्य के 294 विधानसभा क्षेत्रों में से आयोग ने 46 सीटों को बेहद संवेदनशील सीट के रूप में चिह्नित किया है. इन 46 विधानसभा केंद्रों से 15 अप्रैल तक 111.64 करोड़ रुपये नकदी, सोने-चांदी व अन्य कीमती समाग्री जब्त की गयी. इनमें उत्तर कोलकाता के चौरंगी से 48.62 करोड़ रुपये, उत्तर कोलकाता के जोड़ासांको से 8.15 करोड़ और सिलीगुड़ी विधानसभा क्षेत्र से 24.59 करोड़ रुपये जब्त किये गये.

इंटाली से 35.49 करोड़ रुपये जब्त किये गये हैं. हालांकि, इंटाली विधानसभा क्षेत्र संवेदनशील की श्रेणी में शामिल नहीं है. अकेले कोलकाता उत्तर से 93.05 करोड़ रुपये, दार्जीलिंग से 38.02 करोड़ और नदिया ने 11.23 करोड़ रुपये जब्त किये गये. स्टेट पुलिस के साथ 13 एजेंसियों ने जगह-जगह अभियान चलाकर रुपये, शराब, सोने-चांदी व अन्य सामग्री जब्त की.

इन एजेंसियों ने की कार्रवाई

चुनाव आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, बंगाल पुलिस ने 131.19 करोड़ रुपये, वाणिज्यिक कर विभाग ने 49.66 करोड़ रुपये, आयकर विभाग ने 38.76 करोड़ रुपये, राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआइ) ने 37.508 करोड़ रुपये और उत्पाद शुल्क (एक्साइज) विभाग ने 25.38 करोड़ रुपये जब्त किये हैं.

हिल्सा मछली भी जब्त

चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि जब्त सामग्री में हिल्सा मछली भी शामिल है. इसे उपहार देने के लिए ले जाया जा रहा था. इसके अलावा मोबाइल फोन, साड़ी, और पान मसाला भी जब्त किये गये हैं.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें