विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने की जांच के लिए कोलकाता पुलिस ने SIT का किया गठन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

कोलकाता : भाजपा की रैली के दौरान मंगलवार की शाम विद्यासागर कॉलेज में ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को तोड़े जाने की जांच के लिए कोलकाता पुलिस ने गुरुवार को स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया है. डीसी (सेंट्रल) शुभंकर सिन्हा सरकार इस टीम का नेतृत्व करेंगे.

कोलकाता पुलिस के संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) प्रवीण त्रिपाठी ने बताया कि सीट के सदस्यों में लालबाजार के एसी डीडी (आई), एंटी राउडी स्क्वाड (एआरएस) के ओसी, अम्हर्स्ट स्ट्रीट थाने के ओसी व अम्हर्स्ट स्ट्रीट महिला थाने की ओसी के अलावा अम्हर्स्ट स्ट्रीट थाने में इस मामले में जांच अधिकारी को टीम में रखा गया है.

गुरुवार से ही घटना की जांच शुरू कर दी गयी है. जल्द से जल्द वारदात स्थल से सबूत इकट्ठे कर इसकी जांच पूरी की जायेगी. इसी टार्गेट से जांच शुरू की गयी है. उन्हों‍ने कहा कि मूर्ति तोड़ने की घटना से जुड़ा दो वीडियो उनके हाथ लगा है. एक में सामने से घटना कैद है, दूसरे वीडियो में साइड से घटना को कैद किया गया है. इन वीडियों में दिख रहा है कि नीले रंग के शर्ट में एक युवक मूर्ति तो लेकर हॉल के बाहर आया, फिर उसमें तोड़फोड़ शुरू की गयी.

इन वीडियो के आधार पर मूर्ति तोड़ने से जुड़े छह लोगों की शिनाख्त की गयी है. फिलहाल, सभी आरोपी फरार हैं. छह में से दो युवक कोलकाता का रहने वाला है. बाकी चार बंगाल के दूसरे जिले के निवासी बताये जा रहे हैं. पुलिस जल्द उन तक पहुंचने की कोशिश कर रही है. इसके अलावा, अम्हर्स्ट स्ट्रीट इलाके में हंगामा व तोड़फोड़ की पूरी घटना से जुड़ा तकरीबन 50 वीडियो भी पुलिस के पास मौजूद हैं. इस मामले की सुनवाई के दौरान इसे अदालत में इसे पेश किया जायेगा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें