1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021firhad hakim accused of bjp for evm disturbances said mamta banerjee apprehension proved to be true pwn

फिरहाद हकीम ने लगाया ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप, कहा- सच साबित हुई ममता बनर्जी की आशंका

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
फिरहाद हकीम ने लगाया ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप, कहा- सच साबित हुई ममता बनर्जी की आशंका
फिरहाद हकीम ने लगाया ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप, कहा- सच साबित हुई ममता बनर्जी की आशंका
फोटो : प्रभात खबर.

पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम ने शनिवार को चाचोला क्षेत्र में चुनाव प्रचार किया. चुनावी सभा को संबोधित करते हुए फिरहाद हकीम ने कहा मुख्यमंत्री मता बनर्जी की आशंका सही निकली. फ़रहाद हकीम ने आरोप लगाया कि चुनाव के पहले दौर में ईवीएम में धांधली हुई थी. उन्होंने कहा कि ईवीएम में हेरफेर करके और चुनाव आयोग को फिट करके भाजपा बच गई है. इस दौरान शहरी विकास मंत्री ने चुनाव प्रचार के लिए कांग्रेस पर भी तंज कसा.

फिरहाद हकीम ने बिना नाम लिए ही चुनाव आयोग पर निशाना साधा और कहा कि पहले ही आयोग की भूमिका संदेहास्पद था. इसलिए टीएमसी ने ना केवल ईवीएम की धांधली को पकड़ा बल्कि उसे जनता के सामने भी लाया. साथ ही चुनाव आयोग से भी शिकायत की गयी है. इसके बाद उन्होंने कहा कि ईवीएम में गड़बड़ी का का शक पहले ही मुख्यमंत्री कर चुकीं थी.

बता दे कि शनिवार दोपहर चाचोल विधानसभा क्षेत्र के चचोल शहर के कलांबगन इलाके में तृणमूल की एक चुनावी रैली आयोजित की गई.  मंत्री फिरहाद हकीम हेलीकॉप्टर द्वारा जनसभा में आए. इसके अलावा चाचोल विधानसभा क्षेत्र के तृणमूल उम्मीदवार निहार घोष भी चुनावी रैली में उपस्थित थे. साथ ही पार्टी जिला अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद मौसिम नूर, जिला तृणमूल महिला अध्यक्ष चैताली सरकार, तृणमूल जिला समन्वयक बबला सरकार, चचोल 1 ब्लॉक तृणमूल अध्यक्ष सचिदानंद चक्रवर्ती और अन्य उपस्थित थे.

उसी दिन एक चुनावी रैली में बोलते हुए, मंत्री फ़रहाद हकीम ने कहा, "पार्टी नेता ममता बनर्जी ने चुनाव के पहले दौर में जो आशंका जताई थी, वह सच हुई है" कई मतदाता एक स्थान पर मतदान कर रहे हैं, और दूसरे स्थान पर मतदान हो रहा है. हम चुनाव आयोग से भी शिकायत कर रहे हैं कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की गई है. चुनाव आयोग को तटस्थ रहने की जरूरत है. ईवीएम में हेराफेरी करके और चुनाव आयोग को फिट करके भाजपा बच गई है. बंगाल के लोग इसे स्वीकार नहीं करेंगे.

मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि कांग्रेस की अक्षमता के कारण भाजपा दिल्ली में सत्ता में आई.  दिल्ली की तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने गुजरात दंगों में मोदी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की.  यदि कांग्रेस शुरू से ही दिल्ली में कमजोर नहीं होती, तो सांप्रदायिक पार्टी भाजपा उसकी जगह नहीं ले सकती थी.  अब वे बंगाल की सत्ता में आने के लिए बड़ी बात कर रहे हैं.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें