1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal election 2021 50 bomb seized from birbhum district in bengal fourth phase election in bengal

Bengal Chunav 2021: बीरभूम के सरकारी भवन में 50 जिंदा बम मिलने से हड़कंप, तीन गिरफ्तार, जांच में जुटी पुलिस

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बीरभूम के सरकारी भवन में 50 जिंदा बम मिलने से हड़कंप, तीन गिरफ्तार, जांच में जुटी पुलिस
बीरभूम के सरकारी भवन में 50 जिंदा बम मिलने से हड़कंप, तीन गिरफ्तार, जांच में जुटी पुलिस
prabhat khabar

मुकेश तिवारी : बंगाल के 5 जिलों हावड़ा, हुगली, दक्षिण 24 परगना, कूचबिहार और अलीपुरदुआर में चौथे चरण की वोटिंग हो रही हैं. वहीं शनिवार को बीरभूम जिले के सरकारी भवन में बड़ी संख्या में बम मिलने से हड़कंप मच गया. बता दें कि चुनाव की तारीख जारी होने के बाद से ही बीरभूम में बम मिलने और बम विस्फोट की घटना शुरू हो गयी थी. अब तक बम किसी सुनसान जगहों में मिलते थे लेकिन, शनिवार को सरकारी भवन से बम बरामद किया गया.

बीरभूम टीएमसी के अध्यक्ष अनुब्रत मंडल का गढ़ हैं और बम मिलने से कई तरह के सवाल पैदा हो गये हैं. जानकारी के मुताबिक शनिवार की सुबह बीरभूम जिले के हटसेरेंडी गांव में एक सरकारी समारोह भवन में बड़ी संख्या में बम रखें जाने की सूचना पुलिस को दी गयी. सूचना पाकर नानूर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची.पुलिस ने मौके से 50 पीस जिंदा बम बरामद किया. इस घटना में तीन लोगों को गिरफ्तार किया.

बीरभूम जिले के सरकारी भवन में बम मिलने के बाद घटनास्थल पर बम निरोधी दस्ते की टीम बुलायी गयी. बाद में सभी बमों को निष्क्रिय कर दिया गया. हालांकि बमों को निष्क्रिय करने के कारण पूरा गांव बम की आवाज से कांप उठा. बम मिलने की घटना को लेकर सरकारी भवन के अधिकारियों पर भी सवाल उठ रहे हैं. टीएमसी और बीजेपी में मामले को लेकर एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं.

इस घटना को लेकर बीरभूम जिला बीजेपी अध्यक्ष ध्रुव साहा ने आरोप लगाया, सरकारी भवनों का भी टीएमसी बम छुपाने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं. इस घटना ने जिले में टीएमसी की पोल खोल दी हैं. बीजेपी के आरोपों को इनकार करते हुए जिला टीएमसी अध्यक्ष अनुब्रत मंडल ने कहा, सरकारी भवन में मिले बमों में टीएमसी का कोई हाथ नहीं हैं. इस घटना के पीछे समाजविरोधियों का हाथ हैं.

वहीं, इस घटना को लेकर स्थानीय लोगों का आरोप है कि अब सरकारी भवनों का इस्तेमाल बम छुपाने में किया जा रहा है. इससे जिले की सुरक्षा पर भी सवालिया निशान लग गया हैं. पुलिस भी मामले की जांच में जुट गयी हैं. गिरफ्तार 3 लोगों से पूछताछ की जा रही हैं. पुलिस का कहना है, इस घटना में किसी पार्टी की संलिप्तता है या नहीं, इसकी जांच की जा रही हैं. इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती की गयी है.

Posted by : Babita Mali

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें