1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal bjp state president dilip ghosh called to delhi amid displeasure of babul supriyo and debasree chaudhuri mtj

West Bengal News: बाबुल और देबश्री की नाराजगी के बीच बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष दिल्ली तलब

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bengal news : पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष को नड्डा ने दिल्ली बुलाया
Bengal news : पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष को नड्डा ने दिल्ली बुलाया
File Photo

कोलकाताः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले बाबुल सुप्रियो और देबश्री चौधरी की नाराजगी और बंगाल चुनाव के बाद भारतीय जनता पार्टी में चल रही अनबन की खबरों के बीच प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष को केंद्रीय नेतृत्व ने दिल्ली तलब किया है. प्रदेश भाजपा के सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी.

सूत्रों ने बताया कि बंगाल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष शनिवार की रात को ही दिल्ली रवाना हो जायेंगे. रविवार को दिल्ली में दिलीप घोष की पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के साथ बैठक होनी है. विधानसभा चुनाव के बाद विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने दिल्ली में भाजपा नेतृत्व के साथ बैठक की थी.

अब केंद्रीय नेतृत्व के बुलावे पर दिलीप घोष दिल्ली जा रहे हैं. वहां जेपी नड्डा सहित पार्टी के अन्य वरिष्ठ केंद्रीय नेताओं के साथ उनकी बैठक हो सकती है. सूत्रों का यह भी कहना है कि केंद्रीय नेतृत्व ने तीन कारणों से दिलीप घोष को दिल्ली बुलाया है.

चुनाव के बाद से राज्य में भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न बढ़ गया है. नतीजतन, कई लोग पार्टी से विश्वास खो चुके हैं और तृणमूल में शामिल हो गये हैं. जेपी नड्डा चर्चा कर सकते हैं कि उन सभी कार्यकर्ताओं को वापस कैसे लाया जाये.

पार्टी नेताओं की नाराजगी पर चर्चा कर सकते हैं दिलीप-नड्डा

राजनीतिक जानकारों का यह भी कहना है कि सौमित्र खान, बाबुल सुप्रियो, तथागत रॉय जैसे नेता पार्टी के खिलाफ खुलेआम गुस्से का इजहार कर रहे हैं. ऐसे नेताओं की चिंता दूर करने की रणनीति पर भी चर्चा हो सकती है. केंद्रीय नेता दिलीप घोष से पूछ सकते हैं कि सौमित्र खान और तथागत रॉय जैसे नेता नाराज क्यों हैं.

प्रदेश भाजपा के संगठन में हो सकता है बदलाव

कुछ लोगों का कहना है कि राज्य के चुनावों में अपेक्षित परिणाम नहीं मिलने के कारणों पर भी चर्चा होगी. इसके अलावा राज्य में संगठनात्मक स्तर पर कई बदलाव किये जा सकते हैं. बाबुल सुप्रियो और देबश्री चौधरी को केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा देने के लिए कहा गया था. कहा जा रहा है कि इसके बाद दोनों नाराज हैं. उन्हें मनाने के लिए राज्य समिति में महत्वपूर्ण पद दिया जा सकता है.

पार्टी की आलोचना करने वालों पर हो सकती है कार्रवाई

पिछले दिनों कुछ नेताओं को पार्टी विरोधी लाइन पर बात करते देखा गया है. इनमें सबसे ऊपर राजीव बनर्जी का नाम है. उन्होंने दो-दो बार तृणमूल कांग्रेस के सुर में सुर मिलाते हुए पार्टी विरोधी बयान दिये. सांसद सौमित्र खान ने फेसबुक के जरिये भाजयुमो अध्यक्ष पद से इस्तीफा का एलान कर दिया. जिला में पार्टी लाइन के खिलाफ जाने वाले नेताओं पर प्रदेश भाजपा की अनुशासनात्मक कमेटी ने कार्रवाई की है, लेकिन बड़े नेताओं के खिलाफ एक्शन लेने में प्रदेश नेतृत्व हिचक रहा है.

पार्टी का मानना है कि ऐसे बयानबाजी करने वालों से भाजपा की छवि को गहरा धक्का पहुंच रहा है. ऐसी स्थिति में पार्टी की क्या रणनीति हो, इस बाबत जेपी नड्डा के साथ श्री घोष विस्तृत चर्चा कर सकते हैं. इसके अलावा राजनीतिक हिंसा के संबंध में भी दोनों नेताओं के बीच बातचीत होगी.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें