1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. asansol
  5. west bengal crime news car driver of dhanbad jharkhand shot dead in asansol west bengal know all detail mtj

धनबाद के कार चालक की आसनसोल में गोली मारकर हत्या, शव को बेनाग्राम के पास फेंका

50 बजे मैथन बनियाड टोल प्लाजा को पार कर बंगाल में प्रवेश किया था. बेनाग्राम में शव फेंकने के बाद बदमाश कार से किस तरफ गये...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बेटे ने की शव की शिनाख्त
बेटे ने की शव की शिनाख्त
Prabhat Khabar

आसनसोल/कुल्टी: झाखंड के धनबाद स्टेशन से रविवार रात को कुछ यात्रियों को अपने स्विफ्ट डिजायर कार में लेकर निकले कार चालक विनोद कुमार साव का शव रविवार रात पौने दो बजे नियामतपुर फांड़ी पुलिस ने बरामद किया. बेनाग्राम इलाके में आसनसोल चित्तरंजन मुख्यमार्ग के किनारे खून से लथपथ शव पड़ा था. कनपट्टी पर गोली मारी गयी थी. हत्या करके शव को बेनाग्राम के पास फेंका गया.

लोहे के खंभे से टकराकर गिरा शव

शव फेंकने के क्रम में बेनाग्राम लिखे लोहे के खंभे से टकराया, जिस पर लगा खून का धब्बा पुलिस को मिला है. जांच के क्रम में पाया गया कि विनोद कुमार की कार ने रात 11:50 बजे मैथन बनियाड टोल प्लाजा को पार कर बंगाल में प्रवेश किया था. बेनाग्राम में शव फेंकने के बाद बदमाश कार से किस तरफ गये, इसकी जांच के लिए इलाके में लगे सभी सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को खंगाला जा रहा है.

धनबाद के मटकुरिया का रहने वाला था विनोद कुमार साव

मृतक के पुत्र मनीष कुमार की शिकायत पर कुल्टी थाना में हत्या का मामला दर्ज किया गया है. आसनसोल जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया. बताया गया है कि धनबाद (मटकुरिया) इलाके के रहने वाले कार चालक विनोद कुमार साव का शव रविवार रात को नियामतपुर फांड़ी इलाके में पाया गया. पुलिस को किसी ने सड़क किनारे खून से लथपथ किसी व्यक्ति के पड़े होने की सूचना रात डेढ़ बजे दी.

कार चालक का मोबाइल फोन नहीं मिला

पौने दो बजे पुलिस मौका-ए-वारदात पर पहुंची. शव को कब्जे में लिया. मृतक के पैंट की जेब में एक पर्स था. उसमें पैसे भी थे. मोबाइल फोन नहीं मिला है. वह संभवतः गाड़ी में ही रह गया. पर्स में मृतक के घरवालों के फोन नम्बर और पता मौजूद था. इसी के सहारे बंगाल पुलिस ने धनबाद पुलिस को इसकी सूचना दी.

बेटे ने की मृतक की शिनाख्त

मृतक के पुत्र मनीष कुमार ने बताया कि पिता के साथ रात को बात हुई थी. उन्होंने कहा था कि पैसेंजर लेकर आसनसोल जा रहे हैं. बस इतनी ही बात हुई थी. सुबह स्थानीय पुलिस ने आकर घटना की जानकारी दी. मनीष ने अपने पिता के शव की शिनाख्त की, उसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया.

कार लूटने के लिए हत्या की आशंका

मृतक के परिजनों ने बताया कि उनकी किसी के साथ कोई दुश्मनी नहीं थी. हत्या क्यों हुई, यह उनकी समझ से परे है. स्विफ्ट डिजायर कार ही रोजी रोटी का जरिया था. संभावना यह जतायी जा रही है कार लूटने के लिए यह हत्या हुई होगी. रात 11:50 बजे तक सब कुछ सामान्य था. मैथन टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी फुटेज में कार में चालक की बगल में एक व्यक्ति बैठा हुआ नजर आया है. बताया जा रहा है कि बंगाल में प्रवेश करते ही चालक की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. शव फेंककर कार लेकर लोग निकल गये. पुलिस हत्या के अन्य पहलुओं पर भी जांच कर रही है.

गाड़ी किराया पर लेकर लूटनेवाला गैंग पकड़ाया

गाड़ी किराये पर बुक करके गाड़ी लूटने वाले गिरोह झारखंड में सक्रिय हैं. शनिवार को गिरिडीह (झारखंड) नगर थाना पुलिस ने गाड़ी लूटनेवाले गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया. इसमें चतरा के पत्थलगडा का बीरेंद्र पांडेय और हजारीबाग इचाक दरिया का कुलदीप कुमार मेहता शामिल है. पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह लूटे हुए वाहनों को गिरोह के मास्टरमाइंड हजारीबाग के संतोष को बेचते हैं.

स्विफ्ट डिजायर से होती है अच्छी-खासी कमाई

यहां से गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर बदलकर विभिन्न ग्राहकों को बेच दिया जाता है. स्विफ्ट डिजायर बेचने से अच्छी रकम मिलेगी. बहुत संभव है कि इसी उद्देश्य से कार चालक की हत्या की गयी हो. पुलिस का यह भी मानना है कि गाड़ी में कुछ ऐसा कार्य हुआ है, जिसके गवाह के रूप में चालक को जिंदा छोड़ना नहीं चाहते थे. इस कारण भी हत्या हो सकती है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें