1. home Hindi News
  2. state
  3. weekend and night curfew lifted in punjab schools colleges coaching institutes bars gyms cinema halls restaurants will open but ksl

पंजाब में सप्ताहांत और रात का कर्फ्यू हटा, बंद रहेंगे स्कूल, कॉलेज, बार, जिम, रेस्तरां खुलेंगे, लेकिन...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह
सोशल मीडिया

चंडीगढ़ : पंजाब सरकार ने सप्ताह के अंत और रात में लगनेवाले कर्फ्यू को हटा दिया गया है. साथ ही घर में अधिकतम 100 और बाहर अधिकतम 200 लोगों के जमा होने की अनुमति दी है. इसके अलावा, बार, जिम, सिनेमा हॉल, रेस्तरां, स्पा कर्मचारियों और आगंतुकों के साथ फिर से खुलेंगे, जिन्होंने प्रत्येक कोविड-19 वैक्सीन की कम-से-कम एक खुराक ली है.

जानकारी के मुताबिक, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य की कोविड पॉजिटिविटी दर 0.4 फीसदी तक गिरने के बाद शुक्रवार को सप्ताहांत और रात के कर्फ्यू को हटाने का आदेश दिया. साथ ही सोमवार से 100 लोगों को घर के अंदर और 200 के बाहर इकट्ठा होने की अनुमति दी है. वहीं, डीजीपी दिनकर गुप्ता को रैलियों और विरोध सभाओं के दौरान कोविड नियमों का उल्लंघन करनेवाले सभी राजनीतिक नेताओं का चालान करने के निर्देश दिये.

मुख्यमंत्री ने बार, सिनेमा हॉल, रेस्तरां, स्पा, स्विमिंग पूल, जिम, मॉल, खेल परिसर, संग्रहालय, चिड़ियाघर आदि खोलने का भी आदेश दिया. हालांकि, इसके लिए सभी कर्मियों, सदस्यों और आगंतुकों को वैक्सीन की कम-से-कम एक खुराक लेना अनिवार्य किया गया है.

पंजाब में स्कूल अभी बंद रहेंगे. कॉलेज, कोचिंग सेंटर और उच्च शिक्षा के अन्य सभी संस्थानों को उपायुक्त द्वारा खोलने की अनुमति दी जायेगी. इसके लिए सभी शिक्षण, गैर-शिक्षण कर्मियों और छात्रों को एक प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा, जिसमें कम-से-कम दो सप्ताह पहले वैक्सीन की कम-से-कम एक खुराक ली हो.

प्रदेश में कोविड की स्थिति की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 20 जुलाई को फिर से स्थिति की समीक्षा की जायेगी. मुख्यमंत्री ने प्रतिबंधों में ढील देने की घोषणा करते हुए निर्देश दिया कि हर समय मास्क का सख्त उपयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए.

स्वास्थ्य सचिव हुसैन लाल ने कहा कि चार जिलों में एक या एक फीसदी से कम सकारात्मकता दर रही है. लेकिन, जिन जिलों में अब भी सतर्कता की जरूरत है, वे हैं लुधियाना, अमृतसर, गुरदासपुर, होशियारपुर, फिरोजपुर और रूप नगर.

मुख्यमंत्री ने बताया कि आठ जुलाई तक प्रदेश में म्यूकोर्मिकोसिस के मरीजों की संख्या 623 रही. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से ऐसे मरीजों के उपचार में सहायता देने और सहायता के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा. मालूम हो कि 623 मामलों में से 67 राज्य के बाहर के हैं. स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि 337 मरीजों का इलाज चल रहा था. वहीं, 154 को छुट्टी दे दी गयी थी. जबकि, 51 मरीजों की मौत हो गयी थी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि लागू एसओपी, कोविड के स्तर और कोविड के बाद की देखभाल के कारण, पंजाब में हरियाणा और दिल्ली सहित अन्य राज्यों की तुलना में बहुत कम मामले और मौतें हुई हैं. पंजाब में अब तक 623 मामलों और 51 पुष्ट मौतों के मुकाबले, हरियाणा और दिल्ली दोनों में क्रमशः 1600 से अधिक मामले और क्रमशः 193 और 236 मौतें हुई हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें