1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. lucknow
  5. ballia firing case karni sena comes in support of bjp mla surendra singh main accused sent to 14 day judicial custody rjh

बलिया गोलीकांड : भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह को मिला करणी सेना का साथ, मुख्‍य आरोपी 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेजा गया

By Agency
Updated Date
BJP MLA Surendra Singh
BJP MLA Surendra Singh
Photo : Twitter

बलिया/लखनऊ (उप्र) : बलिया जिले के रेवती इलाके में हाल में हुए गोलीकांड में आरोपी पक्ष के साथ खड़े दिख रहे भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह को करणी सेना का साथ मिल गया है. करणी सेना ने ऐलान किया है कि वह इस मामले में बैरिया से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह के साथ है और पुलिस इस मामले में एकतरफा कार्रवाई कर रही है.

करणी सेना के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष ध्रुव कुमार सिंह ने सोमवार को दावा किया कि बलिया के रेवती इलाके में हाल में राशन की दुकान के आवंटन के दौरान कथित पीड़ित पक्ष ने आरोपी धीरेंद्र के 84 वर्षीय पिता और अन्य परिजन से मारपीट की थी. ऐसी स्थिति में आत्मरक्षा में गोली चलाई गई. उन्होंने कहा कि यह सही है कि धीरेंद्र ने अपराध किया है लेकिन उसे ऐसा करने के लिए मजबूर करने वाले लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए.

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह भी यही कह रहे हैं और करणी सेना उनका समर्थन करती है. सिंह ने कहा कि करणी सेना का एक प्रतिनिधिमंडल बुधवार को बलिया जाकर हालात का जायजा लेगा. इस बीच, गत बृहस्पतिवार को हुए रेवती गोलीकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह को सोमवार को व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के बीच मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी रमेश कुशवाहा की अदालत में पेश किया गया जिसके आदेश पर उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चंद्र दुबे ने कहा कि मुख्‍य आरोपी को एक सप्‍ताह की रिमांड पर लेने की प्रक्रिया शुरू की गई है. उन्होंने बताया कि रेवती कांड में घायल हुए आरोपी पक्ष की तरफ से शिकायत मिलने पर उसकी जांच कर कार्रवाई की जायेगी. आरोपी के वकील हरिवंश सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि धीरेंद्र की ओर से अभी जमानत अर्जी दाखिल नहीं की गयी है. राजधानी लखनऊ में रविवार को गिरफ्तार किये गये मुख्य आरोपी और बलिया के स्थानीय भाजपा नेता धीरेंद्र प्रताप सिंह ने इससे पहले पुलिस पूछताछ में बताया कि उसने गोली आत्मरक्षा में चलाई थी.

आवंटन के दौरान बवाल की शुरुआत दूसरे पक्ष ने की थी. बलिया कोतवाली प्रभारी विपिन सिंह ने बताया कि पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चन्द्र दुबे ने धीरेंद्र प्रताप सिंह से तकरीबन एक घंटे तक पूछताछ की जिसमें उसने रेवती में हुई घटना का ब्यौरा दिया. उधर, इस मामले में आरोपी पक्ष के साथ खुलकर सामने आए भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने धीरेंद्र का बचाव करते हुए सोमवार को दावा किया ''धीरेंद्र भाजपा के लिए अपना प्राण न्‍यौछावर करने वाला कार्यकर्ता है.

पार्टी संगठन और प्रशासन की ‘एकपक्षीय कार्रवाई से' व्यथित होकर पार्टी के तकरीबन पांच सौ पदाधिकारी व कार्यकर्ता भाजपा से इस्तीफा देने की तैयारी में हैं." उन्होंने कहा कि वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर इस विषय पर अपना पक्ष रखेंगे. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री से घटना की निष्पक्ष जांच कराने का अनुरोध किया जाएगा. बलिया से भाजपा सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने घटना को दुखद करार देते हुए कहा कि इस मामले में एक तरफ से मुकदमा दर्ज हो गया है .

दूसरे पक्ष की तरफ से शिकायत मिलने के बाद इस पर कार्रवाई होगी. गौरतलब है कि जिले के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर ग्राम में बृहस्पतिवार को सरकारी सस्ते गल्ले के दुकान के आवंटन के दौरान गोली चलने से जयप्रकाश पाल नामक व्यक्ति की मौत हो गयी थी तथा कई लोग घायल हो गये थे. राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने मामले के मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह को रविवार को लखनऊ में गिरफ्तार किया था. इस मामले को लेकर समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी ने सरकार पर निशाना साधा था.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें